27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

सीएम ने तीन डाक्टरों व कर्मियों से किया शोकॉज

सदर अस्पताल के कुप्रबंधन के कारण लचर स्वास्थ्य सेवा और दो दिनों कर विद्युत आपूर्ति बाधित होने के मामले में स्वास्थ्य विभाग के वरीय पदाधिकारियों के सख्त होने के बाद सिविल सर्जन डॉक्टर अनिल कुमार भट्ट ने सदर अस्पताल के तीन डॉक्टरों,पैरामेडिकल स्टॉफ एवं आउटसोर्सिंग से जेनरेटर संचालन करने वाली एजेंसी ज्ञान भारती शिक्षण एवं प्रशिक्षण संस्थान के संचालक से शो कॉज किया है.

सीवान.सदर अस्पताल के कुप्रबंधन के कारण लचर स्वास्थ्य सेवा और दो दिनों कर विद्युत आपूर्ति बाधित होने के मामले में स्वास्थ्य विभाग के वरीय पदाधिकारियों के सख्त होने के बाद सिविल सर्जन डॉक्टर अनिल कुमार भट्ट ने सदर अस्पताल के तीन डॉक्टरों,पैरामेडिकल स्टॉफ एवं आउटसोर्सिंग से जेनरेटर संचालन करने वाली एजेंसी ज्ञान भारती शिक्षण एवं प्रशिक्षण संस्थान के संचालक से शो कॉज किया है. सिविल सर्जन ने इस मामले में सदर अस्पताल के प्रभारी अधीक्षक डॉ. मोहम्मद इसराइल एवं अस्पताल प्रबंधक कमलजीत कुमार को तत्काल क्लीनचिट दिया है. सदर अस्पताल के मूर्छक डॉक्टर सत्यपाल सिंह से भी शो कॉज पूछा है. 14 जून को डॉक्टर सत्यपाल की ड्यूटी प्रभारी अधीक्षक द्वारा एंबुलेंस पर लगायी गयी थी.उनकी जगह ओटी में दूसरे मूर्छक की ड्यूटी नहीं लगाये जाने से ऑपरेशन में काफी विलंब भी हुआ. शोकॉज वरीय डॉक्टर सुनील कुमार सिंह व अन्य से सिविल सर्जन ने अस्पताल के सीनियर सर्जन डॉ. सुनील कुमार सिंह, मुर्छक डॉक्टर सत्यपाल, डा. अनीता शल्य कक्ष सहायक पवन कुमार, जीएनएम पूनम कुमारी तथा परिचारी जनार्दन से शोकॉज किया है. उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि सदर अस्पताल के शल्य कक्ष में किसी व्यक्ति को मोबाइल की रोशनी में स्टीच करते हुए फोटो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल किया गया है. उस दिन बिजली आपूर्ति में उतार चढ़ाव था. बिना पूर्ण तैयारी के आपके द्वारा ऑपरेशन क्यों किया जा रहा था. इस कृत से अस्पताल की छवि धुमिल हुई है. क्यों नहीं आप सभी के विरूद्ध अनुशासनिक कार्रवाई हेतु विभाग को अनुशंसा भेज दी जाय.सिविल सर्जन ने 24 घंटे के अंदर अपना स्पष्टीकरण समर्पित करने का निर्देश देते हुए सभी डॉक्टरों एवम कर्मचारियों का तत्काल प्रभाव से वेतन अगले आदेश तक बंद कर दिया है. एजेंसी संचालक से भी शोकॉज सिविल सर्जन ने जनरेटर आउटसोर्सिंग एजेंसी पटना के ज्ञान भारती शिक्षण एवं प्रशिक्षण संस्थान के संचालक से किया है. उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि 14 जून को सदर अस्पताल में बिजली आपूर्ति में उतार चढ़ाव था. आपको निर्वाध रूप से जेनरेटर चलाने का आदेश था.समय से जेनरेटर नहीं चलाने के कारण एस.एन.सी.यू. से लेकर पूरे अस्पताल में बिजली की सुविधा नहीं रहने से मरीजो को काफी परेशानी हुई तथा सीएस ने लिखा है की क्यों नहीं इस लापरवाही के लिए आपके संस्थान की निविदा समाप्त करने हेतु आवश्यक कार्रवाई की जाय.उन्होंने निर्देश दिया है कि 24 घंटे के अन्दर अपना स्पष्टीकरण समर्पित करें.तत्काल प्रभाव से उक्त तिथि का भुगतान अवरूद्ध किया जाता है. जीएनएम सरिता कुशवाहा से शोकॉज सिविल सर्जन ने जीएनएम सरिता कुशवाहा से शोकॉज करते हुए कहा है की 15 जून को एस.एन.सी.यू कक्ष में 8.30 बजे रात्रि में मेरे द्वारा निरीक्षण किया गया है.निरीक्षण के दौरान आप अनुपस्थित थी. बिना किसी सूचना के कर्तव्य से अनुपस्थित रहना कर्तव्य के प्रति घोर लापरवाही का प्रतीक है.क्यों नहीं इस लापरवाही के लिए आपके विरुद्ध अनुशासनिक कार्रवाई हेतु विभाग को अनुशंसा भेज दी जाय. उन्होंने निर्देश दिया है कि 24 घंटे के अन्दर अपना स्पष्टीकरण समर्पित करें. जीएनएम सरिता कुशवाहा का तत्काल प्रभाव से उक्त अवधि का वेतन अगले आदेश तक अवरुद्ध कर दिया गया है. सिविल सर्जन ने एसएनसीयू के मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर संजीव कुमार से किया है. उन्होंने अपने पत्र में कहा है कि 15 जून की रात्रि 8.30 बजे मेरे द्वारा एसएनसीयू का निरीक्षण किया गया. निरीक्षण के दौरान जीएनएम अंजली कुमारी उपस्थित थी. उनके द्वारा बताया गया कि आप 8.30 बजे अपने कर्तव्य से चले गये. जबकि रोस्टर डियूटी के अनुसार आपको 9.00 बजे रात्रि तक थी. उन्होंने कहा है कि क्यों नहीं इस लापरवाही के विरुद्ध अनुशासनिक कार्रवाई हेतु विभाग को अनुशंसा भेज दी जाय. 24 घंटे के अन्दर अपना स्पष्टीकरण समर्पित करने का निर्देश सीएस द्वारा दिया गया है. क्या कहते हैं जिम्मेदार सदर अस्पताल में व्याप्त अव्यवस्था एवं दो दिनों विद्युत आपूर्ति बाधित होने के मामलें में तीन डॉक्टर, जनरेटर आउटसोर्सिंग संचालक एवं पैरामेडिकल स्टाफ से शो कॉज किया गया है. 24 घंटे के अंदर जवाब देने के लिए कहा गया है. इस मामले में प्रभारी अधीक्षक एवम अस्पताल प्रबंधक भी दोषी नजर आ रहें हैं.इन दोनों लोगों से भी जल्द शो कॉज किया जायेगा. डॉ.अनिल कुमार भट्ट, सिविल सर्जन,सीवान.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें