31.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

कांडी प्रखंड में दर्जनों चापानल व जलमीनार खराब, पेयजल के लिए हाहाकार

कांडी प्रखंड में दर्जनों चापानल व जलमीनार खराब, पेयजल के लिए हाहाकार

भीषण गर्मी के प्रकोप से इन दिनों जन जीवन पूरी तरह से प्रभावित हुआ है. कई जलमीनार व चापानल खराब पड़े हैं. इसे ठीक कराने में न तो विभाग तत्पर दिख रहा है और न ही जनप्रतिनिधि. ऐसे में लोगों की परेशानी और बढ़ गयी है. जिले के कांडी प्रखंड के 16 पंचायतों के विभिन्न गावों में लोगों को पानी की समस्या झेलनी पड़ रही है. पशुओं को पानी पिलाने के लिए लोगों को कई किलोमीटर दूर से पानी लाना पड़ रहा है. हरिहरपुर गांव के सीता राम साह, अजय प्रजापति, दुर्गा राम, हरेंद्र राम, अवध रजवार, शिव चबूतरा, रामचंद्र राम, आंगनबाड़ी केंद्र, अमरनाथ राम, सुरेंद्र विश्वकर्मा, रामनाथ ठाकुर व राजेंद्र सिंह के घर के पास चापाकल खराब है. जबकि दुर्गा मंडप के पास डगर व प्राथमिक विद्यालय में लगी जलमीनार भी खराब है. पर इनकी मरम्मत नहीं हो रही. जलमीनार एक साल से खराब : प्रखंड के दारीदह गांव स्थित दुर्गा मंडप के पास लगी जलमीनार लगभग एक वर्ष से खराब है. वहीं मंझिगावा पंचायत में श्री संकट मोचन हनुमान मंदिर के प्रांगण में लगे जलमीनार व चापकल भी खराब है. कांडी-चौबे मंझिगावा मुख्य सड़क के किनारे संजय चौबे के घर के पास लगी जलमीनार के सभी सोलर प्लेट टूट जाने से उक्त जलमीनार अनुपयोगी है. उधर आजाद नगर प्राथमिक विद्यालय के प्रांगण में लगी जलमीनार खराब है. वहीं कवलदाग आंगनबाड़ी केंद्र में सोलर पैनल आंधी तूफान में उड़ जाने से जलमीनार अनुपयोगी हो गयी है. इसी प्रकार पूरे मझीगावा पंचायत में लगभग 10 से अधिक चापाकल खराब हैं.

सतबहिनी झरना तीर्थ व पर्यटन स्थल पर भी समस्या : कांडी प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत प्रसिद्ध सतबहिनी झरना तीर्थ व पर्यटन स्थल स्थित प्राचीन नीम के पेड़ के पास लगी जलमीनार भी खराब है. यहां राज्य के विभिन्न जिलों से पर्यटक व श्रद्धालु प्रतिदिन काफी संख्या में पहुंचते हैं. उन्हें पानी पीने में असुविधा हो रही है. वहीं लमारी कला पंचायत के रकसही गांव निवासी लखन रजवार के घर के पास लगा चापाकल खराब है. वहीं कांडी प्रखंड मुख्यालय स्थित मध्य विद्यालय कांडी, मुख्य बाजार व स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, के पास लगा चापाकल खराब है. सरकोनी पंचायत के महुली गांव स्थित ईंट भट्ठा व, पतीला गांव स्थित प्राथमिक विद्यालय के पास भी लगा चापाकल तो लंबे समय से खराब है. बलियारी पंचायत के अमडीहा गांव स्थित ब्रह्म बाबा के पास लगी जलमीनार वर्षों से खराब है. यहां जलमीनार की सोलर प्लेट वर्षों पहले चोरी हो गयी थी. इधर प्रखंड कार्यालय परिसर में लगी जलमीनार भी खराब है. प्रखंड कार्यालय होने के नाते तो प्रखंड विकास पदाधिकारी व जिले के तमाम वरीय पदाधिकारी भी ध्यान नहीं दे पा रहे हैं. प्रखंड के उपरोक्त क्षेत्रों में स्थिति काफी भयावह है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें