24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

इग्नू जून की संत्रात परीक्षा सात जून से 15 जुलाई तक

देश में 881, विदेश में 19 एवं कैदियों के लिए जेल में 81 परीक्षा केंद्र बनाया गया है

प्रतिनिधि, सहरसा. इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय की सत्रांत परीक्षा जून का आयोजन सात जून से 15 जुलाई तक किया जा रहा है. जिसके लिए देश में 881, विदेश में 19 एवं कैदियों के लिए जेल में 81 परीक्षा केंद्र बनाया गया है. उक्त परीक्षा में 420 कार्यक्रमों के 2831 पाठ्यक्रमों के कुल नौ लाख 10 हजार 881 परीक्षार्थी शामिल होंगे. क्षेत्रीय निदेशक इग्नू क्षेत्रीय केंद्र डॉ मिर्जा नेहाल अहमद वेग ने बताया कि परीक्षा का आयोजन के लिए पूरी तैयारी कर ली गयी है. क्षेत्रीय केंद्र स्तर से सभी परीक्षा केंद्रों पर आवश्यकतानुसार पर्यवेक्षकों की भी नियुक्ति की गयी है. जिससे कदाचारमुक्त परीक्षा सम्पन्न कराई जा सके. इग्नू क्षेत्रीय केंद्र सहरसा के तहत आठ जिलों में कुल 15 परीक्षा केंद्र बनाया गया है.जिसमें सहरसा में एमएलटी कॉलेज, एमएचएम कॉलेज सोनवर्षा राज एवं राजकीय पॉलिटेक्निक, पूर्णियां में पूर्णियां कॉलेज पूर्णियां, पूर्णियां महिला महाविद्यालय एवं जीएलएम कॉलेज बनमनखरी, कटिहार में डीएस कॉलेज कटिहार, किशनगंज में मारवाडी कॉलेज किशनगंज, अररिया में अररिया कॉलेज अररिया, फारबिसगंज कॉलेज फारबिसगंज एवं कलावती डिग्री कॉलेज, रानीगंज, सुपौल में बीएसएस कॉलेज सुपौल, मधेपुरा में टीपी कॉलेज मधेपुरा एवं केपी कॉलेज मुरलीगंज व खगड़िया में कोसी कॉलेज खगड़िया को परीक्षा केंद्र बनाया गया ह. इन सभी परीक्षा केंद्रों पर 19 हजार 384 परीक्षार्थी अलग-अलग पठ्यक्रमों की परीक्षा में भाग लेंगे. उन्होंने कहा कि वैसे परीक्षार्थी जिन्होंने 25 मई तक अपना परीक्षा फॉर्म विलंब शुल्क के साथ क्षेत्रीय केंद्र पर जमा किया है या परीक्षा फॉर्म भरने के बाद परीक्षा केंद्र बदलने के लिए आवेदन किया है वे इग्नू के वेबसाईट से पुनः अपना नया परिवर्तित प्रवेश पत्र डाउनलोड कर लेंगे. परीक्षा में भाग लेने वाले सभी परीक्षार्थियों को सूचित किया कि परीक्षा में इग्नू के वेबसाईट से डाउनलोड किया हुआ प्रवेश पत्र एवं इग्नू द्वारा जारी शिक्षार्थी परिचय-पत्र डाउनलोड कर अपने साथ अवश्य रखेंगे अन्यथा परीक्षा में शामिल होने की अनुमति नहीं दी जायेगी. डाउनलोड किए हुए प्रवेश पत्र के निर्देशों को ध्यानपूर्वक पढ़ेंगे एवं उसका पालन करना सुनिश्चित करेंगे. परीक्षा में किसी प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक्स उपकरण, किताब, लेख या अन्य सामग्री जिससे नकल, कदाचार की मंशा प्रतीत होती है के साथ पकड़े जाने पर नियमानुसार दंड के भागी होंगे.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें