1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. crime news korba tribe farmer found dead body in gumla know who opened the secret of murder smj

Gumla Crime News: गुमला में कोरवा जनजाति किसान का मिला शव, जानें किसने खोले हत्या का राज

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Gumla Crime News : नाला से कोरवा जनजाति किसान का शव निकालने जाते पुलिस कर्मी व अन्य.
Gumla Crime News : नाला से कोरवा जनजाति किसान का शव निकालने जाते पुलिस कर्मी व अन्य.
प्रभात खबर.

Crime News, Jharkhand News, Gumla Crime News, गुमला (जयकरण महतो) : गुमला जिला अंतर्गत अलबर्ट एक्का जारी थाना स्थित गुर्दाकोना गांव के किसान नेहरू कोरवा (50 वर्ष) की हत्या कर उसके शव को धोबारी उरईकोना पहाड़ के नीचे बेड़ा नाला में गाड़ दिया गया था. हत्या सोमवार की शाम की हुई थी. बुधवार की सुबह को पुलिस ने हत्या के आरोप में गांव के 2 युवक रमेश कोरवा (22 वर्ष) और जगदीश कोरवा (19 वर्ष) को गिरफ्तार किया. पुलिस की पूछताछ में दोनों आरोपियों ने कई राज खोले हैं.

गिरफ्तार आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने नेहरू कोरवा का शव उरईकोना पहाड़ के नीचे बेड़ा नाला से बरामद किया है. साथ ही हत्या में प्रयुक्त टांगी भी बरामद किया है. आरोपियों ने पुलिस को बताया है कि खाने- पीने के बाद नेहरू की टांगी से काटकर हत्या कर दी और शव को छिपाने के मकसद से नाला में गाड़ दिया था. गुमला में कोरवा जनजाति किसान का शव मिलने से जुड़ी हर Breaking News in Hindi से अपडेट के लिए बने रहें हमारे साथ.

Gumla Crime News Update: आपसी विवाद में हुई हत्या

आरोपियों ने पुलिस को बताया है कि कुछ दिनों पूर्व नेहरू कोरवा ने रमेश कोरवा को जान से मारने की धमकी दिया था. इसके बाद से नेहरू की हत्या की योजना रमेश बना रहा था. सोमवार को रमेश अपने दोस्त जगदीश के साथ नेहरू के घर गया और शराब पीने के बहाने घर से बुलाकर ले गया. गुर्दाकोना गांव से कुछ दूरी पर करंज पेड़ के समीप नेहरू की हत्या की गयी. इसके बाद गांव से 2 किमी दूर उरईकोना पहाड़ के नीचे बेड़ा नाला में ले जाकर शव को गाड़ दिया था.

Gumla Crime News: आरोपियों ने खुद खोले राज

थाना प्रभारी नरेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि नेहरू के गायब होने के बाद उसकी खोजबीन की जा रही थी. तभी रमेश ने मंगलवार को वार्ड सदस्य अलेक्सियुस तिर्की को नेहरू कोरवा की हत्या कर शव छिपाने की जानकारी दी. वार्ड सदस्य ने इसकी जानकारी मुखिया मुर्तुजा मियां को दी. मुखिया ने पुलिस को घटना की जानकारी दी. इसके बाद बुधवार की सुबह को पुलिस 5 किमी पैदल चलकर गांव पहुंची और दोनों आरोपियों को पकड़कर पूछताछ की, तो दोनों आरोपियों ने नेहरू की हत्या का राज खोला.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें