1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. for matric scholarship 30 thousand applications submitted in gumla only 610 students open account smj

मैट्रिक स्कॉलरशिप के लिए गुमला में 30 हजार आवेदन हुए जमा, पर मात्र 610 स्टूडेंट्स का ही खुला अकाउंट

गुमला डीसी ने मैट्रिक की छात्रवृत्ति के जिला स्तरीय समिति की समीक्षा बैठक की. इस बैठक में जिले के विभिन्न विद्यालयों से करीब 30 हजार आवेदन आने और उसमें से मात्र 610 स्टूडेंट्स का ही अकाउंट खुलने पर असंतोष जताया. उन्होंने अधिकारियों को कई दिशा-निर्देश भी दिये.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Jharkhand news: मैट्रिक स्कॉलरशिप के जिला स्तरीय समिति की समीक्षा बैठक करते गुमला डीसी.
Jharkhand news: मैट्रिक स्कॉलरशिप के जिला स्तरीय समिति की समीक्षा बैठक करते गुमला डीसी.
प्रभात खबर.

Jharkhand news: प्री मैट्रिक एवं पोस्ट मैट्रिक की छात्रवृत्ति के जिला स्तरीय समिति की समीक्षा बैठक मंगलवार को आईटीडीए भवन सभागार, गुमला में हुई. अध्यक्षता गुमला डीसी शिशिर कुमार सिन्हा ने की. बैठक में डीसी ने वित्तीय वर्ष 2021-22 में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों को प्री मैट्रिक छात्रवृत्ति का लाभ दिलाये जाने के संबंध में छात्रवृत्ति के अद्यतन स्थिति की समीक्षा की.

30 हजार आवेदन आये

इस समीक्षा बैठक में डीसी ने पाया कि गुमला जिला अंतर्गत विभिन्न विद्यालयों से लगभग 30 हजार आवेदन बैंक खाता खोलने के लिए जिले के विभिन्न बैंकों में जमा किया गया है. जिसमें से मात्र 610 बैंक खाते ही खोले गये हैं. वहीं, प्री मैट्रिक छात्रवृत्ति के 43 हजार बैंक खाते खोले गये हैं. इस पर डीसी ने बैंक खाते खोले जाने की स्थिति असंतोषजनक पाये जाने पर जिला कल्याण पदाधिकारी (डीडब्ल्यूओ) को प्रखंड कल्याण पदाधिकारियों (बीडब्ल्यूओ) के साथ आपसी समन्वय स्थापित करते हुए उन्हें स्वयं बच्चों के बैंक खाते खुलवाने निर्देश दिया तथा प्रखंड कल्याण पदाधिकारियों द्वारा कार्य के प्रति शिथिलता बरते जाने पर आवश्यक कार्रवाई करने का भी निर्देश दिया.

पोस्ट मैट्रिक की छात्रवृत्ति के आवेदनों पर चर्चा

वहीं, लंबित एमपीसीआई मैपिंग के विषय में बैंकों से समन्वय स्थापित कर मैपिंग का कार्य पूर्ण करवाने एवं छात्रवृत्ति को गंभीरता से लेने पर बल देते हुए स्थिति में सुधार लाने का निर्देश दिया. वित्तीय वर्ष 2021-22 में पोस्ट मैट्रिक की छात्रवृत्ति वितरण के लिए प्राप्त आवेदनों पर चर्चा किया गया.

44 शिक्षण संस्थानों से प्राप्त हुए आवेदन

बताया गया कि वित्तीय वर्ष 2021-22 में छात्रवृत्ति के लिए जिले के 44 शिक्षण संस्थानों से आवेदन प्राप्त किया गया है. जिसमें से 39 संस्थानों को जांचोंपरांत सरकार द्वारा निर्धारित मापदंडों के आधार पर सही पाया गया. जांच में सभी चीजें सही पाये जाने के बाद छात्रवृत्ति की स्वीकृति प्रदान किया गया है. वहीं, शेष शिक्षण संस्थानों की भी जांच की गयी है. जिसमें गुमला प्राईवेट आईटीआई डुमरडीह गुमला, संत अन्ना बालिका इंटर कॉलेज चैनपुर, संत पात्रिक इंटर कॉलेज गुमला तथा इंटर महिला कॉलेज गुमला की मान्यता की जांच एवं सत्यापन करते हुए सही पाया गया है.

बैठक में इनकी रही उपस्थिति

इस पर डीसी ने आईटीडीए के परियोजना निदेशक को अपने स्तर से शेष शिक्षण संस्थानों की मान्यता सहित उक्त संस्थान सरकार द्वारा निर्धारित मापदंडों की पूर्ति करते हैं अथवा नहीं की जांच सुनिश्चित करने का निर्देश दिया. बैठक में आटीडीए परियोजना निदेशक इंदु गुप्ता, जिला शिक्षा पदाधिकारी सह जिला शिक्षा अधीक्षक सुरेंद्र पांडेय, जिला कल्याण पदाधिकारी अजय जेराल्ड मिंज, जिला श्रम प्रवर्त्तन पदाधिकारी, जिला सूचना पदाधिकारी (एनआईसी) हरेंद्र सिंह, कार्तिक उरांव महाविद्यालय के प्राचार्य औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के प्रतिनिधि व अन्य उपस्थित थे.

रिपोर्ट : जगरनाथ, गुमला.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें