25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

झारखंड के हजारीबाग से प्रश्नपत्र लीक की आशंका

आरोपित परीक्षार्थियों व सेटरों के पास जली अवस्था में मिले प्रश्न पत्र का बुकलेट नंबर झारखंड के हजारीबाग का मिला है.

संवाददाता, पटना. आरोपित परीक्षार्थियों व सेटरों के पास जली अवस्था में मिले प्रश्न पत्र का बुकलेट नंबर झारखंड के हजारीबाग का मिला है. इसको देखते हुए इओयू की एक टीम ने हजारीबाग में प्रश्न पत्रों की ट्रांसपोर्टिंग करने वाली एजेंसी, स्ट्रांग रूम बने एसबीआइ बैंक शाखा और शहर के पांच परीक्षा केंद्रों की पड़ताल की है. आशंका है कि इन्हीं तीन माध्यमों में से किसी माध्यम से प्रश्न पत्र लीक हुआ. बीपीएससी शिक्षक भर्ती परीक्षा (फेज तीन) में भी सेटरों ने प्रश्नपत्रों को लीक करने के लिए कूरियर एजेंसी को हथियार बनाया था. देवघर से गिरफ्तार चिंटू उर्फ सिंटू ने ही अमित और नीतीश को वाट्सअप पर भेजा प्रश्नपत्र नीट पेपर लीक मामले में रवि अत्री गिरोह का नाम भी आ रहा है. देवघर से गिरफ्तार चिंटू उर्फ सिंटू इसी गिरोह का सदस्य बताया जाता है. सूत्रों के मुताबिक सिंटू को अत्री गिरोह से ही नीट प्रश्न पत्र मिला था जिसे उसने बिहार में अमित आनंद और नीतीश कुमार को वाट्सएप पर भेजा था. सिंटू के तार अतुल वत्स और अंशुल सिंह से भी जुड़े हैं, जो बिहार के बाहर रहकर पेपर लीक का अंतरराज्यीय गिरोह का संचालन करने के आरोपित हैं. चिंटू झारखंड से बिहार भेजे लाने वाले नीट प्रश्नपत्र की अहम कड़ी है. उससे पूछताछ में नीट प्रश्नपत्र लीक के अंतरराज्यीय गिरोह से जुड़े सदस्यों के बारे में अहम जानकारी मिलने की संभावना है. ट्रांजिट रिमांड पर पटना लाकर उनसे पूछताछ की जा रही है. नालंदा, रोहतास, मुंगेर और समस्तीपुर में चला छापेमारी अभियान इओयू ने झारखंड के साथ ही बिहार के नालंदा, रोहतास, मुंगेर और समस्तीपुर जिलों में भी अभियुक्तों व उनके परिचितों की तलाश में जांच अभियान चलाया. नालंदा में एकंगरसराय के बाद देर रात हिलसा में भी पेपर लीक के आरोपित की तलाश में छापेमारी की गयी. रोहतास के नोखा में सिकंदर यादवेंदु के निजी ड्राइवर बिट्टू सिंह के परिचित को हिरासत में लेकर पूछताछ की गयी. इसके अलावा गिरफ्तार अमित आनंद के मुंगेर स्थित ननिहाल में भी इओयू और पुलिस की संयुक्त टीम ने जाकर पूछताछ की है. संजीव मुखिया की तलाश में भी बिहार पुलिस नालंदा समेत आसपास के इलाकों में दबिश बना कर रखी है. संजीव मुखिया और सिकंदर के रिश्तेदार भी डाॅक्टर पुलिस सूत्रों की छानबीन में एक रोचक जानकारी यह भी मिली है कि नीट पेपर लीक गिरोह से जुड़े आरोपितों के कई रिश्तेदार और करीबी डाॅक्टर हैं या मेडिकल की पढ़ाई कर रह हैं. बिहार में नीट पेपर लीक की अहम कड़ी संजीव कुमार उर्फ संजीव मुखिया का बेटा डाॅ शिव भी एमबीबीएस है. वह फिलहाल बीपीएससी के द्वारा आयोजित शिक्षक भर्ती परीक्षा के पेपर लीक मामले में जेल में बंद है. सूत्रों के अनुसार, नीट पेपर लीक मामले में गिरफ्तार सिकंदर यादवेंदु के बेटे-बेटी भी एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे हैं. उसका दामाद भी डाॅक्टर बताया जा रहा है. नीट पेपर लीक मामले में पकड़ा गया परीक्षार्थी अनुराग यादव भी सिकंदर का भतीजा है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें