जहरीली शराब से तीन दिन में 10 की मौत

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

सरिया (गिरिडीह) : गिरिडीह जिले के सरिया व देवरी थाना क्षेत्र के फकीरापहरी व गादीकला गांव में तीन दिनों में पांच-पांच लोगों की मौत हो गयी. वहीं कई बीमार हैं. आशंका जतायी जा रही है कि उक्त सभी की मौत जहरीली शराब पीने से हुई है. चिकित्सक भी प्रथमदृष्टया जहरीली शराब से मौत को कारण मान रहे हैं.

हालांकि, इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पायी है. स्वास्थ्य विभाग की टीम भी गांव में पहुंच कर मामले की जांच-पड़ताल में जुट गयी है.इधर, डीसी राहुल कुमार सिन्हा ने कहा कि सरिया में पांच और देवरी में पांच लोगों की मौत जहरीली शराब के सेवन से होने की सूचना मिली है. मामले की पड़ताल की जा रही है.
सरिया में पांच अन्य की स्थिति गंभीर : 12 फरवरी को सरिया के फकीरापहरी गांव के छठी महतो (50) की मौत हुई. 13 फरवरी को अरविंद सिंह (42) की मौत हो गयी. 14 फरवरी को अद्धेश्वर रजक (60), मुकेश रजक(20) व छठु महतो (65) की मौत हो गयी. सबको पहले अचानक सीने में दर्द, उल्टी और दस्त की शिकायत हुई.
इसके अलावा गांव के ही महादेव तुरी (42), सुरेश रजक (45), विजय रजक, कालेश्वर रजक व बाबूलाल ठाकुर भी बीमार हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है. सरिया देवकी अस्पताल के चिकित्सक डॉ राजेश कुमार ने आशंका जतायी है कि शराब पीने से बीमार पड़े हैं.
जहरीली शराब से मौत की सूचना : डीसी
उन्होंने कहा कि ब्लड जांच में पोटेशियम की कमी का पता चला है. कहा कि सरिया में जिन पांच लोगों की मौत हुई है, उनमें से एक का पोस्टमार्टम भी कराया जा रहा है, ताकि मौत के स्पष्ट कारण का पता लगाया जा सके. श्री सिन्हा ने कहा कि दूसरी ओर उत्पाद विभाग के अधीक्षक को भी अवैध शराब की बिक्री पर अंकुश लगाने का निर्देश दिया गया है.
देवरी में मरने वालों में सभी युवा
इधर, देवरी के गादीकला गांव में कोडरमा निवासी सुग्गी लाल मेहता (35) व गादीकला गांव के डेगन यादव (40) की मृत्यु 11 फरवरी को हो गयी. इसके बाद गांव के खेमचंद्र राय (35) की मौत 12 फरवरी को हो गयी. 13 फरवरी को खेमचंद्र राय के चचेरे भाई गणेश राय (25 वर्ष) की मौत हो गयी. वहीं शुक्रवार (14 फरवरी) की दोपहर में गांव के एक अन्य युवक सागर सिंह (32 वर्ष) की मौत हो गयी.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें