ऊपरी स्ट्रक्चर को काटने का काम शुरू

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

गांधी सेतु. प्रथम चरण में पाया संख्या एक से 12 के बीच होगा काम

दिसंबर माह तक काटने का रखा गया है लक्ष्य
हाजीपुर : महात्मा गांधी सेतु के ऊपरी स्ट्रक्चर को काटने का काम मंगलवार को शुरू हो गया. सेतु के पाया संख्या दो का ऊपरी स्ट्रक्चर को काटा गया. जर्मनी से मंगायी गयी जॉक क्रशर मशीन से कटिंग का काम किया जा रहा है. एसकॉन सिवमोस्ट ज्वाइंट वेंचर कंपनी द्वारा सेतु के जीर्णोद्धार का काम किया जा रहा है. कंपनी के इंजीनियरों ने बताया कि प्रथम चरण में पाया संख्या एक से बारह के बीच ऊपरी स्ट्रक्चर को काटने का काम किया जायेगा. इसके लिए दिसंबर माह तक लक्ष्य रखा गया है. इसके बाद सेतु के पश्चिमी लेन का आगे की कटिंग की जायेगी. सेतु को काटने से निकले स्क्रैच को फिलवक्त निर्माण एजेंसी के छौकिया स्थित वेस कैंप परिसर में रखा जा रहा है. भारत सरकार के निर्देश के अनुसार बाद में स्क्रैच को सड़क निर्माण कार्य के लिए संबंधित विभाग को सौंपा जायेगा.
जीर्णोद्धार के लिए सेतु को किया गया वनवे : गांधी सेतु के जीर्णोद्धार के लिए पाया संख्या एक से 12 के बीच पथ निर्माण विभाग द्वारा वनवे व्यवस्था की गयी है. पटना से आने वाले वाहनों को पाया संख्या 12 के समीप से डायवर्ट कर पूर्वी लेन से चलाया जाता है. सेतु के ऊपरी स्ट्रक्चर को काटने के दौरान आने-जाने वाले वाहनों अथवा वाहन व बाइक पर सवार लोगों को किसी प्रकार का खतरा नहीं हो, इसके लिए डिवाइडर के समीप घेराबंदी की गयी है. हालांकि घेराबंदी का काम दो माह पहले ही कर दिया गया था. बीते 11 जून को पहलेजाघाट- दीघा जयप्रकाश नारायण पुल से छोटे वाहनों का परिचालन शुरू होने के बाद ही सेतु के ऊपरी स्ट्रक्चर को काटने का काम शुरू करने की अटकले लगायी जाने लगी थी. लेकिन सेतु पर वाहनों के दबाव और यातायात की स्थिति की समीक्षा के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर को काटने की तिथि बढ़ा दी गयी थी.
क्या कहते है निर्माण एजेंसी के पदाधिकारी
सेतु के ऊपरी स्ट्रक्चर को काटने का काम शुरू कर दिया गया है. बीते 30 जून से सेतु के डिवाइडर को काट कर हटाने का काम शुरू किया गया था. मंगलवार से सेतु के रेलिंग और फुटपाथ को काट कर हटाया जा रहा है. दिसंबर माह तक पाया संख्या एक से बाहर के बीच ऊपरी स्ट्रक्चर को काट कर हटा दिया जायेगा.
नवनीत बर्धन, इंजीनियर, निर्माण एजेंसी
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें