28.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Crime News: झारखंड में मंजय शर्मा हत्याकांड का खुलासा, दंपती अरेस्ट, छेड़खानी से तंग आकर रची थी हत्या की साजिश

Crime News: मंजय शर्मा हत्याकांड की गुत्थी सुलझ गयी है. गिरिडीह पुलिस ने हत्याकांड के मास्टरमाइंड दंपती को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. छेड़खानी से तंग आकर महिला ने पति के साथ हत्या की साजिश रची थी.

Crime News: गिरिडीह, मृणाल कुमार: झारखंड के गिरिडीह जिले में मंजय शर्मा की हत्या की साजिश का खुलासा हो गया है. पुलिस ने बताया है कि पति-पत्नी ने मिलकर मंजय शर्मा की हत्या की साजिश रची थी. पहले कुल्हाड़ी से वार कर उसकी हत्या की गयी और बाद में बोरे में बांधकर शव को फेंक दिया. पुलिस ने आरोपी दंपती को गिरफ्तार कर लिया है. हत्या में इस्तेमाल कुल्हाड़ी भी बरामद कर ली गयी है. इस आशय की जानकारी एसपी दीपक कुमार शर्मा ने सोमवार को दी.

मंजय शर्मा हत्याकांड की गुत्थी सुलझी
डुमरी थाना की पुलिस ने मंजय शर्मा हत्याकांड की गुत्थी को दो दिन के भीतर सुलझा ली है. पुलिस ने कहा है कि हत्याकांड के मास्टरमाइंड दंपती (पति-पत्नी ) को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है. पुलिस ने जिन दो हत्यारोपियों को गिरफ्तार किया है, उनमें मधुबन थाना क्षेत्र के बिरनगड्डा निवासी खेमलाल महतो और उसकी पत्नी अंजू देवी शामिल हैं.

Double murder in Deoghar: दंपती की हत्या के बाद घर में ही छिप गया आरोपी, गिरफ्तार

कुल्हाड़ी समेत कई सामान बरामद
पुलिस ने आरोपियों के पास से हत्या में इस्तेमाल की गई कुल्हाड़ी, लाठी, लोहे की चेन, शव को बोरे में भर कर लेकर जाने के लिए इस्तेमाल किए गए फोर व्हिलर (जेएच 11 एएल – 3221), एक ओपो कंपनी का मोबाइल फोन, अभियुक्त का खून से सना कपड़ा भी बरामद किया है.

Jharkhand Crime News: चाईबासा में एक साथ चार शव बरामद, एक का सिर कटा मिला, गांववालों पर हत्या का शक

क्या है पूरा मामला
शुक्रवार सुबह डुमरी थाना क्षेत्र के जामताड़ा प्रोग्रेसिव पब्लिक स्कूल के समीप जंगल में एक अज्ञात व्यक्ति का शव बोरे में बंधा हुआ मिला था. शव मिलने के बाद इलाके में सनसनी फैल गयी. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर मामले की जांच-पड़ताल शुरू की. मृतक की पहचान मधुबन थाना क्षेत्र के बिरनगड्डा निवासी मंजय शर्मा के रूप में हुई.

एसपी के निर्देश पर बनी टीम ने सुलझायी गुत्थी
घटना की जानकारी मिलने के बाद एसपी दीपक कुमार शर्मा ने डुमरी के एसडीपीओ सुमित प्रसाद के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया. टीम में इंस्पेक्टर मनोज कुमार, डुमरी थाना प्रभारी प्रिनन के अलावे जवानों को शामिल किया गया. टीम ने जब मानवीय व तकनीकी आधार पर मामले की पड़ताल शुरू की, तो धीरे-धीरे तथ्य सामने आने लगे. इसी बीच फॉरेंसिक विभाग की टीम और फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट की टीम ने भी अपना काम शुरू कर दिया. जांच के बाद पुलिस ने बिरनगड्डा में छापामारी कर आरोपी खेमलाल और उसकी पत्नी अंजू देवी को गिरफ्तार कर लिया.

पूछताछ में आरोपियों ने उगले सारे राज
पुलिस ने आरोपी खेमलाल से पूछताछ शुरू की, तो उसने मंजय की हत्या के लिए रची गयी पूरी साजिश से पर्दा हटा दिया. उसने पुलिस को बताया कि मंजय शर्मा उसके ही घर के बगल के रहता था. मंजय शर्मा जब भी उसकी पत्नी अंजू देवी को अकेले देखता था, उसके साथ छेड़छाड़ करने लगता था. उसने कई बार मंजय को रोका.

छोड़खानी से तंग महिला ने रची हत्या की साजिश
मंजय ने उसकी बात नहीं सुनी और उसकी पत्नी पर गलत नीयत बनाए रखा. बराबर वह उससे छेड़खानी करता था. अंजू इससे परेशान थी. उसने अपने पति से कहा कि इसको सबक सिखाना ही होगा. पत्नी के कहने पर दोनों ने मिलकर साजिश रची और शुक्रवार की सुबह जब मंजय भैस चराने के लिए खेत-जंगल की ओर गया, तो दोनों ने मिलकर उस पर कुल्हाड़ी से वार कर दिया.

मंजय शर्मा हत्याकांड की गुत्थी ऐसे सुलझी
मंजय की हत्या करने के बाद शव को छिपाने के लिए उसे एक बोरे में डाल दिया. फिर एक गाड़ी किराए पर ली और उसी में शव को लोड करके डुमरी प्रोग्रेसिव स्कूल के पीछे फेंक दिया. एसपी दीपक शर्मा ने कहा कि मंजय शर्मा हत्याकांड की गुत्थी को पुलिस ने प्रोफेशनल व साइंटिफिक तरीके से सुलझाया है. टीम ने सराहनीय काम किया है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें