बरहरवा/दुमका : पारा शिक्षक, सहायिका व युवा रखें धैर्य : सीएम हेमंत सोरेन

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
बरहरवा/दुमका : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने रविवार को वीर शहीद सिदो-कान्हू की जन्मस्थली भोगनाडीह में आयोजित विकास मेला सह जनता दरबार में लोगों को संबोधित किया. कहा : आज मैं बड़ी जिम्मेवारी के साथ खड़ा हूं. आप सभी ने मिलकर मुझे मुख्यमंत्री के पद पर बिठाया है.
विश्वास दिलाता हूं कि मैं एक मुख्यमंत्री की तरह नहीं, बल्कि एक बेटा, एक भाई और दोस्त के रूप में काम करूंगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि पारा शिक्षक, रसोइया, सहायिका, सेविका, मजदूर, किसान, युवाओं की निगाहें हम पर हैं. आप धैर्य रखें, आप संयम के साथ हमें सहयोग करें. सरकार का ध्यान आप सब पर है. वर्तमान सरकार पूरे राज्य में सामाजिक समरसता कायम करना चाहती है. पूरा राज्य एक परिवार है, यही भावना सब अपने मन में रखें.मौके पर मुख्यमंत्री ने 8301 लाभुकों के बीच 11808.90 लाख की परिसंपत्ति बांटी.
मुख्यमंत्री बनने के बाद श्री सोरेन का यह पहला संताल परगना दौरा था. इससे पूर्व मुख्यमंत्री दुमका में सोहराय समारोह में शामिल हुए. इस मौके पर उन्होंने बुद्धिजीवियों को संबोधित करते हुए कहा कि वह भ्रष्टाचार से समझौता नहीं करेंगे.
सरकार की तीसरी आंख सब देखेगी. साथ ही कहा कि धान की तरह सब्जियों के भी समर्थन मूल्य तय होंगे. श्री सोरेन ने झारखंड में ट्राइबल यूनिवर्सिटी खोलने की बात कही. उन्होंने कहा कि इस संबंध में केंद्र सरकार से शीघ्र बात करेंगे. मुख्यमंत्री ने दुमका के पगला बाबा मंदिर एवं दिशोम मांझी थान में पूजा-अर्चना की. वहीं, सोहराय समारोह में मांदर भी बजाया तथा झारखंडवासियों की खुशहाली की कामना की.
ट्राइबल यूनिवर्सिटी के लिए केंद्र से करेंगे मांग
सीएम ने कहा : बहुत जल्द केंद्र सरकार के मानव संसाधन विभाग से झारखंड में ट्राइबल यूनिवर्सिटी खोलने की मांग रखेंगे. दुमका के राजभवन में समाज के प्रबुद्ध नागरिकों से बातचीत में सीएम ने कहा : जनता का विश्वास टूटने नहीं देंगे.
भ्रष्टाचार से समझौता नहीं
मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार स्वच्छ और पारदर्शी शासन व्यवस्था देगी. भ्रष्टाचार से किसी प्रकार का कोई समझौता नहीं किया जायेगा. सरकार की तीसरी आंख हर गतिविधि पर नजर रखेगी. भ्रष्टाचार करनेवालों जेल भेजे जायेंगे.
सब्जियों का समर्थन मूल्य
मुख्यमंत्री ने दुमका में घोषणा की है कि धान की तरह ही राज्य में सब्जियों के लिए भी न्यूनतम समर्थन मूल्य तय होगा. सरकार किसानों का विशेष ख्याल रखेगी. हरी सब्जियां रखने की बेहतर व्यवस्था होगी ताकि सब्जियां औने-पौने दाम पर नहीं बेचनी पड़े.
सिदो-कान्हू, चांद-भैरव की भूमि पर आकर गौरवान्वित
भोगनाडीह में श्री सोरेन ने कहा कि सिदो-कान्हू, चांद-भैरव की वीर भूमि पर आकर हमेशा की तरह गौरवान्वित महसूस करता हूं. उनका चरण स्पर्श किये बगैर दूसरा काम कैसे किया जा सकता है. अपनी परंपरा व संस्कृति के साथ शहीद स्मारक पर फूल चढ़ाकर मैं धन्य हुआ.
सीएम बनने के बाद पहली बार संताल परगना पहुंचे हेमंत
बोले मुख्यमंत्री
केंद्र के समक्ष झारखंड में ट्राइबल यूनिवर्सिटी खोलने की मांग रखेंगे
धान की तरह सब्जियों के लिए भी न्यूनतम समर्थन मूल्य निर्धारित होगा
मुख्यमंत्री नहीं, राज्य का बेटा हूं, भाई-दोस्त की तरह काम करूंगा दिया सम्मान
8301 लाभुकों के बीच मुख्यमंत्री ने बांटी 11808.90 लाख की परिसंपत्ति
सिदो-कान्हू के वंशज बिटिया हेम्ब्रम व लीला मुर्मू को किया सम्मानित
Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें