25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Patna : एटीएम कार्ड व ओटीपी की जानकारी लेकर खाते से 5.25 लाख उड़ाये

साइबर बदमाशों ने निजी कंपनी कर्मी के एटीएम कार्ड व ओटीपी की जानकारी लेकर खाते से 5.25 लाख रुपये उड़ा दिये. वहीं, रेस्टोरेंट की रेटिंग कर कमाने का झांसा देकर पटेल नगर युवती से तीन लाख ठग लिये.

पटना. साइबर बदमाशों ने निजी कंपनी कर्मी व महेंद्रू निवासी इंद्रजीत कुमार निराला के एटीएम कार्ड व ओटीपी की जानकारी ली और खाते से 5.25 लाख रुपये की निकासी कर ली. इस संबंध में इंद्रजीत ने साइबर थाने में केस दर्ज कराया है. वे किसी निजी व्यक्ति के खाते में एटीएम कार्ड की मदद से पैसे भेज रहे थे. इसी दौरान उनका कार्ड ब्लॉक हो गया. इसके बाद उन्होंने कार्ड के ऊपर लिखे टॉल फ्री नंबर पर कॉल कर दिया. उन्हें यह जानकारी मिली कि कस्टमर विभाग की ओर से आपको कॉल आया है. इसके बाद उन्हें 18001080 से कॉल आया. यह नंबर गुगल पर आइसीआइसीआइ बैंक का टॉल फ्री नंबर बताता है. इसके बाद उसने अपने आप को बैंक कर्मी बताया और कार्ड ब्लॉक होने से संबंधित जानकारी ली. इन्हें विश्वास हो गया कि फोन करने वाला बैंककर्मी है. इसके बाद उसने इंद्रजीत कुमार से कार्ड का नंबर पूछ लिया और उन्हें ओटीपी भेजा. इसके बाद ओटीपी भी पूछ लिया और तीन बार में खाते से 5.25 लाख की निकासी कर ली.

रेस्टोरेंट की रेटिंग कर कमाने का दिया झांसा और कर ली तीन लाख की ठगी

साइबर बदमाशों ने पटेल नगर निवासी माही कुमारी को होटल व रेस्टोरेंट की रेटिंग कर घर बैठे कमाने का झांसा दिया और तीन लाख रुपये की ठगी कर ली. उन्हें बदमाशों ने मैसेज के माध्यम से घर बैठे कमाने का ऑफर दिया. रेटिंग करने के बाद टेलीग्राम पर भेजने का टास्क दिया. शुरू में कुछ पैसा भी दिया. लेकिन बाद में टास्क पूरा करने के नाम पर पैसे लेना शुरू कर दिया. शुरू में तो उन्होंने पैसे दिये और उसे निकालने की कोशिश की. लेकिन बार-बार यह बताया गया कि आपको और पैसे देने हाेंगे. उन्होंने धीरे-धीरे कर तीन लाख रुपया उन लोगों के खाते में डाल दिये. लेकिन पैसे की मांग कम नहीं हुई तो ठगी का अहसास हुआ. इसके बाद साइबर थाने में केस दर्ज करा दिया.

दो लोगों से क्रेडिट कार्ड अपडेट करने के नाम पर 2.32 लाख रुपये की ठगी

साइबर शातिरों ने जक्कनपुर के सुशील और एसकेपुरी के मुकुल कुमार से क्रेडिट कार्ड अपडेट करने के नाम पर 2.32 लाख रुपये की ठगी की है. इस संबंध में दोनों ने नेशनल साइबर क्राइम पोर्टल पर शिकायत दर्ज करायी है. मिली जानकारी के अनुसार सुशील और मुकुल को एक अंजान नंबर से कॉल आया. कॉल करने वाले शख्स ने दोनों को क्रेडिट कार्ड अपडेट करने पर लिमिट बढ़ने का झांसा दिया और एक लिंक भेजा. दोनों ने लिंक पर कार्ड के डिटेल को भर दिया. इसके बाद सुशील के क्रेडिट कार्ड से 1.20 लाख और मुकुल के क्रेडिट कार्ड से 1.12 लाख रुपये की निकासी हो गयी. इस बात की जानकारी तब हुई, जब उनके मोबाइल पर मैसेज आया. पैसा कटने के बाद जब दोनों ने अंजान नंबर पर कॉल किया, तो मोबाइल स्वीच ऑफ था.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें