37.3 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

देवघर में 10000 वें जन औषधि केंद्र का ऑनलाइन उदघाटन करते समय पीएम मोदी ने किया खूंटी दौरे को याद

केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा कि इफको ने संताल परगना में नैनो यूरिया के साथ नैनो डीएपी का भी प्लांट लगाने की तैयारी की है. दोनों प्लांट यहां लगने से स्थानीय युवाओं को रोजगार मिलेगा.

देवघर: प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में कहा : बाबाधाम से 10,000 वें जन औषधि केंद्र व महिला किसान ड्रोन कार्यक्रम की शुरुआत की जा रही है. मुझे खुशी है कि बाबा की भूमि के लाभार्थियों से बात करने का अवसर मिला है. विकसित भारत संकल्प यात्रा की गाड़ी का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि भगवान बिरसा की धरती से इस संकल्प यात्रा की शुरुआत की, मैं चाहता तो दिल्ली के विज्ञान भवन से इस योजना की शुरुआत कर सकता था, लेकिन चुनाव मैदान छोड़कर मैंने सुदूर आदिवासी खूंटी से इसकी शुरुआत की.

15 दिनों की यात्रा में 12 हजार से ज्यादा पंचायतों में मोदी की गारंटी की गाड़ी का स्वागत हो रहा है. मौके पर गोड्डा सांसद डॉ निशिकांत दुबे ने कहा : संताल परगना जैसे पिछड़े इलाके में एमआरइआइ सहित तकनीकी जांच व इलाज की सुविधा नहीं थी. पीएम नरेंद्र मोदी ने एम्स की सौगात देकर पिछड़े इलाके को आगे लाया है. केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा कि इफको ने संताल परगना में नैनो यूरिया के साथ नैनो डीएपी का भी प्लांट लगाने की तैयारी की है. दोनों प्लांट यहां लगने से स्थानीय युवाओं को रोजगार मिलेगा.

Also Read: PM Modi in Jharkhand: पीएम मोदी ने झारखंड की धरती से विकसित भारत के लिए दिए चार अमृत मंत्र
मेरे लिए चार जाति सबसे बड़ी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि मेरे लिए सबसे बड़ी जाति चार जातियां हैं- नारी, युवा, किसान और गरीब. जब तक इन चार जातियों को मुश्किलों से उबार नहीं देते, तब तक मैं चैन से नहीं बैठने वाला. इन चार जातियों का उत्थान ही भारत को विकसित बनायेगा. अगर इन चारों जातियों का उत्थान हो जायेगा, तो सबका उत्थान हो जायेगा. उन्होंने कहा कि विकसित भारत का संकल्प चार अमृत स्तंभों पर टिका है. ये अमृत स्तंभ हैं- हमारी नारीशक्ति, हमारी युवा शक्ति, हमारे किसान और हमारे गरीब परिवार. जाति को लेकर पीएम का यह बयान ऐसे समय में आया है, जब आगामी लोकसभा चुनाव से पहले विपक्षी दल जाति आधारित जनगणना को मुद्दा बनाने की लगातार कोशिश कर रहे हैं.

पीएम ने कहा कि इस देश का कोई भी गरीब चाहे, वह जन्म से कुछ भी हो, उसका जीवन स्तर सुधारना और इसी प्रकार युवाओं को रोजगार और स्वरोजगार के नये अवसर देना ही उनका लक्ष्य है. कोई भी महिला चाहे, उसकी जाति कोई भी हो, मुझे उसे सशक्त करना है. उसके जीवन की मुश्किलें कम करनी हैं. इस देश का कोई भी किसान चाहे, उसकी जाति कुछ भी हो, मुझे उसकी आय बढ़ानी है. उसका सामर्थ्य बढ़ाना है. खेती को आधुनिक बनाना है. प्रधानमंत्री ने दावा भी किया कि 10 साल तक उनके काम को देखने के बाद लोगों को उनकी सरकार पर अपार विश्वास है. उन्होंने पिछली सरकारों पर खुद को नागरिकों का ‘माई-बाप’ मानने और वोट बैंक को ध्यान में रखकर काम करने का आरोप भी लगाया.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें