खाली जगहों का उपयोग पार्क-भवन बना कर करें

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

समस्तीपुर : पटना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश एपी शाही ने व्यवहार न्यायालय, समस्तीपुर का औचक निरीक्षण किया़ निरीक्षण के क्रम में वे सभी सेशन कोर्ट में गये. खाली जगहों में भवन व पार्क बनाकर उपयोग करने का निर्देश दिया़ न्यायिक पदाधिकारियों से कई बिन्दू पर चर्चा की. मौके पर जिला एवं सत्र न्यायाधीश चंद्रशेखर झा भी मौजूद थे़ प्रथम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश सुजीत कुमार श्रीवास्तव, प्रधान न्यायाधीश पीयुष गोयल दीक्षित आदि उपस्थित थे.

न्यायालय प्रकोष्ठ में अधिवक्ता संघ के सचिव विमल किशोर राय और अध्यक्ष किरण सिंह के नेतृत्व एक प्रतिनिधि मंडल मुख्य न्यायाधीश से मिलकर मांगों का एक ज्ञापन सौंपा़ अधिवक्ताओं की समस्याओं पर भी चर्चा हुई़ वहीं मुख्य न्यायाधीश ने क्लास थ्री के कर्मियों की कमी को दूर करने का आश्वासन दिया.
शाहपुर पटोरी : पटना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायधीश एपी शाही ने सोमवार को पटोरी व्यवहार न्यायालय का निरीक्षण किया. निरीक्षण के दौरान उन्होंने व्यवहार न्यायालय के अधिवक्ताओं से भी वार्ता की. अधिवक्ताओं ने न्यायाधीश को एक मांग पत्र सौपा. मुख्य न्यायाधीश ने व्यवहार न्यायालय के भवन निर्माण के लिए स्थल का निरीक्षण किया.
उन्होंने पीएचसी के भवन में चलाये जा रहे व्यवहार न्यायालय के भवन एवं कार्यालय का भी निरीक्षण किया. साथ ही जोड़पुरा स्थित व्यवहार न्यायालय के प्रस्तावित भूमि का भी देखा किया. इस क्रम में अधिवक्ताओं ने बताया कि पीएचसी पौने दो एकड़ में अवस्थित है. उन्होंने व्यवहार न्यायालय के परिसर को बाउंड्री किये जाने का भी चर्चा की.
इससे पूर्व न्यायाधीश को गार्ड आफ ऑनर दिया गया. निरीक्षण के क्रम में डीजी चन्द्रशेखर झा, डीएम दिवेश सेहरा, एसी अजय कुमार राय, व्यवहार न्यायालय के सब जज अभिषेक कुणाल, मुंशीफ जज अमरेन्द्र प्रसाद, एसडीओ मो़ सफीक, एएसपी विजय कुमार, सीओ चंदन कुमार, थानाध्यक्ष गगन कुमार सुधाकर, अधिवक्ता संजीव कुमार, अनिल कुमार शर्मा, रामकुमार पांडेय, महावीर ठाकुर, डा़ जयनाथ ठाकुर, राणा मनोज सिंह, संजय कुमार पांडेय, नवल किशोर सिंह, नरेन्द्र सिंह, जितेन्द्र कुमार, रामयतन राय, सदानंद राय, दीपक कुमार, विजय प्रकाश पांडेय, रमेश पंडित, नवीन कुमार शर्मा, वेदप्रकाश तिवारी, मुरली मनोहर कुमार, वीरेन्द्र भगत, जयनारायण चौधरी, ओमप्रकाश चौधरी, रामविनय कुमार, अनिमेष कुमार आदि मौजूद थे. मुख्य न्यायाधीश से अधिवक्ताओं ने व्यवहार न्यायालय के भवन के लिए उचित स्थल की चर्चा की. मौके पर अनवर हुसैन, ठाकुर ओंकार नाथ सिंह, मनीष कुमार, कृष्णकांत पासवान, सुमित कुमार, विशाल कुमार, मुन्ना सिंह, गौरव कुमार,राजेश कुमार सिंह, एपीपी कन्हैया कुमार, विकास कुमार मौजूद थे.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें