क्या आप जानते हैं झारखंड की पहली महिला सांसद विजया राजे को?

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

झारखंड राज्य का गठन तो वर्ष 2000 में हुआ था, लेकिन अविभाजित बिहार में जिस महिला ने इस क्षेत्र से पहली बार चुनाव जीता, उनका नाम विजया राजे था. जी हां विजया राजे ने चतरा लोकसभा सीट से 1957 में पहली बार चुनाव जीता था. हालांकि इससे पहले वे 1952 में राज्यसभा के लिए चुनी गयीं थीं.

विजया राजे लगातार तीन बार चतरा सीट से सांसद रहीं, उन्होंने 1957, 1962 और 1967 में चतरा सीट से चुनाव जीता था. 1957 में वे जनता पार्टी के टिकट पर चुनाव जीतकर आयीं, 1962 में स्वतंत्र पार्टी की उम्मीदवार बनीं और 1967 में उन्होंने निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में यहां से जीत दर्ज की.

विजया राजे तत्कालीन हजारीबाग जिले के रामगढ़ की रहने वाली थीं, उनका तालुल्क राजपरिवार से था. वे मध्यप्रदेश के धार स्टेट की रहने वाली थीं. उनके पिता महाराजा कर्नल सर उदाजी राव थे. उनकी शादी रामगढ़ के राजपरिवार के लेफ्टिनेंट कर्नल महाराज कुमार डॉ बसंत नारायण सिंह से हुई थी. उनके एक बेटा और एक बेटी थे.

विजया राजे को गाने सुनने और पेंटिंग करने का शौक था. साथ ही वे पढ़ने, बागवानी और निशानेबाजी की भी शौकीन थीं. बच्चों और महिलाओं के कल्याण के लिए उन्होंने बहुत काम किया. विजया राजे का निधन हजारीबाग में 12 दिसंबर 1995 को 99 वर्ष की उम्र में हुआ था.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें