25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

बासुदेवपुर कोलियरी में चोरों का आतंक, दो माह में 13 बार हुई चोरी

बीसीसीएल. लगातार हो रही घटनाओं से अधिकारी व कर्मी परेशान

फोटो23के-जवान तैनात फिर भी चोरीबीसीसीएल. लगातार हो रही घटनाओं से अधिकारी व कर्मी परेशान

लोयाबाद.

बीसीसीएल बासुदेवपुर कोलियरी में दो माह में चोरों ने 13 बार चोरी की घटना को अंजाम दिया. लेकिन पुलिस एक भी घटना की उदेभदन नहीं कर पायी है. बीसीसीएल की ओर से लिखित शिकायत के बाद भी पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही है. बासुदेवपुर कोलियरी लोयाबाद और केंदुआडीह दो थानों के बीच पड़ती है. सीआइएसएफ भी कोलियरी क्षेत्र में निगरानी करती है. लेकिन इन सबके बीच चोर पुलिस-सीआइएसएफ पर भारी पड़ रहे हैं. चोर रोजाना परियोजना और डंप में घुस कर लोहा, कोयला, डीजल आदि चोरी करते हैं. चोरों के आतंक से कोलियरी के अधिकारी-कर्मी परेशान हैं. अब तक करीब तीन लाख 10 हजार रुपये का नुकसान हो चुका है.

सुरक्षा के लगाये जा रहे सीसीटीवी कैमरे : पीओइस संबंध में बासुदेवपुर कोलियरी के परियोजना पदाधिकारी नारायण प्रसाद ने कहा कि लगातार चोरी की घटनाओं से प्रबंधन परेशान है. थाना में शिकायत के बाद भी कार्रवाई नहीं हो रही है. कोलियरी में सुरक्षा के लिये सीसीटीवी कैमरे लगाये जा रहे हैं.

कब-कब हुई घटनाएं20 जून की रात 165 लीटर डीजल, डंपर सेक्शन से कीमती सामानों की चोरी.

19 जून की रात खड़ी शॉवेल मशीन से 150 लीटर रुपये की डीजल चोरी.

17 जून की रात को कोलियरी स्टोर की दीवार पर सेंधमारी कर ब्रास आर्म की चोरी.

14 जून की रात में खड़ी शॉवेल मशीन से 78 व डोजर से 120 लीटर डीजल की चोरी.

13 जून की रात खड़ी दो शॉवेल मशीन व एक डोजर से 338 लीटर डीजल की चोरी.

12 जून की रात खड़ी शॉवेल मशीन से 168 लीटर डीजल की चोरी.

13 मई की रात कोलडंप में खड़े डंपर की दो बैट्री और केबल चोरी.

12 मई की रात कोलडंप में खड़े डोजर से बैट्री और केबल चोरी.

11 मई की रात खड़ी ड्रील मशीन 30 से टूल्स और अन्य सामग्री चोरी.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें