1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. bokaro
  5. saram village of bokaro sealed after death of coronavirus positive patient

बोकारो का साड़म गांव सील, बीजीएच के डॉक्टर समेत 35 कर्मचारी को किया गया होम क्वारेंटाइन

By Mithilesh Jha
Updated Date

मुकेश झा

बोकारो : झारखंड के बोकारो जिला में कोरोना वायरस से एक बुजुर्ग की मौत के बाद प्रशासन ने मृतक के गांव को पूरी तरह से सील कर दिया है. जिस बोकारो जेनरल हॉस्पिटल में 75 वर्षीय कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत हुई थी, उसके डॉक्टर समेत 35 कर्मचारियों को होम क्वारेंटाइन कर दिया गया है. साड़म गांव के बुजुर्ग की बुधवार-गुरुवार की दरम्यानी रात बीजीएच के सीसीयू में मौत हो गयी थी. उसकी मृत्यु के बाद जांच रिपोर्ट आयी, जिसमें उसके कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई.

प्रशासन ने तेजी दिखाते हुए पूरे साड़म गांव को गुरुवार को ही सील कर दिया. गांव के 3 किलोमीटर की परिधि में पूरी तरह से नाकेबंदी करवा दी गयी. गांव के 23 लोगों के सैंपल कोरोना की जांच के लिए लिये गये. इसमें 8 लोग मृतक के परिवार के सदस्य और उसके आसपास रहने वाले लोग हैं. उम्मीद है कि शुक्रवार (10 अप्रैल, 2020) को बीजीएच के उन सभी लोगों के सैंपल लिये जायेंगे, जिन्हें होम क्वारेंटाइन किया गया है.

उधर, तेलो गांव में मिले कोरोना वायरस से संक्रमित तीन नये मरीजों के संपर्क में आये 21 लोगों के सैंपल लिये जा चुके हैं. सभी 21 लोगों को जिला के चास स्थित क्वारेंटाइन सेंटर में रखा गया है. बोकारो जिला के चंद्रपुरा प्रखंड स्थित तेलो गांव झारखंड में कोरोना वायरस का एपिसेंटर बन चुका है. इस गांव में अब तक 5 मरीज मिल चुके हैं. जिले का पहला केस इसी गांव से सामने आया था.

तेलो गांव की एक महिला बांग्लादेश में तबलीगी जमात के धार्मिक कार्यक्रम में भाग लेने के बाद लौटी थी. बांग्लादेश से लौटने के बाद उसने नयी दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित मरकज में भी तबलीगी जमात के कार्यक्रम में हिस्सा लिया था. इस महिला के परिवार की दो बच्चियां भी कोरोना वायरस से संक्रमित पायी गयी हैं. सभी को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है. प्रशासन लोगों से अपील कर रहा है कि वे लॉकडाउन का सख्ती से पालन करें.

तबलीगी जमात में शामिल हुए लोगों से आग्रह किया जा रहा है कि वे खुद आगे आयें और अपनी जांच करायें, ताकि कोरोना वायरस के संक्रमण की चेन टूट जाये. साथ ही यदि वे पीड़ित हैं, तो उनका सही इलाज हो सके. उल्लेखनीय है बोकारो में अब तक 6 केस सामने आये हैं, जिसमें एक की मौत हो चुकी है. वहीं, राजधानी रांची के हिंदपीढ़ी में 7 लोग इस वायरस से संक्रमित मिले हैं. सभी का रिम्स में इलाज चल रहा है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें