1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. giridih
  5. in the 25 panchayats of bengabad 35 self help groups are operating in 107 public distribution system shops operated to supply food grains to the villagers

बेंगाबाद के 81 डीलरों के गोदाम तक पहुंचा दो माह का खाद्यान्न

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बेंगाबाद के 81 डीलरों के गोदाम तक पहुंचा दो माह का खाद्यान्न
बेंगाबाद के 81 डीलरों के गोदाम तक पहुंचा दो माह का खाद्यान्न

बेंगाबाद : बेंगाबाद की 25 पंचायतों में ग्रामीणों को खाद्यान्न आपूर्ति के लिए संचालित 107 जनवितरण प्रणाली की दुकानों में 35 का संचालन स्वयं सहायता समूह की महिलाएं कर रही हैं. मार्च समाप्त होने के साथ ही दुकानदारों ने 7300 क्विंटल राशन का वितरण का कार्य भी पूरा कर लिया है. कोरोना संकट के कारण सरकार वितरण के लिए अप्रैल और मई माह के अनाज का आवंटन एक साथ डीलरों को उपलब्ध करा रही है. यह जानकारी देते हुए एजीएम पवन वर्मा ने बताया कि अप्रैल-मई का अनाज बेंगाबाद के 107 में से 81 डीलरों तक पहुंचा दिया गया है. शेष डीलरों के पास शनिवार तक राशन उपलब्ध करा दिया जायेगा. बताया कि बेंगाबाद के बदवारा, भलकुदर, लुप्पी, गेनरो, झलकडीहा, जरुआडीह और महुआर पंचायतों के डीलर के पास अभी अनाज नहीं पहुंचा है. कहा कि उठाव किये गये अनाज का वितरण भी डीलर कर रहे हैं. बताया कि अंत्योदय योजना के तहत कार्डधारी को निर्धारित 35 किलो, जबकि पीएच कार्डधारी को प्रति यूनिट पांच किलो राशन दिया जाता है.

बेंगाबाद चौक पर संचालित पीडीएस दुकान के संचालक विद्याभूषण राम और फिटकोरिया पंचायत के छछन्दो के डीलर रामरतन राम ने बताया कि मार्च माह का अनाज का वितरण संपन्न कर दिया गया है. अप्रैल और मई माह का अनाज भी उपलब्ध हो गया है जिसे लगभग 80 प्रतिशत से अधिक वितरण किया जा चुका है. कहा कि एक से दो दिन के अंदर सभी कार्डधारियों को अनाज वितरण का कार्य पूर्ण कर लिया जायेगा. अंत्योदय कार्डधारी द्रौपदी देवी, दुलारी देवी, गीता देवी, चिंता देवी, डेगनी देवी आदि का कहना है कि बेंगाबाद के डीलर ने दो माह का अनाज के रूप में 70 किलो अनाज का दिया है. जबकि पीएच कार्डधारी गौरी देवी, गुलबी देवी, गुड़िया देवी आदि का कहना है कि अबतक एक माह का ही अनाज मिल रहा था. अब एक साथ दो माह का अनाज मिला है. रोजी रोजगार के संकट में दो माह का अनाज एक साथ मिलने से काफी सहुलियत होगी. इधर कार्ड के लिए मधवाडीह पंचायत के जाम्बाद निवासी पिंकी और प्रमिला देवी ने वर्ष 2017 में ही आवेदन किया था, लेकिन अबतक कार्ड नहीं मिल पाया है. कहा कि कार्ड के अभाव में राशन भी नहीं रहा है. इसी तरह घुठिया के मुंडल तुरी, धनेश तुरी, माजरा खातून सहित अन्य ने बताया कि उनके पास कोई कार्ड नहीं है. राशन नहीं मिल रहा है. मुखिया के स्तर से भी पहल नहीं की गयी है.

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें