1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. easter 2022 christians celebrated easter festival the pastor said worship lord jesus smj

Easter 2022: ईसाई धर्मावलंबियों ने मनाया ईस्टर पर्व, पास्टर बोले- प्रभु यीशु की करें इबादत

ईसाई धर्मावलंबियों ने ईसा मसीह के पुनर्जीवित की खुशी के मौके पर रविवार को ईस्टर पर्व मनाया. इस मौके पर बोकारो में पूर्वजों की कब्र पर फूल चढ़ाने के बाद कैंडल जलाकर उन्हें याद किया. वहीं, रांची के मैक्लुस्कीगंज में सैक्रेड हर्ट कैथोलिक चर्च में विशेष प्रार्थना सभा का आयोजन किया.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news: ईस्टर के मौके पर बोकारो के कब्रिस्तान में पूर्वजों को याद करते ईसाई धर्मावलंबी.
Jharkhand news: ईस्टर के मौके पर बोकारो के कब्रिस्तान में पूर्वजों को याद करते ईसाई धर्मावलंबी.
प्रभात खबर.

Jharkhand news: ईसाई धर्मावलंबियों ने ईस्टर पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया. बोकारो के सेक्टर-6 स्थित कब्रिस्तान में सुबह चार बजे से ही प्रभु यीशु के अनुयायी पहुंचने लगे. समाज के लोगों ने पूर्वजों की कब्र को फूल-माल से सजाया. उनकी कब्र पर कैंडल जलाया. प्रार्थना की. इससे पहले यहां सुबह साढ़े चार बजे सभी चर्च की ओर से सामूहिक प्रार्थना की गयी. इस मौके पर पास्टर ने कहा कि लोगों को शांति, प्रेम और दया को अपनाना चाहिए. इसके बाद लोगों ने प्रभु यीशु की इबादत की. साथ ही प्रभु को मानने वालों ने एक सुर में प्रभु के गीतों का गान किया.

पुनर्जीवित हुए ईसा मसीह

ईस्टर पर्व पर रविवार को प्रभु यीशु के अनुयायी ने एक-दूसरे को बधाई दी. गुड फ्राइडे से लेकर ईस्टर तक रात-दिन प्रार्थनाएं चलीं. इसी क्रम में रविवार को ईस्टर की सुबह लोगों ने हाथ में मोमबत्ती लेकर यीशु मसीह के जी उठने की खुशी में गीत और कैरल गाया. ईसा मसीह के पुनर्जीवित की खुशी के मौके पर रविवार को मसीहियों ने ईस्टर का पर्व मनाया. मसीही सेक्टर-छह स्थित कब्रिस्तान पहुंचे. पूर्वजों की कब्र पर फूल चढ़ाने के बाद कैंडल जलाकर उन्हें याद किया. शनिवार की रात पास्का समारोह धर्म विधि मिस्सा पूजा के साथ शुरू हुई. पास्का पर्व का विशेष मिस्सा बलिदान हुआ.

YMCA, बोकारो ने किया चाय, पानी और ब्रेड का वितरण

YMCA, बोकारो ने सेक्टर- छह स्थित कब्रिस्तान पहुंचे लगभग 400 लोगों के बीच चाय, पानी और ब्रेड आदि का वितरण किया. इसके लिए संस्था की ओर से अध्यक्ष अर्पण मधई बेक के दिशा-निर्देश एवं नेतृत्व में स्टॉल लगाया गया था. अर्पण मधई बेक ने कहा कि प्रभु यीशु मसीह ने फिर से जिंदा होकर अंधकार पर विजय प्राप्त की. हमें बताया कि पापों और बुराईयों को त्याग कर सच्चाई और प्रेम का मार्ग चुनो. यह दिन ईसाई धर्म के सभी लोगों का लिए खास पर्व है. इसे पुनरुत्थान दिवस या ईस्टर संडे भी कहते हैं. इस दिन यीशु मसीह जीवित हुए थे. उधर, बालीडीह कब्रिस्तान में भी लोग जुटे.

Jharkhand news: रांची के मैक्लुस्कीगंज में ईस्टर के मौके पर सुसमाचार कर स्तुति गान गाते मसीही.
Jharkhand news: रांची के मैक्लुस्कीगंज में ईस्टर के मौके पर सुसमाचार कर स्तुति गान गाते मसीही.
प्रभात खबर.

रांची के मैक्लुस्कीगंज में मना ईस्टर

इधर, राजधानी रांची के मैक्लुस्कीगंज में भी प्रभु यीशु के पुनरुत्थान का पर्व ईस्टर संडे मनाया गया. सैक्रेड हर्ट कैथोलिक चर्च में विशेष प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया. मुख्य अनुष्ठाता पल्ली पुरोहित फादर अजय मिंज द्वारा मिस्सा अनुष्ठान कराया गया. अनुष्ठाता ने शब्द समारोह के दौरान प्रभु यीशु के उपदेशों को बताते हुए कहा कि यीशु ने मानवता के कल्याण के लिए अपने प्राण त्याग दिये थे. यीशु के फिर से जी उठना ईसाई धर्म के विश्वास का नींव है. यह संम्पूर्ण मानवता की आशा, नये जीवन और जीवन के बदलाव का प्रतीक है.

परम प्रसाद का वितरण

उन्होंने यीशु के वचनों को आत्मसात करते हुए मानव जाती को क्षमा, दया, त्याग की भावना को अपनाकर कल्याण और स्नेह को जीवन का आधार बनाकर मानव जाती एवं संसार के सभी जीव जंतुओं की सेवा करने की बात कही. इसके बाद यूखारिस्तिय प्रार्थना कर पास्का पर्व ईस्टर की बधाई देते हुए ईसाई धर्मावलंबियों के बीच परम प्रसाद का वितरण किया गया.

इनकी रही सहभागिता

धर्म विधि संपन्न कराने में फादर विलियम और फादर पैट्रिक बरला ने सहयोग किया. इस अवसर पर पुष्पा खलखो, जोशी टीडी, जौली जोसेफ तोबियस बाड़ा, कोर्नेलुइस खेस, आशीष बाड़ा, संतोष भेंगरा, सिस्टर जूलिया, सिस्टर बिरजिन्या, सिस्टर सुधा, विजय कुजूर, अशियानी टोप्पो, अलका, विनय टोप्पो, अजय मिंज, अशियानी टोप्पो, विनय टोप्पो, कैमिल मिंज, मेरी बाड़ा, मर्टिना मगही, रिया टोप्पो, रोशनी एक्का, अनीमा लकड़ा, अमीत मिंज, अजय मिंज, कुसुम खेस, रेजीना तिर्की, सुनील कुजूर, विंसेन्ट खेस, अनिमा एक्का सहित मसीही विश्वासी उपस्थित थे.

सुसमाचार कर गाया गया स्तुति गान

दूसरी ओर, मैक्लुस्कीगंज स्थित द चर्च ऑफ इंडिया, सीआईपीबीसी (एंग्लिकन) के विश्वासियों ने भी ईस्टर पर्व मनाया. यहां पर पल्ली पुरोहित अल्फ्रेड अनूप सिंह द्वारा धर्म विधि सम्पन्न कराये गये. संदेश देते हुए कहा कि मसीहियों के विश्वास का आधार प्रभु यीशु के पुनरुत्थान ही है. इसके बाद सुसमाचार कर स्तुति गान गाया गया. तत्पश्चात लोगों ने एक दूसरे को ईस्टर की बधाई दी. इस अवसर पर किटी टैक्सेरा, नेल्सन पॉल गॉर्डन, एडवर्ड विजय सिंह, नमिता गॉर्डन, सैमुएल धान, सिमोन धान, अंजली सिंह, रीना मेंडिस, लोना मेंडिस, अजय सिंह, जोसेफ़ एडवर्ड नाटाल, रोबर्ट परिवार सहित अन्य उपस्थित थे.

रिपोर्ट : बोकारो से सुनील तिवारी और मैक्लुस्कीगंज से राेहित कुमार.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें