1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. bokaro
  5. young girl ran away from house on pretext of getting married lover physically abused and fled in bokaro district of jharkhand mtj

शादी का झांसा देकर युवती को घर से लेकर भागा, रास्ते में बलात्कार कर भाग गया

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Bokaro News: शादी का झांसा देकर युवती को घर से लेकर भागा, रास्ते में बलात्कार कर भाग गया. पुलिस ने दो घंटे के अंदर आरोपी को गिरफ्तार किया.
Bokaro News: शादी का झांसा देकर युवती को घर से लेकर भागा, रास्ते में बलात्कार कर भाग गया. पुलिस ने दो घंटे के अंदर आरोपी को गिरफ्तार किया.
Dipak Sawal

कसमार (दीपक सवाल) : झारखंड के बोकारो जिला में शादी का झांसा देकर एक युवती को भगाने के बाद उससे दुष्कर्म का मामला सामने आया है. घटना कसमार थाना क्षेत्र के दुर्गापुर की है. पुलिस ने दो घंटे के भीतर मामले का खुलासा करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. देर शाम को स्थानीय विधायक डॉ लंबोदर महतो ने पीड़ित परिवार से भेंट कर घटना की जानकारी ली.

बताया गया है कि शादी के नाम पर एक 20 वर्षीय युवती को उसके घर से युवक भगाकर ले गया और बीच रास्ते में उससे दुष्कर्म करने के बाद उसे छोड़कर भाग गया. पीड़िता टांगटोना पंचायत अंतर्गत जामकुदर गांव की निवासी है. कसमार के थाना प्रभारी राजेंद्र चौधरी ने आरोपी को रामगढ़ जिला के गोला थाना क्षेत्र से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

पीड़िता के पिता के आवेदन पर कसमार पुलिस ने कसमार थाना में कांड संख्या 114/2020, भादवि की धारा 366 व 376 के तहत प्राथमिकी दर्ज की है. उसमें रजरप्पा प्रोजेक्ट थाना क्षेत्र के डेगवा टोला (लारी) निवासी नागेश्वर बैठा के पुत्र महावीर रजक उर्फ वीरू रजक को नामजद अभियुक्त बनाया गया है.

पीड़िता के पिता के अनुसार, शुक्रवार सुबह बगदा गांव के कुछ ग्रामीणों ने उन्हें सूचना दी कि उनकी बेटी दुर्गापुर गांव के काशीटांड़ मैदान में बैठी है. जब वे वहां पहुंचे, तो अपनी बेटी को रोते हुए पाया. बेटी ने बताया कि महावीर रजक शादी का प्रलोभन देकर उसे घर से भगाकर ले जा रहा था. इसी क्रम में दुर्गापुर के काशीटांड़ मैदान में उसके साथ जबर्दस्ती की और वहां से भाग गया.

कसमार पुलिस ने त्वरित छानबीन शुरू की. आरोपी युवक के मोबाइल को ट्रेस करते हुए पुलिस ने छापामारी कर उसे गोला के टोल प्लाजा के पास धर दबोचा. पुलिस टीम में थाना प्रभारी राजेंद्र चौधरी के अलावा एएसआइ अनिल कुमार, राजकमल एवं जलेश्वर उरांव भी शामिल थे. मामले के उदभेदन में दुर्गापुर के समाजसेवी दिलीप कुमार महतो की भी उल्लेखनीय भूमिका रही.

पहले पिता से की दोस्ती, फिर युवती को फांसा

आरोपी युवक रांची में राज मिस्त्री का काम करता था. वहीं पर पीड़िता के पिता भी काम करते थे. काम के दौरान दोनों में जान पहचान हुई. महावीर रजक का पीड़िता के घर आना-जाना शुरू हो गया. इसी क्रम में उसने उनकी बेटी को प्रेम जाल में फांसा और शादी का प्रलोभन देकर शुक्रवार की देर रात को उस समय घर से ले भागा, जब परिवार के सारे सदस्य सोए हुए थे.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें