1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. 252 anganwadi centers in gumla jharkhand dilapidated a big accident can happen anytime lives of villagers with innocent children are at stake this is the plan of the district administration grj

झारखंड के गुमला में 252 आंगनबाड़ी केंद्र जर्जर, कभी भी हो सकता है बड़ा हादसा, जिला प्रशासन का ये है प्लान

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Anganwadi Centers In Jharkhand : जर्जर आंगनबाड़ी केंद्र
Anganwadi Centers In Jharkhand : जर्जर आंगनबाड़ी केंद्र
प्रभात खबर

Anganwadi Centers In Jharkhand, गुमला (दुर्जय पासवान) : झारखंड के गुमला जिले के 252 आंगनबाड़ी केंद्र जर्जर हो गये हैं. कभी भी ये भवन ध्वस्त हो सकते हैं. हालांकि इसमें कई भवन टूटकर गिरने लगे हैं. कुछ भवन खंडहर हो गये हैं. अगर इन 252 केंद्रों को तोड़ा नहीं गया तो कभी भी यह गिर सकता है. जिससे केंद्र के समीप खेलने वाले बच्चे व कभी कभार बैठक करने वाले ग्रामीण घायल हो सकते हैं.

ये सभी केंद्र वर्षों पहले बने थे. कभी इसकी मरम्मत नहीं हुई. न ही रंग रोगन किया गया. जिस कारण भवन जर्जर हो गया और अब गिरने की स्थिति में आ गया है. हालांकि कुछ केंद्र ऐसे भी हैं. जिसका निर्माण आधा अधूरा हुआ. ठेकेदार या संबंधित विभाग द्वारा काम नहीं कराया गया. अधूरा भवन बाद में जर्जर हो गया है. इन 252 आंगनबाड़ी केंद्रों की स्थिति को देखते हुए प्रशासन ने इन्हें ध्वस्त करने की योजना बनायी है. जिससे किसी बड़े हादसे को रोका जा सके. इधर, गुमला के डीडीसी संजय बिहारी अंबष्ठ ने जिला समाज कल्याण पदाधिकारी सीता पुष्पा को भवन निर्माण विभाग से जर्जर भवनों का एनओसी प्राप्त करने का निर्देश दिया है. जिससे सभी भवनों को समय पर तोड़ा जा सके.

गुमला जिले के इन केंद्रों को तोड़ना है

सिसई प्रखंड के आंगनबाड़ी केंद्र

मुरगू पश्चिम, चेगरी कुंबाटोली, लावागाई, चेगरी, गढ़ावली, निजमा, सेलाटोली, मादा, बरटोली, सोंगरा, रेड़वा, लमकी, गोकुलपुर, सुरसा-2, दसईटोली, सिसई बाजार टाड़, सकरौली, दारी, भदौली-1, भूरसो, जामगाई, शिवनाथपुर, लठदाग, मंगलो, मुरगू पश्चिमी करंजटोली, बरगांव करंजटोली, सिसकारी, दहीदोन, हेसागुटू, साहिजाना पुतरीटोली, लोहंजारा, अरको गांव का आंगनबाड़ी केंद्र ध्वस्त होगा.

घाघरा प्रखंड के आंगनबाड़ी केंद्र

बनसरी गांव, हुटार, नवडीहा मुख्य, पीठबर टोली, गोमट, सरांगो पोखराटोली, कुगांव, मलगो, बड़ा अजियातू, इंचा, चुंदरी, टांगर सिकवार, माइल, गुटवा, पतागाई, जरांगटोली, गुनिया, कुर्राग, हापामुनी, चामा, नाथपुर, बड़काडीह, निधियाटोली, शिवराजपुर नीचे, बहादुरा, दोदांग, मुख्य अरंगी, सिकवार, चपका, गम्हरिया, बाराडीह, नवाटोली, तारागुटू, चढेया, सांसो, बाडोटोली, सिरकोट गांव के आंगनबाड़ी केंद्र ध्वस्त होगा.

कामडारा प्रखंड के आंगनबाड़ी केंद्र

पोकला, कामडारा मिशनटोली, रायबा बरटोली, बोंगदा, सुरहू खास, बिकमा, सुरहा बड़काटोली, कोटबो, कोनसा, सरिता 2, सरिता हरताटोली, गरई 1, मुरुमकेला मिलगा टोली, लतरा खास, कोंडेकेरा, इचागुटू, नरसिंहपुर खस, पाकुट, रामतोल्या खास, बानपुर गांव के आंगनबाड़ी केंद्र को ध्वस्त किया जायेगा.

बसिया प्रखंड के आंगनबाड़ी केंद्र

रायकेरा, केदली, साकेया, ससिया, कोनबीर, लौवाकेरा, सारूबेड़ा, तुरबुंगा, बम्बियारी, बोंगालोया, ओकबा, तेतरा, ओकबा तेतरटोली, कुम्हारी, कापरी, बरई, क्योंझटोली गांव का आंगनबाड़ी केंद्र ध्वस्त होगा.

भरनो प्रखंड के आंगनबाड़ी केंद्र

पोखरटोली, बुढ़ीपाट, टेटेंगाटोली, लेकोटोली, जिरहुल 1, डुड़िया, दतिया, परवल, सुपा 1, पबेया, बरंदा, डाड़केशा अंबाटोली, तुरीअंबा 1, पंडामसिया, चेटो, नगड़ी, जुरा, भड़गांव 1, मलगो बरटोली, मोरगांव, अताकोरा तेतरटोली, अलगोड़ी बघियाटोली, चितागुटू, कनरोवा, ओमेसेरा, सिंगरौली खटको, बोडोटोली, कुम्हरो 1 गांव का केंद्र को तोड़ा जायेगा.

बिशुनपुर प्रखंड के आंगनबाड़ी केंद्र

टिटही, लापू, हपाद, बेथड, बनालात, घाघरा, कटिया, गोबरसेला, बेती, चोरकाखाड़, जोभीपाट, नरमा, जाहूप, समदरी, अंकुरी, अरंगलोया, लोदापाठ, गोरापहाड़, चंपाटोली, देवरागानी, सखुवापानी, अंबाकोना, जेहन, सातो, मंजिरा, जालिम, केचकी, भीतर सेरका गांव के केंद्र को तोड़ा जायेगा.

रायडीह प्रखंड के आंगनबाड़ी केंद्र

कांसीर 1, मुरुमकेला, रघुनाथपुर, पीबो 1, जरजटटा, मसगांव, कांसीर 3, अरंडा, रमजा, काटासारू, केराडीह, खुरसुता, टुडुरमा, जमगाई, सलकाया 2, मरियमटोली, मसगांव जामटोली, मुरुमकेला, जरजटटा, काटासारू गांव का केंद्र तोड़ा जायेगा.

डुमरी प्रखंड के आंगनबाड़ी केंद्र

करमटोली, बघमरिया, शंखसरडीह, कटाईटोली, बेलटोली, डुमरी 1, दीना, साखू, डुमरी 1, आनाबिरी, गालूडुलू सरना, कुटाप, उदनी 1, उदनी 2, कोकावल, औरापाठ, अकासी 1, अकासी 2, एकंबा, मझगांव, कोठी 1, कोठी 2, डांडटोली, महुआडीह, बंदुवा, लुचुतपाठ, पुरानी टाटी, बीरगांव, करनी, कंडरवानी, चिरैया, सुवाली, शंखपुर, अस्ता, बेलगांव का आंगनबाड़ी केंद्र को ध्वस्त किया जायेगा.

चैनपुर प्रखंड के आंगनबाड़ी केंद्र

जमगई, रातू जामटोली, छिछवानी 1, सुखड़ी, थाना दरगांव, लुरू, नंदावल, कातिंग, सेमला, बारडीह, कोचागानी, कुकरूंजा, उरू, रोघाडीह, चैनपुर पश्चिमी, कोनकेल, भठौली, रामपुर, बुकमा, हर्राडीपा, रैनटोली, लालगंज, टीनटांगर गांव के केंद्र को तोड़ा जायेगा.

गुमला सदर के आंगनबाड़ी केंद्र

आंजन कांसीटोली, कुल्ही बेहराटोली, जोराग खास, तेलगांव पूर्वी, मोकरो खास, सीसी 1, उर्मी डांडटोली के केंद्र को तोड़ा जायेगा.

पालकोट प्रखंड के केंद्र का नाम

बंगरू खास, अलंकेरा, करौंदाबेड़ा, बघिमा अंबाटोली, जलडेगा गांव के आंगनबाड़ी केंद्र को तोड़ा जायेगा.

गुमला के उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा ने बताया कि गुमला जिले के 252 आंगनबाड़ी केंद्र जो पूर्णतः जर्जर हो गये हैं. उन भवनों को ध्वस्त किये जाने की आवश्यकता है. ध्वस्त करने के बाद उन स्थानों पर मनरेगा से आंगनबाड़ी केंद्र का निर्माण करने की योजना है.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें