1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. jee main 2021 claim of students jee main question paper came out nta said action taken asj

JEE Main 2021 : JEE Main 2021 परीक्षा का पेपर वायरल! छात्रों का दावा- बाहर आया प्रश्नपत्र, NTA ने कहा - लेंगे एक्शन

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
वायरल प्रश्नपत्र
वायरल प्रश्नपत्र
प्रभात खबर

अनुराग प्रधान, पटना. नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) द्वारा ली जा रही जेइइ मेन मार्च 2021 की परीक्षा का प्रश्नपत्र सेंटर से बाहर आ गया है. छात्रों का दावा है कि 16 मार्च से शुरू हुई इस ऑनलाइन परीक्षा के कई प्रश्नपत्र वायरल हैं, जो परीक्षा में पूछे गये प्रश्नों के हू-ब-हू हैं. हालांकि, प्रभात खबर वायरल प्रश्नपत्रों के सही होने की पुष्टि नहीं करता है.

परीक्षार्थियों का कहना है कि बुधवार को भी दोनों पालियों के प्रश्नपत्र बाहर आ गये थे और दिन`भर मोबाइल पर वायरल होते रहे. यह स्थिति तब है, जब जेइइ मेन के परीक्षार्थियों को प्रश्नपत्र परीक्षा केंद्र से बाहर ले जाने की अनुमति नहीं है. इसके अलावा परीक्षा केंद्र पर मोबाइल तो दूर, कलम तक ले जाना मना है.

पूरी परीक्षा के दौरान परीक्षार्थियों की निगरानी सीसीटीवी कैमरे से की जाती है. हालांकि, एनटीए का दावा है कि ऐसा संभव नहीं है. फिर भी अगर ऐसा हुआ है, तो कड़ी कार्रवाई की जायेगी. 16 व 17 मार्च को हुई परीक्षा के प्रश्नपत्र सेंटर से बाहर आ जाने पर परीक्षार्थी काफी नाराज व परेशान हैं. सभी प्रश्नपत्रों को मोबाइल से खींच कर वायरल किया गया है.

परीक्षार्थियों ने दावा किया है कि वायरल हो रहे प्रश्नपत्र बिल्कुल सही हैं. मालूम हो कि एनटीए परीक्षा समाप्त होने के दो-तीन दिनों के बाद खुद पालीवार आंसर की जारी करती है, जिसे स्टूडेंट्स अपना आइडी डाल कर डाउनलोड भी कर सकते हैं. एनटीए परीक्षा के तुरंत बाद प्रश्नपत्र किसी को न देती है और न जारी करती है. सूत्रों कहना है कि प्रश्नपत्र बेंगलुरु से वायरल किया गया है.

छह लाख से अधिक छात्र दे रहे एक्जाम

ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जाम (जेइइ) मेन मार्च 2021 मंगलवार से शुरू हुआ है. पूरे देश के 792 सेंटरों पर 6,19,638 छात्र परीक्षा दे रहे हैं. बिहार में पटना, भागलपुर, दरभंगा, गया, मुजफ्फरपुर, पूर्णिया और आरा में परीक्षा ली जा रही है. पहली पाली की परीक्षा नौ बजे से दोपहर 12 बजे तक और दूसरी पाली का परीक्षा तीन बजे से शाम छह बजे हो रही है. परीक्षा की अंतिम तिथि 18 मार्च यानी आजतक है.

सीसीटीवी कैमरों से हो रही निगरानी

बुधवार को जेइइ मेन की दूसरे दिन की परीक्षा पटना के 22 सेंटरों पर ली गयी. एक्सपर्ट बताते हैं कि एनटीए देश भर में सभी सेंटर पर लगे सीसीटीवी कैमरों से निगरानी करती है. देश के 792 सेंटरों के सीसीटीवी को एनटीए ने सर्विलांस पर रखा हुआ है. इसके साथ जैमर की भी व्यवस्था है. किसी भी परीक्षार्थी और परीक्षा ड्यूटी शामिल लोगों को मोबाइल रखने की अनुमति नहीं है. यह प्रश्नपत्र जहां से वायरल हुआ होगा, वहां किसी ने ध्यान नहीं दिया होगा.

परीक्षार्थी नहीं हों परेशान, एक्जाम पर फोकस करें

एनटीए के डायरेक्टर विनीत जोशी ने फोन पर बताया कि एनटीए की सुरक्षा मजबूत है. प्रश्नपत्र वायरल नहीं हो सकता है. हालांकि, इसमें कुछ शरारती तत्वों का हाथ हो सकता है. वायरल प्रश्नपत्र देख कर इसकी जांच करायी जायेगी. जिस सेंटर से यह वायरल हुआ है, उस पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी.

उन्होंने कहा कि वायरल हो रहे प्रश्नपत्र को लीक नहीं कहा जा सकता है. अगर परीक्षा से एक दिन पहले प्रश्नपत्र लोगों के पास पहुंचता है, तो उसे लीक माना जायेगा. कोई शरारती तत्व मोबाइल से खींच कर इसे वायरल कर सकता है. इसकी जांच के बाद कार्रवाई की जायेगी. उन्होंने कहा कि परीक्षार्थियों को परेशान होने की जरूरत नहीं है. परीक्षार्थी एग्जाम पर फोकस करें. एनटीए की सुरक्षा में कहीं से चूक नहीं हो सकती है.

स्टूडेंट्स केवल अपने ज्ञान का इस्तेमाल करें. किसी भी अफवाह में न पड़ें. फोटो खींचने वालों पर कानूनी प्रक्रिया के तहत सख्त कार्रवाई होगी. प्रश्नपत्र से लेकर अन्य सभी मानक पर एनटीए बेहतर है. स्टूडेंट्स के हित में एनटीए काम करती है. गलत काम बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें