1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. coronavirus in jharkhand gumla dc hardened against black marketing of ration during corona infection said action will be taken against the culprits smj

Coronavirus In Jharkhand : कोरोना संक्रमण के दौरान राशन की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त हुए गुमला डीसी, बोले- जिले में ऑक्सीजन की नहीं है कोई

By Prabhat khabar Digital
Updated Date

राशन की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त हुए गुमला डीसी. लोगों से संयम बरतने की अपील.
राशन की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त हुए गुमला डीसी. लोगों से संयम बरतने की अपील.
फाइल फोटो.

Coronavirus In Jharkhand (दुर्जय पासवान, गुमला) : झारखंड के गुमला डीसी शिशिर कुमार सिन्हा ने कहा है कि शब्द में चमत्कार है. इसलिए हम पॉजिटिव सोंचे और बोले. सही शब्दों का प्रयोग करें. कोरोनो महामारी क्या है. यह सभी को पता है. जरूरत है. इससे बचने की. इसे ज्यादा भयावह बनाने से स्वस्थ व्यक्ति भी सोच-सोचकर बीमार हो जायेगा. अगर हम किसी बीमार व्यक्ति को स्वस्थ करना चाहते हैं तो उनसे पॉजिटिव बातें करें. डीसी श्री सिन्हा प्रभात खबर से बात कर रहे थे.

गुमला डीसी शिशिर कुमार सिन्हा ने कहा कि कोरोना संक्रमण की राज्य में जो स्थिति है. उसमें गुमला जिला बेहतर है. कुछ मौतें हुई है, लेकिन इसमें अधिकांश मौतों पर नजर डालेंगे तो वैसे ही मरीजों की मौत हुई है जो पहले से किसी न किसी बीमारी से ग्रसित थे. अभी जरूरी है. हम एक-दूसरे की मदद करें. किसी मुद्दों को ज्यादा पैनिक नहीं बनाये. सरकार काम कर रही है.

उन्होंने कहा कि गुमला प्रशासन भी लोगों की मदद में लगा हुआ है. जहां जरूरत है. हम वहां मदद कर रहे हैं. इसके लिए अधिकारियों का नंबर जारी किया गया है. जिन्हें जरूरत है. वे लोग गुमला के अधिकारियों को फोन कर मदद ले रहे हैं. लोगों से अपील है. आप डरे नहीं. कहीं भी जरूरत पड़े. प्रशासन आपकी मदद के लिए है. बस जरूरत है. समस्या हो तो आप एक कॉल करें. हमारे सभी अधिकारी अलर्ट होकर काम कर रहे हैं. लोगों से मैं कहूंगा. आप भी खुद के बचाव पर ध्यान दें. कोरोना से बचना है तो घर पर रहे. बेवजह न निकले. घर से निकलते हैं तो मास्क जरूर पहने. सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करें.

गुमला में ऑक्सीजन की नहीं है कमी

गुमला डीसी ने कहा कि हमारे जिले में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है. मरीजों से अधिक ऑक्सीजन सिलिंडर है. हर समय सिलिंडर में ऑक्सीजन रहता है. अभी 120 सिलिंडर जिला में है. जिसमें 47 मरीजों को ऑक्सीजन चढ़ाया जा रहा है. अभी भी 73 सिलिंडर है. जिसमें ऑक्सीजन भरा हुआ है और रखा हुआ है. हमारे जिले में 47 गंभीर मरीज है. अगर ये ठीक हो गये तो गुमला की स्थिति सबसे बेहतर होगी. डीसी ने यह भी बताया कि 200 सिलिंडर की व्यवस्था और की जा रही है. तीन चार दिनों में गुमला को 200 पीस ऑक्सीजन सिलिंडर प्राप्त हो जायेगा. गुमला में ऑक्सीजन प्लांट की भी स्थापना की जा रहा है. प्लांट की स्थापना प्रक्रिया में है. पाइप लाइन के माध्यम से ऑक्सीजन मरीजों को मिलेगा. कोविड टेस्ट लैब की स्थापना के लिए प्रस्ताव सरकार को भेजा गया है. यह भी जल्द हो जायेगा.

राशन और तेल की कालाबाजारी पर डीसी सख्त

राशन व तेज को ऊंचे दामों में बेचने के मामले को गुमला डीसी ने गंभीरता से लिया है. उन्होंने कहा है कि कोई भी दुकानदार हो. अगर खाने-पीने की सामग्री व तेल ऊंचे दामों में बेचा जा रहा है, तो कार्रवाई होगी. डीसी ने कहा कि SDO व DSO को इस मामले में जांच करने के लिए कहा गया है. जिससे गलत धंधा करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जा सके.

व्हाट्सअप ग्रुप लोगों को डरा रहा है

गुमला में कई व्हाटसअप ग्रुप है जो भयावह बातों की प्रस्तुति कर लोगों को डरा रहा है. जो स्वस्थ व्यक्ति है. वह भी व्हाट्सअप ग्रुप व सोशल मीडिया में प्रचारित हो रही बातों से डर रहा है और बीमार हो रहा है. गुमला उपायुक्त ने इस मुददे को गंभीरता से लिया है. उन्होंने कहा है कि लोगों को डराने वाले सोशल मीडिया ग्रुप के एडमिन के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी.

डीसी ने लोगों से की अपील

गुमला डीसी ने लोगों से अपील करते हुए कहा है कि जिसके पास ऑक्सीजन सिलिंडर है. वे प्रशासन को जानकारी दें, ताकि सिलिंडर का सदुपयोग हो सके. जब जरूरत पड़ेगी. तब प्रशासन सिलिंडर लेगा. उपयोग करने के लिए ऑक्सीजन भरकर सिलिंडर वापस कर दिया जायेगा. डीसी ने कहा है कि अभी कोरोना की जो स्थिति है. उसमें ऑक्सीजन की बहुत जरूरत है.

घबराये नहीं लोग, गुमला में रेमडेसिविर है

गुमला डीसी ने कहा है कि कुछ लोग बेवजह का डर व अफवाह फैलाते हैं. गुमला में सुविधा नहीं है. मैं स्पष्ट कर दूं. मरीजों के लिए गुमला में कई प्रकार की सुविधा है. रेमडेसिविर दवा भी गुमला में है. ऑक्सीमीटर का टेंडर किया गया है. बहुत जल्द ऑक्सीमीटर की भी खरीद कर ली जायेगी. अगर कहीं ऑक्सीमटर व अन्य सामग्री ऊंचे दामों में बेचा जाता है तो गुप्त सूचना दें. कार्रवाई करेंगे.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें