29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

सेक्टर 12 में 17 ब्लॉक क्षतिग्रस्त घोषित, रहना सुरक्षित नहीं

बीएसएल ने आम सूचना जारी कर ब्लॉकों में रहने वाले लोगों को किया आगाह

बोकारो. बोकारो स्टील प्रबंधन ने सेक्टर 12 में 17 ब्लॉक को क्षतिग्रस्त घोषित कर दिया है. बीएसएल प्रबंधन ने शुक्रवार को आम सूचना जारी कर ब्लॉकों में रहने वाले लोगों को आगाह किया है कि इसमें रहने वालों को जान-माल की क्षति हो सकती है. उक्त सभी ब्लॉकों को नगर प्रशासन (सिविल) विभाग की ओर से क्षतिग्रस्त घोषित किया गया है. इनमें सेक्टर 12 इ व डी के ब्लॉक शामिल है. एक ब्लॉक में 12 क्वार्टर है. इस तरह सेक्टर 12 में 17 ब्लॉक के कुल 204 क्वार्टर अब रहने लायक नहीं है. सभी ब्लॉक खाली होंगे.

नियमित कर्मी स्थानांतरित, अब आवास लाइसेंस वालों की बारी

प्रबंधन की ओर से जारी आम सूचना में कहा गया है कि उक्त आवास/ब्लॉक के गिरने की संभावना है, जिससे जान–माल की क्षति हो सकती है. इन ब्लॉकों में रहना सुरक्षित नहीं है. बीएसएल प्रबंधन की ओर से उक्त सभी ब्लॉक को चरणबद्ध तरीके से खाली कराया जा रहा है. प्रबंधन की ओर से प्रथम चरण में उक्त ब्लॉकों में रहने वाले नियमित कर्मचारियों को स्थानांतरित कर दिया गया है. अगले चरण में वैसे पूर्व कर्मचारी जिन्होंने आवास लाइसेंस पर लिया है, उन्हें स्थानांतरित किया जायेगा.

12 मई तक आवास का लाइसेंस नवीकरण करा लें कर्मी

बीएसएल प्रबंधन की ओर से कहा गया है कि वर्तमान में जिन पूर्व कर्मचारियों ने अपने आवास का लाइसेंस नवीकरण कराया हुआ है, उन्हीं को स्थानांतरित किया जायेगा. जिन्होंने अभी तक लाइसेंस नवीकरण नहीं कराया है, उन्हें निर्देशित किया जाता है कि 12 मई 2024 तक नवीकरण करा लें अन्यथा उनका लाइसेंस अनुबंध रद्द कर दिया जायेगी. साथ हीं, उनके विरुद्ध आवास खाली करने के लिये आवश्यक प्रक्रिया शुरू की जायेगी. बीएसएल प्रबंधन ने इसकी तैयारी पूरी कर ली है.

किसी प्रकार की दुर्घटना होती है, तो क्षति के जिम्मेवार आवासधारी स्वयं

बीएसएल प्रबंधन ने उक्त ब्लॉकों में रहने वाले आवासधारियों से अपील की है उक्त कार्य में सहयोग करें. यदि आवासधारी सहयोग नहीं करते हैं और किसी प्रकार की दुर्घटना होती है, तो क्षति के जिम्मेवार आवासधारी स्वयं होगें. इसके लिए प्रबंधन किसी भी प्रकार से जवाबदेह नहीं होगा. यहां उल्लेखन्नीय है कि बीएसएल प्रबंधन की ओर से एक कमेटी ने उक्त ब्लॉकों का सर्वे किया था. सर्वे के बाद संबंधित ब्लॉक की जांच की गयी. उसके बाद प्रबंधन ने उक्त निर्णय लिया है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें