1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. bokaro
  5. jharkhand cm hemant soren said luguburu is the center of faith give good education to children by giving up liquor selling tribal santal smj

CM हेमंत बोले- आस्था का केंद्र है लुगुबुरु, आदिवासी संताल हड़िया-दारू बेचना छोड़ बच्चों को दें अच्छी शिक्षा

संतालियों का पवित्र व संस्कृति का उद्गम स्थल बोकारो स्थित लुगुबुरु पुनाय थान में मत्था टेकने परिवार संग पहुंचे सीएम हेमंत सोरेन. उन्होंने कहा कि लुगुबुरु घांटाबाड़ी धोरोमगाढ़ असीम आस्था का केंद्र है. वहीं, 21वें अंतरराष्ट्रीय संताल सरना धर्म महासम्मेलन में भी श्री सोरेन ने शिरकत किये.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
अंतरराष्ट्रीय संताल सरना धर्म महासम्मेलन में सीएम हेमंत सोरेन का पारंपरिक तरीके से हुआ स्वागत.
अंतरराष्ट्रीय संताल सरना धर्म महासम्मेलन में सीएम हेमंत सोरेन का पारंपरिक तरीके से हुआ स्वागत.
प्रभात खबर.

Jharkhand News (नागेश्वर/रामदुलार पंडा, ललपनिया/महुआटांड़, बोकारो) : संतालियों की परंपरा व संस्कृति का उद्गम स्थल लुगुबुरु घांटाबाड़ी धोरोमगाढ़ हमारे असीम आस्था का केंद्र है. यहां के विकास व उत्थान को झारखंड सरकार कृतसंकल्पित है. आदिवासी संताल अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा दिलाये. हड़िया- दारू बेचना बंद करें. राज्य सरकार हर संभव मदद को तैयार और तत्पर है. आर्थिक व सामाजिक रूप से सशक्त करने की हमारी सरकार ने कई योजनाएं बनायी है. उसका लाभ उठायें. किसी भी तरह की परेशानी आती है और अधिकारी नहीं सुनते हैं, तो स्थानीय जनप्रतिनिधियों को शिकायत करें, मुझे बताये. यह बातें शुक्रवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बोकारो स्थित लुगुबुरु के दोरबार चट्टानी में कही. वे 21वें अंतरराष्ट्रीय संताल सरना धर्म महासम्मेलन (राजकीय पूजन महोत्सव) को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे.

परिवार संग सीएम हेमंत सोरेन का स्वागत करते बोकारो में अंतरराष्ट्रीय संताल सरना धर्म महासम्मेलन के सदस्यगण.
परिवार संग सीएम हेमंत सोरेन का स्वागत करते बोकारो में अंतरराष्ट्रीय संताल सरना धर्म महासम्मेलन के सदस्यगण.
प्रभात खबर.

मुख्यमंत्री श्री सोरेन ने कहा कि आपके अधिकार, आपकी सरकार, आपके द्वार कार्यक्रम के तहत गांवों-पंचायतों में पहुंच रही है. वंचित व जरूरतमंद लोग इसका लाभ उठायें. यह कार्यक्रम आपके लिए है. आपके हित को देखते हुए बनाया गया है. उन्होंने विधवा, वृद्धा व दिव्यांगों के लिए पेंशन जैसी योजनाओं को और सशक्त करने पर बल दिया.

बोकारो के लाभुकों को साड़ी-धोती देते सीएम हेमंत सोरेन.
बोकारो के लाभुकों को साड़ी-धोती देते सीएम हेमंत सोरेन.
प्रभात खबर.

उन्होंने कहा कि आदिवसी छात्र खूब पढ़े- लिखें. मेधावी छात्रों को 50 प्रतिशत अनुदान पर स्कॉर्पियो देने का प्रावधान है. मत्स्य पालन और सरकार की अन्य योजनाओं से जुड़कर आर्थिक रूप से मजबूत हों. आदिवसी कल्याण विभाग इस पर बहुत काम कर रहा है.

बोकारो के अंतरराष्ट्रीय संताल सरना धर्म महासम्मेलन में अभ्यर्थियों के बीच नियुक्ति पत्र सौंपते सीएम हेमंत सोरेन.
बोकारो के अंतरराष्ट्रीय संताल सरना धर्म महासम्मेलन में अभ्यर्थियों के बीच नियुक्ति पत्र सौंपते सीएम हेमंत सोरेन.
प्रभात खबर.

वहीं, मंत्री चंपई सोरेन ने कहा कि लुगुबुरु के विकास को संकल्पित हैं. मैं यहां जब आता हूं. विकास के लिए कुछ न कुछ देकर जाता हूं. इस महान धर्मस्थल का व्यापक विकास किया जायेगा. इस दौरान मुख्यमंत्री ने बोकारो जिला अंतर्गत विभिन्न विभागों TTPS, जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय बोकारो के दर्जनों अभ्यर्थियों के बीच नियुक्ति पत्र व TTPS के 21 जाला विस्थापितों के बीच भूमि का पट्टा प्रदान किया. करोड़ों की परिसंपत्तियों का वितरण किया. समिति के अध्यक्ष बबूली सोरेम, सचिव लोबिन मुर्मू ने मुख्यमंत्री को बुके भेंटकर व अंग वस्त्र प्रदान कर सम्मानित किया.

तेनुघाट विद्युत मजदूर यूनियन टीटीपीएस, ललपनिया की ओर से संरक्षक सह पूर्व विधायक योगेंद्र प्रसाद की अगुवाई में 101 किलो का माला व चांदी का मुकुट पहनाकर सीएम का स्वागत किया गया. टीवीएनएल एमडी अनिल कुमार शर्मा ने भी उनका स्वागत किया. हेलीपेड में डीसी कुलदीप चौधरी, एसपी चंदन झा ने जिला प्रशासन की ओर से स्वागत किया. विधायक डॉ लंबोदर महतो व पूर्व विधायक योगेंद्र प्रसाद ने भी हेलीपेड में मुख्यमंत्री का स्वागत किया. यहां उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया गया.

परिवार संग पहुंचे सीएम ने पुनाय थान में टेका मत्था

सीएम श्री सोरेन पत्नी कल्पना सोरेन और दोनों बेटों के साथ लुगुबुरु पहुंचे. दोरबार चट्टानी के पुनाय थान में विधिवत पूजा अर्चना किया. अपने आराध्यों मरांगबुरु, लुगुबुरु, लुगू आयो, घांटाबाड़ी गो बाबा, बीरा गोसाईं, कपसा बाबा व कुड़िकिन बुरु के समक्ष मत्था टेका. इस दौरान सीएम श्री सोरेन ने राज्य की खुशहाली की कामना की. धूप, दीप अगरबत्ती दिखायी और जल व दूध अर्पित कर आरती दिखाये. मंत्री चंपई सोरेन भी अपने परिवार के साथ पहुंचे थे. उन्होनें भी पुनाय थान में विधिवत पूजा अर्चना कर मत्था टेका. नायके (पाहन) किशन मुर्मू, कोलेश्वर मुर्मू, बाहाराम हांसदा, बेटका बेसरा, किशुन हेंब्रम व रामलाल सोरेन ने पूजा संपन्न करवायी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें