29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

धनबाद : दो घंटे में तीन बुजुर्गों की मौत, ओल्ड एज होम की मदद के लिए सामने आए सामाजिक कार्यकर्ता

धनबाद के ओल्ड एज होम में दो बुजुर्गों की मौत के बाद हड़कंप मच गया. लेकिन अधिकारी ने इन मौतों के सामान्य बता रहे हैं.

धनबाद शहर के साबलपुर सहयोगी नगर सेक्टर तीन स्थित सरकारी ओल्ड एज होम में रह रहे तीन बुजुर्गों की दो घंटे के अंतराल में मंगलवार को मौत हो गयी थी. मौत का कारण लू लगना बताया गया. दूसरी तरफ, मीडिया में खबर आने के बाद गुरुवार को दो सदस्यीय प्रशासनिक टीम ने मामले की जांच की. जांच टीम के समक्ष सभी ने कहा कि चारों बुजुर्गों की मौत सामान्य थी.

अधिकारी ने कहा मौत है सामान्य

उप विकास आयुक्त सादात अनवर ने गुरुवार को बताया कि जिला समाज कल्याण पदाधिकारी एवं सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा को ओल्ड एज होम भेजा गया था. वहां बुजुर्गों से बातचीत की. साथ ही संचालकों से भी बातचीत कर बयान लिया गया. बुजुर्गों को बेहतर चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध कराने की कोशिश की जा रही है.

कई संगठनों के सदस्य आये सामने

प्रभात खबर ने गुरुवार के अंक में ओल्ड एज होम की कुव्यवस्था की खबर को प्रमुखता से उठाया. इसके बाद गुरुवार को कई सामाजिक संगठन आगे आये और वृद्धाआश्रम में अपनी ओर से दो कूलर, इंवर्टर व बैट्री लगवाये. उन लोगों ने बताया कि खबर पढ़कर वे मर्माहत हुए और एक नागरिक के कर्तव्य का पालन करते हुए अपने खर्च से वहां कूलर, इंवर्टर व बैट्री की व्यवस्था की. उनकी कोशिश है कि बुजुर्गों को राहत मिले. यही नहीं सरकारी डॉक्टर भी पहुंचे और एक-एक बुजुर्ग की मेडिकल जांच की. हालांकि आज भी ओल्ड एज होम में तीन बुजुर्गों की हालत नाजुक है. प्रशासनिक स्तर पर भी ओल्ड एज होम में और सुविधाएं बहाल करने की आवश्यकता है.

मेडिकल जांच सुविधा बहाल करने की है आवश्यकता

सामाजिक कार्यकर्ता मिठू सरिया ने कहा कि प्रशासन की ओर से यहां नियमित मेडिकल जांच की सुविधा बहाल करने की आवश्यकता है. उन्होंने बताया कि दो और कूलर एक-दो दिन में ओल्ड एज होम को उपलब्ध कराया जायेगा. इन्होंने किया दान : कमल पोद्दार, वृजेश नारनोली, मिठू सरिया, पवन सिंह, सरोज सिंह, राजेंद्र अग्रवाल, अजय सिंह चौहान, दयाशंकर सिंह, मुकेश देव, प्रेम चंद्र, जय प्रकाश गोयल.

Also Read : टुंडी में पहाड़ पर बन रहा है हाथियों के लिए जलाशय

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें