1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. dumka
  5. jharkhand dgp mv rao said at dumka police will not act against illegal mining will not tolerate criminals with illegal arms mtj

अवैध खनन करने वालों के पीछे नहीं भागेगी पुलिस, हथियार उठाने वालों को छोड़ेगी नहीं, दुमका में बोले डीजीपी एमवी राव

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
अवैध खनन करने वालों के पीछे नहीं भागेगी पुलिस, हथियार उठाने वालों को छोड़ेगी नहीं, दुमका में बोले डीजीपी एमवी राव.
अवैध खनन करने वालों के पीछे नहीं भागेगी पुलिस, हथियार उठाने वालों को छोड़ेगी नहीं, दुमका में बोले डीजीपी एमवी राव.
Prabhat Khabar

दुमका (आनंद जायसवाल) : झारखंड के पुलिस महानिदेशक ने कहा है कि अवैध रूप से बालू और पत्थर का खनन करने वालों पर पुलिस कार्रवाई नहीं करेगी. साथ ही उन्होंने कहा कि हथियार उठाने वाले अपराधियों को पुलिस कतई बर्दाश्त नहीं करेगी और उसे छोड़ेगी नहीं. डीजीपी एमवी राव ने गैरकानूनी काम के लिए हथियार उठाने वालों के खात्मे का निर्देश पुलिस को दिया है.

गुरुवार को दुमका में अपराध और नक्सल मामलों की समीक्षा के बाद उन्होंने दो टूक कहा कि अवैध हथियार का उपयोग करने वाले या उसे लेकर चलने वाले को बक्शा नहीं जायेगा. उनसे पुलिस अत्यंत कठोरता से पेश आयेगी. पुलिस उन पर गोली चलाने से भी नहीं चूकेगी. श्री राव ने कहा कि नागरिकों की जान-माल की सुरक्षा पुलिस की प्राथमिकता है.

श्री राव ने कहा कि पुलिस का काम खनन माफिया को पकड़ना नहीं है. इस काम के लिए खनन विभाग है. हां, खनन विभाग को कार्रवाई करने में यदि खतरा महसूस होता है और अपराधियों को पकड़ने के लिए पुलिस बल की जरूरत होगी, तो हम जरूर मदद करेंगे. लेकिन झारखंड पुलिस अवैध संतान नहीं पालेगी. पुलिस को अपना काम करने दिया जाये.

पुलिस का काम अपराध पर नियंत्रण करना है, लूट, हत्या, बलात्कार, अपहरण के मामलों में कार्रवाई करना है. अवैध हथियार लेकर घूमने वालों और अवैध रूप से शराब का कारोबार करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करना पुलिस की जिम्मेदारी है. बालू और पत्थर माफिया के पीछे भागने का काम उसका नहीं है. ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की पहल खान विभाग को करनी होगी.

पुलिस महानिदेशक ने कहा कि पुलिस का काम आम लोगों की सेवा करना है, उनकी जान-माल की रक्षा करना है. पुलिस को जाति-धर्म से कोई वास्ता नहीं है. वर्दी पहनने वालाे किसी पुलिसकर्मी का राजनीति से सरोकार नहीं होता. राजनीति से हम नहीं घबराते. हम सिर्फ कोर्ट और कानून के प्रति जवाबदेह हैं. किसी व्यक्ति विशेष के प्रति नहीं.

श्री राव ने कहा कि अगर कोई अवैध हथियार लेकर चलता है, गोली चलाते दिखता है, तो कानून पुलिस को उस पर गोली चलाने की इजाजत देता है. हम ऐसा नहीं करेंगे, तो यह हमारी विफलता मानी जायेगी. कहा कि साकारात्मक तौर पर नागरिकों की रक्षा के लिए पुलिस ऐसे अपराधियों पर गोली चलाने से पीछे नहीं हटे. हम ऐसे पुलिस को परेशान नहीं होने देंगे.

खूंखार अपराधियों की सूची हो रही तैयार

डीजीपी ने कहा कि राज्य में अत्यंत खूंखार अपराधी, जिनकी हमें तलाश है, उनकी सूची तैयार हो रही है. आर्म्स केस में रजिस्टर या अवैध हथियार से अपराध करने वाले की गतिविधियों की भी समीक्षा होगी. वे जेल में हैं, तो ठीक है. जेल से बाहर आये हैं, तो उनके मां-बाप, भाई-बहन, ससुराल ही नहीं घर-परिवार, बंधु-मित्र सभी की कुंडली बनायेंगे, ताकि वो कहीं छिप नहीं सके.

अवैध कार्य में लिप्त पुलिस वालों को भी नहीं बक्शेंगे

डीजीपी ने कहा कि पुलिस वाले अगर किसी अवैध कार्य में लिप्त होंगे, तो उन्हें बक्शा नहीं जायेगा. उन्होंने ऐसे पुलिसकर्मियों को पहले भी कभी नहीं बक्शा है. उन्हें विभाग से बाहर जाना होगा. आगे और कार्रवाई होगी. लोगों से भी उन्होंने अपील की कि संगीन अपराध में लिप्त या आग्नेयास्त्र लेकर चलने वाले अपराधियों के बारे में पुलिस को सूचना दें. वाट‍्सएप्प से, मैसेज से या कॉल करके उनके नंबर पर 9431106363 पर सीधे जानकारी दे सकते हैं.

उन्होंने कहा कि इस नंबर पर दिये गये मैसेज केवल वही देखेंगे. सूचना देने वाले की जानकारी बिल्कुल गोपनीय रहेगी. बड़ी उपलब्धि पर सूचना देने वाले को गोपनीय तरीके से पुरस्कृत भी करेंगे. बड़े गिरोह का पर्दाफाश होने पर उसी अनुपात में पुरस्कार भी दिया जायेगा.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें