25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Crime News: घर पर काला साया बताकर महिलाओं को बनाता था शिकार, पढ़िए हाइटेक साधु के ठगी की कहानी..

वरीय पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार ने साइबर डीएसपी सीमा देवी के नेतृत्व में विशेष टीम का गठन करके छापेमारी की. पुलिस ने दरभंगा में छापेमारी करके सबसे पहले गिरोह के सरगना प्रेम कुमार देव को गिरफ्तार किया.

Crime News बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में साधु बनकर हाइटेक तरीके से ठगी करने वाले अंतरराज्यीय ठग गिरोह के सरगना समेत तीन शातिरों को गिरफ्तार किया गया है. साइबर डीएसपी सीमा देवी के नेतृत्व में गठित विशेष टीम ने वीडियो फुटेज दरभंगा, हाजीपुर व मुजफ्फरपुर में छापेमारी करके तीनों शातिर को दबोचा है. उनकी पहचान दरभंगा जिला के अशोक पेपर मिल थाना क्षेत्र के मनोरथ निवासी प्रेम कुमार देव वह वर्तमान में थाना क्षेत्र के रामनगर आइटीआइ हाजीपुर के समीप रह रहा था.

लक्ष्मण लाल देव ववह वर्तमान में दरभंगा जिला के बहादुरपुर थाना के सूर्या हॉस्पिटल के निकट पंडासराय का रहने वाला है. तीसरा शातिर मुजफ्फरपुर जिले के कटरा थाना के तेहबाड़ा निवासी नागेंद्र कुमार लाल के रूप में किया गया है. वह वर्तमान में दरभंगा जिले के सदर थाना क्षेत्र के भेलु चक में रह रहा था. पकड़ाए तीनों शातिरों के पास से 34 हजार 700 रुपये नगद, सोने की दो भाग में खंडित चेन एक , ठगी व जालसाजी में इस्तेमाल होने की वाली कार एक, रंग- बिरंगे पत्थर – 60, मोबाइल फोन तीन व श्रीमद् भागवत गीता की छोटी पुस्तक एक बरामद किया गया है. पकड़े गए शातिरों ने अपने स्वीकारोक्ति बयान में बिहार के अलावा छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, उड़ीसा व झारखंड समेत आधा दर्जन से अधिक राज्यों में साधु का रूप धरकर आभूषण, नकदी, पीतल के बर्तन व कीमती सामान ठगने की घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है.

सिटी एसपी अवधेश सरोज दीक्षित ने बताया कि जिले में बीते दिनों साधु के वेश में आये अपराधियों के द्वारा भोली- भाली महिलाओं, बुजुर्ग व्यक्तियों को वास्तु शास्त्र, पितृ दोष, परिवार के किसी सदस्य की अकाल मृत्यु हो जाने की बात कह डराकर लोगों से रुपये, आभूषण ठगी करने का मामला सामने आया था. अप्रैल माह में इसी गिरोह के शातिरों ने सदर थाना क्षेत्र में एक बुजुर्ग दंपत्ति को घर में अकाल मृत्यु व पितृ दोष होने की बात कह डरा कर सोने की चेन व 20 हजार नकदी की ठगी कर लिया था. इस मामले में पीड़ित के बयान पर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गयी थी.

दूसरा मामला पानापुर करियात थाना क्षेत्र में इसी तर्ज पर मां – बेटी को परिवार के एक सदस्य का अकाल मृत्यु हो जाने की बात कह डरा धमकाकर 70 हजार रुपये ऑनलाइन के माध्यम से ठगी कर ली थी. इस मामले को लेकर साइबर थाने में बीते चार मई को प्राथमिकी दर्ज की गयी थी. मामला प्रकाश में आने के बाद वरीय पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार ने साइबर डीएसपी सीमा देवी के नेतृत्व में विशेष टीम का गठन करके छापेमारी की. पुलिस ने दरभंगा में छापेमारी करके सबसे पहले गिरोह के सरगना प्रेम कुमार देव को गिरफ्तार किया. उसकी निशानदेही पर सहयोगी लक्ष्मण लाल देव और नागेंद्र कुमार लाल कोक गिरफ्तार किया गया. सिटी एसपी ने यह भी बताया है कि इस गिरोह के टारगेट पर ग्रामीण इलाके के ऐसे बुजुर्ग दंपत्ति जो अपने घर में अकेले रहते हैं, या कम पढ़ी लिखी महिलाओं को भी ये अपराधी शिकार बनाते थे.

ये भी पढ़ें…

Lok Sabha Election 2024: उत्तर बिहार की सियासी बिसात पर अलग- थलग पड़ा मुस्लिम वोटर

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें