1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. supaul
  5. supaul undertrial prisoner escaped by breaking window of prisoner ward of hospital ksl

Supaul: अस्पताल के कैदी वार्ड की खिड़की को तोड़ कर फरार हुआ इलाजरत विचाराधीन बंदी

सुपौल मंडल कारा में बंद विचाराधीन बंदी की तबीयत खराब होने पर जेल प्रबंधन ने इलाज के लिए भर्ती सदर अस्पताल में कराया, जहां सुरक्षा में चूक होने के कारण बंदी फरार होने में कामयाब रहा.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Supaul: टूटी पड़ी खिड़की.
Supaul: टूटी पड़ी खिड़की.
प्रभात खबर

Supaul: सुपौल मंडल कारा में बंद विचाराधीन बंदी की तबीयत खराब होने पर जेल प्रबंधन ने गुरुवार की रात सदर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया. अस्पताल में सुरक्षा में चूक होने के कारण तैनात पुलिसकर्मी को चकमा देकर बंदी वार्ड से गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी आधी रात को खिड़की तोड़ कर फरार होने में कामयाब रहा. घटना की जानकारी पर सदर थाना पुलिस सहित जेल प्रशासन बंदी की खोज बीच में जुट गयी है.

मोटरसाइकिल लूट कांड में पुलिस ने बंदी को किया था गिरफ्तार

जानकारी अनुसार, छातापुर थाना कांड संख्या 391/ 21 के अप्राथमिकी अभियुक्त छातापुर वार्ड नंबर-13 निवासी मोहम्मद हजरत को छातापुर पुलिस ने मोटरसाइकिल लूट कांड में 19 मार्च को गिरफ्तार किया था. उसे 20 मार्च को न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत करने के बाद उसे जेल में रखा गया था. जेल प्रशासन के अनुसार बंदी के पेट मे दर्द हो रहा था. उसे उपचार के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

सुरक्षा में तैनात थे एक पुलिस ऑफिसर और चार पुलिस जवान

अस्पताल में तैनात चिकित्सक के अनुसार बंदी को सदर अस्पताल में भर्ती कर लिया गया था. जेल प्रशासन द्वारा सदर अस्पताल के बने कैदी वार्ड में उक्त बंदी को भी शिफ्ट कर दिया गया. यहां सुरक्षा के लिए एक पुलिस ऑफिसर सहित चार पुलिस जवान तैनात थे. बताते चलें कि उक्त कैदी वार्ड में करीब एक सप्ताह पहले से दो कैदियों का इलाज चल रहा था.

लोहे की खिड़की काट कर बंदी हुआ फरार, महकमे में हड़कंप

कैदी वार्ड में बने बाथरूम के सामने लोहे की खिड़की को काट कर हाजत के पीछे के रास्ते से गुरुवार की आधी रात करीब 12 बजे फरार हो गया. बंदी भागने के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मचा गया. पुलिस की कई टीम बंदी की तलाश में जुटी है. जेल अधीक्षक ओमप्रकाश शांति भूषण ने बताया कि छातापुर थाना कांड संख्या 391,392/ 21 के अभियुक्त को 20 मार्च को जेल में बंद किया गया था. पेट दर्द की शिकायत के बाद उसे उपचार के लिए सदर अस्पताल भेजा गया था.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें