34.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

सोनपुर मेला में लगेगा यातायात पुलिस का स्टॉल, मेगा फोन व स्पीड गन की होगी प्रदर्शनी, जानिए क्या होगा लाभ

Sonpur Mela 2023: सोनपुर मेला में यातायात पुलिस का स्टॉल लगाया जाएगा. यहां मेगा फोन व स्पीड गन की प्रदर्शनी होगी. इससे लोगों को लाभ भी होने जा रहा है. मालूम हो कि सोनपुर मेले को देखने के लिए लोग दूर- दूर से पहुंचते हैं.

Sonpur Mela 2023: बिहार के प्रसिद्ध सोनपुर मेले में यातायात पुलिस का स्टॉल लगेगा. यहां मेगा फोन व स्पीड गन की प्रदर्शनी लगाई जाएगी. इससे लोगों को लाभ भी होने जा रहा है. सोनपुर मेरा विश्व का सबसे बड़ा पशु मेला है. वहीं, बिहार और मेले का खास रिश्ता रहा है. सोनपुर मेले में इस बार कई तरह के स्टॉल लगाए गए है. पशु मेले के घोड़े बाजार में दो फीट का बौना घोड़ा लोगों के आकर्षण का केंद्र बन गया है. यह सभी का ध्यान अपनी ओर खींच रहा है. देश के अलावा विदेशों से भी लोग इस मेले को देखने के लिए आते हैं. यहां कई तरह के घोड़े है. इन्हें देखने के लिए भी लोग पहुंचते है. इनकी कीमत लाखों में है.


दूर- दूर से मेले में पहुंचते है लोग

सोनपुर मेले में कई तरह की चीजों को देखने के लिए लोग आते हैं. इस ऐतिहासिक मेले में दूर- दूर से लोग आकर खरीददारी करते हैं. 26 दिसंबर तक सोनपुर मेला चलने वाला है. 32 दिनों के लिए इस मेले का आयोजन किया गया है. यहां नक्शा भी उपलब्ध है. साथ ही फूलों के बाजार को भी सजाया गया है. यहां लोगों के लिए गाइड का भी खास इंतजाम किया गया है. मालूम हो कि इसे एशिया का सबसे बड़ा मेला कहा जाता है. मेले में विदेशी पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए 20 स्विस कॉटेज को बनाया गया है. इसमें रहने का खर्च दो हजार के आसपास का है. टूरिस्ट गाइड के लिए भी रहने, खाने, ठहरने की खास व्यवस्था की गई है. पटना से सोनपुर के लिए स्पेशल टूट पैकेज भी है. उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने मेले का उद्घाटन किया था.

Also Read: उत्तराखंड सुरंग हादसा: बिहार के मजदूर भी सुरक्षित निकले बाहर, जानिए राज्य सरकार श्रमिकों को क्या देती है लाभ
स्टॉल की संख्या में पहले के मुकाबले आई कमी

विश्व विख्यात सोनपुर मेले में घोड़ा बाजार, बकरी बाजार और कुत्ता बाजार में काफी रौनक देखने को मिल रही है. सोनपुर मेले में दो फुट के घोड़े को देखने के लिए लोग दूर- दूर से पहुंच रहे हैं. हरिहर क्षेत्र का विश्व विख्यात मेला धार्मिक दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण है. कृषि कार्य के लिए लोग यहां से बैल व भैंस लेकर जाते थे. राजा- महाराजाओं की सेना को मजबूत करने के लिए इस मेला को जाना जाता था. इतिहासकार के अनुसार चंद्रगुप्त से लेकर मुगल काल तक कई देशों के प्रतिनिधियों ने यहां से घोड़ा , तलवार आदि की खरीददारी की है. लेकिन, बदलते समय के साथ इस मेले में भी बदलाव देखने को मिला है. स्टॉल की संख्या में पहले के मुकाबले कमी जरूर आई है. लेकिन, पशु प्रेमी आज भी यहां पहुंचते हैं. बताया जाता है कि कई ऐसे लोग यहां मिल जाते है, जो 30 से 40 साल से लगातार इस मेले को देखने के लिए पहुंचते है.

Also Read: बिहार के बेरोजगार युवाओं के लिए नौकरी का सुनहरा मौका, 400 सीटों पर होगी बहाली, पढ़े पूरी डिटेल
यातायात पुलिस के काम संचालन की मिलेगी जानकारी

सोनपुर मेले में आकर्षण फूलों को भी बेचा जा रहा है. इसे खरीदने के लिए किसान बैलों की जोड़ी से साथ पहुंचते है. घर का बगीचा सजाने के लिए लोग यहां से कई तरह के पौधे की खरीददारी करते हैं. गेंदा, गुलाब, जूही, सिजनल फूल सहित कई तरह के फूल यहां उपलब्ध है. लोग यहां पर आम व लीची के पौधों की भी खरीददारी करते है. दस से लेकर बीस हजार रूपए तक के पौधे यहां मौजूद है. इसके अलावा यहां यातायात पुलिस का भी स्टॉल सजाया जाएगा. इसमें आईट्रिपल सी के जरिए फिक्स कैमरा, पीटीजेड लाइट, पब्लिक एड्रेस सिस्टम, अडेप्टिव ट’फिक कंट्रोल सिस्टम, लािट, मेगा फोन, स्पीड गन आदि की प्रदर्शनी लगाई जाएगी. इससे लोगों को सबसे बड़ा लाभ यह मिलेगा कि उन्हें यह जानकारी मिलेगी कि यातायात पुलिस आखिर कैसे अपने काम का संचालन करती है.

Also Read: बिहार: सोनपुर मेले में सजा पशुओं का बाजार, मनोरंजन के साधन से लेकर लजीज आइटम से हो रूबरू, देखें तस्वीरें

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें