1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. chaibasa
  5. jharkhand house wall fell on the children playing 2 death 1 child condition critical grj

Jharkhand News: खेल रहे बच्चों पर गिरी कच्चे मकान की दीवार, दो मासूमों की मौत, एक बच्चे की हालत नाजुक

चाईबासा में तीन बच्चे एक साथ घर के पास पेड़ के नीचे खेल रहे थे. पास में एक पुराना मिट्टी का कच्चा मकान था. उसकी दीवार अचानक खेल रहे बच्चों के ऊपर गिर गयी, जिससे तीनों बच्चे मिट्टी से दब गये. दो की मौत हो गयी, जबकि एक बच्चे की हालत नाजुक है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand News: अस्पताल में इलाजरत बच्चा
Jharkhand News: अस्पताल में इलाजरत बच्चा
प्रभात खबर

Jharkhand News: झारखंड के पश्चिमी सिंहभूम जिले के टोंटो थाना अंतर्गत बड़ा झींकपानी गांव में कच्चे मकान की दीवार गिरने से दबकर दो मासूमों की मौत हो गयी, वहीं एक अन्‍य बच्‍चा गंभीर रूप से घायल हो गया है. इसकी हालत नाजुक है. घटना शुक्रवार सुबह करीब 10 बजे की है. मलबे से निकालकर आनन-फानन में तीनों बच्चों को स्वास्थ्य केंद्र टोटों ले जाया गया. हालत गंभीर होने पर चिकित्सकों ने तीनों बच्चों को सदर अस्पताल चाईबासा रेफर कर दिया. परिजनों ने तीनों बच्चों को सदर अस्पताल लाया, जहां चिकित्सकों ने मंगल हांसदा (4 वर्ष) व सचिन हांसदा (4 वर्ष) को मृत घोषित कर दिया. घायल राजेन हांसदा (5 वर्ष) सदर अस्पताल में भर्ती है. इस हादसे से गांव में मातम छा गया है.

खेल रहे बच्चों पर गिरी दीवार

जानकारी के अनुसार बड़ा झींकपानी निवासी दुर्गा हांसदा का पुत्र मंगल हांसदा, बुधन हांसदा का पुत्र सचिन हांसदा और मोरन हांसदा का पुत्र राजेन हांसदा एक साथ घर के पास पेड़ के नीचे खेल रहे थे. पास में एक पुराना मिट्टी का कच्चा मकान था. उसकी दीवार अचानक खेल रहे बच्चों के ऊपर गिर गयी, जिससे तीनों बच्चे मिट्टी से दब गये. ग्रामीणों ने काफी मशक्कत के बाद तीनों बच्चों को बाहर निकाला. उस समय दो बच्चे मंगल हांसदा और सचिन हांसदा की हल्की सांस चल रही थी. तीनों को टोटों स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया था. इस घटना से गांव में मातम छा गया है.

घायल बच्चे की हालत नाजुक

एक साथ दो बच्चों की मौत हो जाने से परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है. अस्‍पताल में मृतकों की मां अपने-अपने बच्‍चे के पास बिलखती रही. पास खड़े लोगों की आंखें भी नम हो गयीं. मृतक बच्चों के माता-पिता मजदूर हैं. पिता दुर्गा हांसदा ने बताया कि सुबह घर में बच्चों को छोड़कर पति-पत्नी मजदूरी करने गये थे. 10 बजे करीब गांव के लड़के ने फोन कर घटना की जानकारी दी. जानकारी मिलते ही पत्नी गांव आयी तो ग्रामीणों की भीड़ लगी थी. तब तक ग्रामीणों ने तीनों बच्चों को मलबे से निकाल लिया था. चिकित्सक ने बताया कि घायल बच्चा की भी हालत गंभीर बनी हुई है.

रिपोर्ट : भागीरथी महतो

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें