29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

प्रभात खबर प्रतिभा सम्मान 2024 : चाईबासा में प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को किया गया सम्मानित

प्रभात खबर सम्मान समारोह में प्रशिक्षु आईएएस अर्णव मिश्रा ने अपने संबोधन की शुरुआत अपनी जर्नी से की. उन्होंने वहां पर मौजूद छात्र-छात्राओं को बताया कि उनके इस मुकाम तक पहुंचने के पीछे किसका योगदान है

चाईबासा : चाईबासा के कोल्हान यूनिवर्सिटी के ऑडिटोरियम में सोमवार को प्रभात खबर प्रतिभा सम्मान समारोह का आयोजन किया गया. जहां सैकड़ों प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया गया. मुख्य अतिथि के रूप में पश्चिमी सिंहभूम के उप विकास आयुक्त संदीप कुमार मीणा, प्रशिक्षु आईएएस अर्णव मिश्रा मौजूद थे. इसके अलावा कोल्हान यूनिवर्सिटी के वॉइस प्रिंसिपल देवव्रत साहा, गोल संस्था के काली प्रसाद, प्रभात खबर जमशेदपुर के वरीय संपादक संजय मिश्रा भी कार्यक्रम में मौजूद रहे. कार्यक्रम की शुरुआत मौके पर मौजूद सभी अतिथियों ने दीप प्रज्वलित कर किया. इससे पहले समारोह में मौजूद सभी अतिथियों का जोरदार स्वागत किया.

प्रतिभा का सम्मान क्यों है जरूरी, उप विकास आयुक्त संदीप कुमार मीणा ने बताया

प्रभात खबर प्रतिभा सम्मान समारोह मुख्य अतिथि उप विकास आयुक्त संदीप कुमार मीणा मौजूद थे. उन्होंने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि मैं इस तरह के कार्यक्रम को आयोजित करने के लिए प्रभात खबर को धन्यवाद देता हूं. यह सम्मान इसलिए जरूरी है क्योंकि कई बार अच्छा प्रदर्शन करने के बावजूद आपको पहचान नहीं मिल पाती है. ऐसे में जब किसी बड़े मीडिया संस्थान से आपको इस तरह का सम्मान मिलता है तो प्रतियोगिता की भावना शुरू हो जाती है और लोग मेहनत करना शुरु करते हैं.

प्रशिक्षु आईएएस अर्णव मिश्रा ने कहा- प्रतिभा का सम्मान जरूरी

प्रभात खबर सम्मान समारोह में प्रशिक्षु आईएएस अर्णव मिश्रा ने अपने संबोधन की शुरुआत अपनी जर्नी से की. उन्होंने वहां पर मौजूद छात्र-छात्राओं को बताया कि उनके इस मुकाम तक पहुंचने के पीछे किसका योगदान है. उन्होंने कहा कि मेरे माता पिता और मेरे शिक्षकों के मोटिवेशन की बदौलत इस मुकाम पर पहुंचा हूं. मेरे पढ़ाई मेरे होम टाउन यूपी के रायबरेली से हुई. इसके बाद मैं आआईटी से बीटेक किया. पढ़ाई पूरी करने के बाद मेरी सर्विस बैंगलुरु में हुई. उसी दौरान मुझे सिविल सर्विस की ओर जाने का सोचा. प्रशिक्षु आईएएस अर्णव मिश्रा ने आगे कहा कि इस तरह प्रतिभा का सम्मान होना जरूरी है. क्योंकि प्रतिभा सम्मान नहीं होगा तो इंसान मेहनत करना छोड़ देगा.

प्रभात खबर के संपादक संजय मिश्रा बोले- छात्रों को पता होने चाहिए उनके लिए आगे किस तरह के अवसर हैं

प्रभात खबर जमशेदपुर के संपादक संजय मिश्रा ने बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कहा कि आपको पता होना चाहिए कि आगे आपके लिए किस तरह का अवसर आने वाला है, साथ ही यह भी जानना चाहिए उस अवसर को प्राप्त करने के लिए किन रास्तों से होकर गुजरना है. तभी हम मंजिल को पा सकते हैं. प्रतिभा सम्मान समारोह की शुरुआत साल 2007 से हुई थी. इसका मकसद यही था कि जिंदगी में मुकाम प्राप्त करने के अवसर कैसे मिले.

कोल्हन यूनिवर्सिटी के वाइस प्रिंसिपल देवब्रत साहा बोले- कोई भी लक्ष्य असंभव नहीं

कोल्हन यूनिवर्सिटी के वाइस प्रिंसिपल देवब्रत साहा ने कहा कि कोई भी लक्ष्य असंभव नहीं है. बर्शते इसके लिए आपका लगन होने जरूरी है.

गोल संस्थान के काली प्रसाद बोले- अभी से लक्ष्य तय कर लेना जरूरी

अगर आपको कुछ भी बनना है तो यहीं से आपका सफर शुरु होगा. अभी आपको कई पड़ाव से होकर गुजरना पड़ेगा. लेकिन जिंदगी किसी मुकाम को पाने के लिए आपको अभी से ही अपना लक्ष्य जरूर तय कर लेना है. अगर यह अभी यह नहीं कर पाते तो आपको मंजिल मिलने में परेशानी होगी.

Also Read: प्रभात खबर प्रतिभा सम्मान 2024: चतरा के 500 होनहार सम्मानित, श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता बोले, अब पढ़ाई में गरीबी नहीं बनेगी बाधा

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें