1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. show cause to patna hospital in black fungus death issue know latest update of coronavirus in bihar skt

पटना में ब्लैक फंगस के मरीज की आंख व जबड़े को बाहर निकाला, मौत के बाद अब अस्पताल को शोकॉज, जानें वजह

करीब पांच महीने के बाद एकबार फिर पटना में ब्लैक फंगस से संक्रमित मरीज की मौत हो गयी. जिस अस्पताल में मरीज का ऑपरेशन किया गया उस अस्पताल से अब स्पष्टीकरण मांगा जाएगा. जानिये कहां हुई चूक...

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
ब्लैक फंगस
ब्लैक फंगस
प्रभात खबर

Black Fungus In Bihar: बिहार में कोरोना के मामले फिर से सामने आने लगे हैं. अभी स्थिति अनियंत्रित नहीं हुई है. इस बीच करीब पांच महीने के बाद अब ब्लैक फंगस से एक मौत के मामले ने पूरे प्रशासन को चौंका दिया है. राजधानी पटना में पिछले दिनों दानापुर के रहने वाले एक 45 वर्षीय व्यक्ति की मौत ब्लैक फंगस की वजह से हो गयी. अब मौत के बाद उस अस्पताल से शोकॉज मांगा जाएगा.

दानापुर के 45 वर्षीय मरीज की मौत

पटना के एक प्राइवेट अस्पताल में दानापुर के रहने वाले 45 वर्षीय मरीज की मौत हो गयी. मरीज ब्लैक फंगस संक्रमण की चपेट में पड़ गया था. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, मरीज के परिजनों का कहना है कि जब उसकी हालत बिगड़ी तो अस्पताल लाए. यहां भर्ती होने के बाद उनका इलाज चलने लगा. स्थिति बिगड़ी तो डॉक्टरों ने कहा कि संक्रमण के कारण जबड़ा और आंख निकालना पड़ेगा. इसी अस्पताल में सर्जरी हुई लेकिन मरीज की मौत हो गयी.

अस्पताल को शोकॉज

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, जिस अस्पताल में ब्लैक फंगस के मरीज की मौत सर्जरी के बाद हुई है, उस अस्पताल को शोकॉज जारी किया जाएगा. ब्लैक फंगस से मौत की सूचना पोर्टल पर अपलोड क्यों नहीं की गयी, इसे लेकर अस्पताल प्रशासन से स्पष्टीकरण मांगा जाएगा. अस्पताल से यह पूछा जाएगा कि आखिर मरीज के इलाज और मौत की जानकारी को पोर्टल पर अपलोड क्यों नहीं किया गया.

स्पष्टीकरण की वजह

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, मृतक के परिजनों की मानें तो सर्जरी करने वालों कई दिग्गज सर्जन शामिल थे. जिसमें पीएमसीएच के एक सर्जन, एक बड़े प्राइवेट अस्पताल के डॉक्टर व अन्य शामिल रहे. सभी को अधिसूचित रोग के मरीजों की जानकारी तत्काल पोर्टल पर देने को कहा गया है. बता दें कि यह मरीज कोरोना संक्रमित नहीं थे. वहीं देशभर में कोरोना के मामले फिर बढ़ने लगे हैं. बिहार में भी मरीज मिलने लगे हैं.

POSTED BY: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें