26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

सहरसा जंक्शन पर खुलेगा रेल कोच रेस्टोरेंट

लैंड लोकेशन फाइनल कर जल्द ही रेलवे आईआरसीटीसी को सौंपेगी रिपोर्ट

लैंड लोकेशन फाइनल कर जल्द ही रेलवे आईआरसीटीसी को सौंपेगी रिपोर्ट यात्रियों के लिए अलावा आम लोगों को भी मिलेगी खान-पान की सुविधा अमृत भारत योजना के तहत चयनित स्टेशनों पर खुलेगा रेलवे कैंटीन लोकल व्यंजनों के अलावा राष्ट्रीय स्तर के व्यंजन होंगे उपलब्ध सहरसा. अब तक आप होटल या किसी अन्य जगहों पर रेस्टोरेंट में खानपान का आनंद उठाते रहे हैं. अब शहरवासी रेल कोच में देसी और लोकल व्यंजनों का लुफ्त उठा सकेंगे. सहरसा में रेल कोच में शानदार रेस्टोरेंट खोले जाने की तैयारी में रेलवे जुट गया है. सहरसा के सर्कुलेटिंग एरिया में लैंड लोकेशन फाइनल कर जल्द ही रेलवे आईआरसीटीसी को रिपोर्ट भेजेगी. उम्मीद है कि अगले साल शुरुआत में ही रेल कोच में रेस्टोरेंट का लोग लुफ्त उठा सकेंगे. फिलहाल रेलवे की तैयारी अंतिम चरण में है. रेल कोच में रेस्टोरेंट आईआरसीटीसी के जिम्मे होगा. पूर्व मध्य रेलवे के अंतर्गत सहरसा सहित अन्य मेजर स्टेशनों पर रेलवे रेल कोच में रेस्टोरेंट तैयार करने की कोशिश में है. उम्मीद है कि समस्तीपुर डिवीजन का सहरसा पहला स्टेशन होगा. सिमरी बख्तियारपुर, मधेपुरा, बनमनखी में मिलेगी कैंटीन की सुविधा अमृत भारत योजना से चयनित रेलवे स्टेशनों पर अब रेलवे की अपनी कैंटीन होगी. नये भवन में कैंटीन उपलब्ध होगी. जहां यात्रियों को वहां के मशहूर व्यंजनों के साथ हर तरह के मनचाही डिश उपलब्ध होंगे. इसके अलावा राष्ट्रीय स्तर के भी व्यंजन कैंटीन में उपलब्ध होंगे तथा यात्रियों को उचित दर पर खाना परोसा जायेगा. यह सुविधा फिलहाल अभी अमृत भारत योजना के अंतर्गत स्टेशनों पर ही उपलब्ध होगी. यहां बता दें कि अमृत भारत योजना के अंतर्गत वर्ष 2023 में सहरसा जंक्शन सहित देश भर के कई रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास कार्य की आधारशिला रखी गयी थी. इन स्टेशनों के पुर्नविकास का कार्य तेजी से चल रहा है. अमृत भारत योजना के तहत स्टेशनों के यह एकीकृत दृष्टिकोण रेलवे स्टेशन के आसपास के क्षेत्र पर केंद्रित शहर के समग्र शहरी विकास के विजन से प्रेरित होगा. पुनर्विकास कार्य से अच्छी तरह से सुव्यवस्थित यातायात सुविधा, इंटर-मॉडल एकीकरण और यात्रियों के मार्गदर्शन के लिए अच्छी तरह से डिजाइन किये गये चिन्हों को सुनिश्चित करने के साथ-साथ यात्रियों के लिए आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध होंगी. स्टेशन भवनों का डिजाइन स्थानीय संस्कृति, विरासत और वास्तुकला से प्रेरित होगा. लोकल व्यंजनों को भी किया जायेगा शामिल रेलवे कैंटीन में लोकल व्यंजनों को भी शामिल किया जायेगा. जिसमें शहर की जो सबसे मशहूर खाद्य सामग्री होगी. उसे व्यंजनों में शामिल किया जायेगा. ताकि राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उस शहर की पहचान बन सके. रेस्टोरेंट लुक में होगा कोच ट्रेन के कोच को बिल्कुल नये डिजाइन से रेस्टोरेंट लुक में तैयार किया जायेगा. जो पूरी तरह से एयर कंडीशन होगा. यह काफी बड़े आकार का अंदर से डिजाइन होगा. जहां काफी सारे लोग एक साथ बैठ सके. – सहरसा जंक्शन अमृत भारत योजना की खर्च राशि. 41 करोड़ – सिमरी बख्तियारपुर स्टेशन पर खर्च राशि 14.55 करोड़ कहां-कहां होगा रेलवे का रिफ्रेशमेंट रूम सहरसा जंक्शन सिमरी बख्तियारपुर मधेपुरा बनमनखी सुपौल सलोना दरभंगा सहरसा जंक्शन के सर्कुलेटिंग एरिया में खास सुविधाएं उपलब्ध – सिटी सेंटर के रूप में होगा विकास – रूफ प्लाजा, शॉपिंग जोन, फूड कोर्ट, चिल्ड्रन प्ले एरिया जैसी मिलेगी सुविधा – यात्री की सहूलियत के लिए मल्टी लेवल पार्किंग की मिलेगी सुविधा – लिफ्ट व एक्सीलरेटर की मिलेगी सुविधा – एग्जीक्यूटिव लाउंज वेटिंग एरिया, दिव्यांगजन अनुकूल सुविधा भी मिलेग – सभी प्लेटफार्म के सरफेस का होगा जीर्णोद्धार – सभी प्लेटफार्म पर रैंप और एक्सीलेटर की मिलेगी सुविधा – डिजिटल अनाउंसमेंट डिजिटल लॉक सिस्टम से लैस होगा स्टेशन – शुद्ध पेयजल और बेहतर प्रकाश की मिलेगी सुविधा – बाहरी परिसर हाई मास्ट लाइट से होंगे गुलजार – अपर और सामान्य क्लास के होंगे वेटिंग रूम – सर्कुलेटिंग एरिया के बीच पोस्ट – लैंडस्कैपिंग और ऑटोमेटिक पार्किंग की मिलेगी सुविधा … सहरसा में रेल कोच में यात्रियों के अलावा आम लोगों को भी रेस्टोरेंट की सुविधा मिलेगी. रेल कोच में रेस्टोरेंट खोलने के लिए सर्कुलेटिंग एरिया के पास जमीन का सर्वे किया जा रहा है. जैसे ही जमीन का लोकेशन फाइनल होता है. आईआरसीटीसी को रिपोर्ट भेजी जायेगी. उम्मीद है कि अगले साल तक लोगों को यह सुविधा मिल सकेगी. विनय कुमार श्रीवास्तव, डीआरएम, समस्तीपुर डिवीजन …………………………………………………………………………………… सहरसा बांद्रा में चला विशेष चेकिंग अभियान सहरसा. मंगलवार शाम खुलने वाली सहरसा-बांद्रा हमसफर सुपरफास्ट ट्रेन में विशेष चेकिंग अभियान चलाया गया. यह चेकिंग अभियान एसीएम आरके सिन्हा के निर्देश पर सहरसा जंक्शन पर ही चलाया गया. चेकिंग टीम अभियान में सहरसा के चीफ टीटीआई ईश्वर प्रताप सिंह, रणजीत सिंह के अलावा शिव शंकर प्रसाद, दयानंद यादव सहित कई चेकिंग टीम मौजूद थी. इस दौरान सभी श्रेणी के कोच को चेकिंग की गयी.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें