22.1 C
Ranchi
Wednesday, February 21, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeझारखण्डगोड्डाझारखंड: सीएम हेमंत सोरेन ने गोड्डा को 441 करोड़ की दी सौगात, बोले-आठ लाख गरीबों को देंगे अबुआ आवास

झारखंड: सीएम हेमंत सोरेन ने गोड्डा को 441 करोड़ की दी सौगात, बोले-आठ लाख गरीबों को देंगे अबुआ आवास

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि आपकी योजना, आपकी सरकार, आपके द्वार कार्यक्रम के माध्यम से राज्य सरकार गांव-पंचायत पहुंच कर लोगों को उनका हक-अधिकार देने का कार्य कर रही है. पिछले दो साल में लाखों आवेदन हमें शिविर के माध्यम से प्राप्त हुए.

गोड्डा: सीएम हेमंत सोरेन ने गोड्डा जिला स्थित मुंदर कोठी स्टेडियम में आयोजित आपकी योजना, आपकी सरकार, आपके द्वार अभियान के तीसरे चरण के अंतर्गत आयोजित कार्यक्रम में करीब 441.06 करोड़ रुपए की 217 योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास किया. इस दौरान 181303 लाभुकों के बीच लगभग 300 करोड़ 96 लाख रुपए की परिसंपत्ति बांटी. उन्होंने कहा कि आमजन की आवश्यकता के अनुरूप योजनाएं बना रहे हैं. सर्वजन पेंशन योजना लागू करने के मामले में झारखंड देश का पहला राज्य है. राज्य के 8 लाख से अधिक वंचित परिवारों को अबुआ आवास योजना का लाभ दिया जाएगा. वर्तमान में हमारी सरकार जो योजनाएं बना रही है, ये योजनाएं आपकी योजन, आपकी सरकार, आपके द्वार कार्यक्रम के माध्यम से प्राप्त हुए आवेदनों के आकलन के बाद ही तैयार की जाती है. झारखंड की आत्मा गांव में बसती है. जब तक गांव मजबूत नहीं होगा, तब तक राज्य मजबूत नहीं होगा. झारखंड की जड़ कैसे मजबूत हो. इस पर हमारी सरकार गंभीरता के साथ कार्य कर रही है, ताकि आने वाली पीढ़ी को इसका फल मिल सके.

सर्वजन पेंशन लागू करने के मामले में झारखंड देश का पहला राज्य

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि आपकी योजना, आपकी सरकार, आपके द्वार कार्यक्रम के माध्यम से राज्य सरकार गांव-पंचायत पहुंच कर लोगों को उनका हक-अधिकार देने का कार्य कर रही है. पिछले दो साल में लाखों आवेदन हमें शिविर के माध्यम से प्राप्त हुए. कई तरह की समस्याएं सामने आईं. प्राप्त आवेदनों के निराकरण के लिए चरणबद्ध तरीके से सूची तैयार की गई. उसका परिणाम यह हुआ कि सबसे पहले हमारी सरकार ने राज्य के बुजुर्गों, दिव्यांगों, विधवा माताओं-बहनों सहित सभी जरूरतमंदों के प्रति सरकार ने संवेदना दिखाते हुए राज्य में सर्वजन पेंशन योजना लागू की. सर्वजन पेंशन योजना लागू करने वाला झारखंड देश का पहला राज्य है. सभी जरूरतमंदों को सामाजिक सुरक्षा के दायरे में लाते हुए ससमय राज्य सरकार पेंशन उपलब्ध करा रही है. मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्ववर्ती सरकारों ने इन सभी जरूरतमंद वर्ग को बिचौलियों के चक्कर में फंसने को मजबूर कर दिया था. अब सामाजिक सुरक्षा के दायरे में आने वाले पात्र लोगों को पेंशन के लिए विभिन्न कार्यालयों चक्कर नहीं काटना पड़ रहा है. अब उन्हें किसी के पास जाने की जरूरत नहीं है. हमने बुजुर्गों को सहारा दिया है. उनके हाथों में लाठी दी है. झारखंड जैसा पिछड़ा राज्य अब सभी पात्र लाभुकों को एक हजार रुपए पेंशन दे रहा है.

Also Read: झारखंड: सीएम हेमंत सोरेन ने 348 करोड़ की दी सौगात, बोले-आठ लाख गरीबों के आशियाने का सपना पूरा करेगी अबुआ सरकार

8 लाख वंचित परिवारों को देंगे अबुआ आवास योजना का लाभ

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि झारखंड 23 वर्ष का हो गया है. यह राज्य अब युवावस्था में आ गया है, लेकिन पूर्ववर्ती सरकारों ने इस राज्य को दिशा देने का काम तो किया नहीं, बल्कि इसे खोखला करते रहे. राज्य के सरकारी कर्मचारी, अनुबंधकर्मी की जिम्मेवारी थी जनता की सेवा करना. सरकार कर्मचारियों को पैसा जनता की सेवा के लिए देती है, लेकिन पूर्ववर्ती सरकार, डबल इंजन की सरकार ने उन कर्मचारियों को आपकी सेवा के लिए नहीं अपनी सेवा में लोगों को लगा दिया. नतीजा है कि वर्तमान में लाखों की संख्या में समस्याओं के आवेदन हमें आज शिविरों में प्राप्त हो रहे हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने 2022 तक सभी गरीबों को आवास देने की बात कही थी. केन्द्र सरकार को मालूम है कि इस राज्य में गरीबों की संख्या अधिक है. हमारी सरकार गरीबों को आवास उपलब्ध कराने के लिए कई कई बार केंद्र सरकार से समन्वय बनाने का प्रयास किया, लेकिन उन्होंने हमारी बात अनसुनी कर दी, लेकिन राज्य सरकार ने अपने दम पर 8 लाख गरीब परिवारों को आवास देने का लक्ष्य तय किया है. इस निमित्त अबुआ आवास योजना लागू की गई है. इस योजना के तहत तीन कमरों का सुसज्जित आवास गरीबों को दिया जाएगा. अगर 8 लाख से अधिक आवास की आवश्यकता हुई तो चरणबद्ध तरीके से आवास उपलब्ध कराया जाएगा.

Also Read: झारखंड: आदिवासी छात्र अजय हेंब्रम का लंदन की यूनिवर्सिटी में शानदार प्रदर्शन, सीएम हेमंत सोरेन ने बढ़ाया हौसला

एसटी/एससी सहित सभी वर्ग के युवाओं को दे रहे हैं मौका

मुख्यमंत्री ने कहा कि अब सुदूरवर्ती तथा पहाड़ी ग्रामीण क्षेत्रों में निवास करने वाले एसटी/एससी सहित सभी वर्ग के युवाओं को भी प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी के लिए निःशुल्क कोचिंग दी जा रही है, ताकि वे भी अधिकारी बन राज्य की सेवा कर सकें. मुख्यमंत्री ने कहा कि गोड्डा जिला अंतर्गत करीब 800 किमी सड़क का निर्माण हो रहा है. मुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे सूचना मिली कि सड़क निर्माण में गुणवत्ता से समझौता किया जा रहा है. जिला प्रशासन इस पर नजर रखें. खराब कार्य करने वाले संवेदकों को ब्लैकलिस्टेड करें. आपके चेहरे के मुस्कान देख आपके बीच आकर हम खड़े हुए हैं. हम लोग झूठा प्रचार करने पर विश्वास नहीं करते हैं. हम लोग जो कहते हैं, उसे करके दिखाते हैं.

Also Read: झारखंड: सीएम हेमंत सोरेन ने बीजेपी पर साधा निशाना, बोले-20 साल शासन कर बना दिया पिछड़ा, हम मिटाएंगे कलंक

परिवार की सभी बेटियों को मिलेगा सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का लाभ

मुख्यमंत्री ने कहा कि सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना से राज्य की 8 लाख बच्चियों को योजना से जोड़ा गया है. परिवार की दो बेटियों को योजना का लाभ देने की बाध्यता समाप्त कर दी गई है. परिवार की सभी बेटियों को योजना का लाभ मिलेगा. पढ़ाई से कोई भी बच्ची वंचित न रहे इस निमित्त हमारी सरकार कृत संकल्पित है. मुख्यमंत्री ने कहा कि गोड्डा जिला के युवक-युवतियां खिलाड़ियों की खेल में गतिविधि बढ़ी है. यह सुखद है. राज्य खेल को लेकर अलग पहचान बना सकता है, लेकिन 20 वर्ष तक इसको लेकर गंभीरता नहीं दिखाई गई. वर्तमान में गांव-गांव खेल के मैदान का निर्माण किया जा रहा है. बेहतर प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को अब सरकार सम्मानित भी कर रही है. राज्य के ग्रामीणों को अब मुख्यमंत्री ग्राम गाड़ी योजना का लाभ मिल सकेगा. इस योजना के तहत ट्रांसपोर्टर को राज्य सरकार आर्थिक सहायता भी देगी. यह योजना जल्द शुरू होने वाली है, जिससे यहां के आंदोलनकारी, बुजुर्ग, महिला, छात्र-छात्राएं निःशुल्क बस में सफर कर सकेंगे.

Also Read: झारखंड: गिरिडीह को 335 करोड़ की सौगात, सीएम हेमंत सोरेन ने केंद्र सरकार से मांगा एक लाख 36 हजार करोड़ बकाया

गोड्डावासियों को सीएम की सौगात

मुख्यमंत्री ने लगभग 441.06 करोड़ रुपए की 217 योजनाओं का तोहफा दिया. मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर 441.06 करोड़ रुपए की 217 योजना की सौगात गोड्डावासियों को दी. इसमें 6 करोड़ 96 लाख रुपए की 02 योजनाओं का उद्घाटन और 133 करोड़ 34 लाख रुपए की 215 योजनाओं की नींव रखी गई. मुख्यमंत्री ने विभिन्न योजनाओं के 181303 लाभुकों को सशक्त और स्वावलंबी बनाने के लिए उनके बीच लगभग 300 करोड़ 96 लाख रुपए की परिसंपत्ति बांटी. इस अवसर पर मंत्री आलमगीर आलम, मंत्री सत्यानंद भोक्ता , सांसद विजय हांसदा, पोड़ैयाहाट विधायक प्रदीप यादव, महगामा विधायक दीपिका पांडेय सिंह, जिला परिषद अध्यक्षा बेबी देवी, बीस सूत्री उपाध्यक्ष बिंदु मंडल, मुख्यमंत्री के सचिव विनय कुमार चौबे, संथाल परगना प्रमंडल के आयुक्त लालचंद दादेल और उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद थे.

Also Read: झारखंड: कांग्रेस सांसद धीरज साहू के खिलाफ FIR दर्ज कर हो पूछताछ, कैश बरामदगी मामले में बोले बाबूलाल मरांडी

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें