25.4 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

सीतामढ़ी: भीड़ के हत्थे चढ़े तीन अपराधी, कूच-कूच कर मार डाला

सीतामढ़ी: व्यवसायी की हत्या कर भाग रहे तीन अपराधी ग्रामीणों के हत्थे चढ़ गये, जिन्हें कूच-कूच कर मार दिया गया. मामला नगर थाना क्षेत्र के बरियारपुर टोले लत्तीपुर का है, जहां बुधवार की शाम इलेक्ट्रॉनिक की दुकान बंद कर घर जा रहे अवध किशोर सिंह पर चार अपराधियों ने हमला किया था. हमले में व्यवसायी […]

सीतामढ़ी: व्यवसायी की हत्या कर भाग रहे तीन अपराधी ग्रामीणों के हत्थे चढ़ गये, जिन्हें कूच-कूच कर मार दिया गया. मामला नगर थाना क्षेत्र के बरियारपुर टोले लत्तीपुर का है, जहां बुधवार की शाम इलेक्ट्रॉनिक की दुकान बंद कर घर जा रहे अवध किशोर सिंह पर चार अपराधियों ने हमला किया था. हमले में व्यवसायी के बेटे रत्नेश सिंह (13) की मौत हो गयी थी, जबकि व्यवसायी को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया. बाद में उन्हें इलाज के लिए मुजफ्फरपुर भेज दिया गया. इधर, घटना की सूचना पर एसपी समेत कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंच चुकी थी.

जानकारी के मुताबिक रोज की तरह अवध किशोर सिंह अपनी दुकान बंद करके मोटरसाइकिल से घर जा रहे थे. अवध किशोर का बेटा मोटरसाइकिल पर पीछे बैठा था. इसी बीच बरियारपुर टोले लत्तीपुर के पास पीछे से दो पल्सर पर सवार चार अपराधियों ने अवध किशोर पर हमला कर दिया. गोली पहले बेटे रत्नेश के गरदन में लगी और उसे छेदते हुए व्यवसायी की पीठ में धंस गई. हमले के बाद व्यवसायी बाइक से गिर गया. जबकि बेटे की मौत मौके पर ही हो गई. ग्रामीणों की मदद से व्यवसायी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां से एसकेएमसीएच, मुजफ्फरपुर रेफर कर दिया गया. बताया जाता है कि हमला के बाद अपराधी भागने लगे, तो ग्रामीणों ने फोन के माध्यम से आसपास के लोगों को इसकी जानकारी दे दी. इसके बाद मौके से लगभग एक किलोमीटर दूर सड़क पर ट्रैक्टर खड़ा कर दिया गया. सड़क पर ट्रैक्टर देख कर अपराधियों ने अपनी बाइक खेत में उतार दी और पैदल भागने लगे लेकिन ग्रामीणों ने अपराधियों को चारों ओर से घेर लिया. इस दौरान एक अपराधी फरार होने गया जबकि तीन ग्रामीणों के हत्थे चढ़ गये.

बताते हैं कि इसके बाद ग्रामीणों ने अपराधियों की पिटाई शुरू कर दी. जिसको जो मिला उसी से अपराधियों पर टूट पड़ा. जब अपराधी बेसुध हो गये तो इनका मुंह कूच-कूच कर मार डाला गया. सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने व्यवसायी के बेटे के शव को कब्जे में ले लिया. इसके बाद उस स्थान पर पहुंची, जहां पर हमलावरों को ग्रामीणों ने मार डाला था. रात लगभग साढ़े ग्यारह बजे अपराधियों के शवों को उठाने की कवायद शुरू हुई. अपराधियों को इस तरह से पीटा गया था कि उनके चेहरे की पहचान मुश्किल हो रही थी. पुलिस की ओर से तीन अपराधियों की शिनाख्त करने की कोशिश की गयी लेकिन सफलता नहीं मिली. मौके से मिली मोटरसाइकिल के माध्यम से पुलिस इनकी पहचान करने में जुट गयी है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें