1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. due to corona prohibition on assembly and legislative council elections in bihar 24 mlc term expires on 16 july asj

बिहार में विधानसभा और विधान परिषद के चुनाव पर लगी रोक, 16 जुलाई को समाप्त हो रहा है 24 MLC का कार्यकाल

कोरोना के दौरान बिहार विधानसभा चुनाव तो संपन्न हो गया, लेकिन अब विधानसभा उपचुनाव संभव नहीं है. निर्वाचन आयोग ने लोकसभा व विधानसभा की रिक्त सीटों के लिए उपचुनाव कराने पर फिलहाल रोक लगा दी है. इसके कारण मुंगेर जिले के तारापुर विधानसभा क्षेत्र का उपचुनाव प्रभावित होगा.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बिहार विधान परिषद
बिहार विधान परिषद
फाइल

पटना. कोरोना के दौरान बिहार विधानसभा चुनाव तो संपन्न हो गया, लेकिन अब विधानसभा उपचुनाव संभव नहीं है. निर्वाचन आयोग ने लोकसभा व विधानसभा की रिक्त सीटों के लिए उपचुनाव कराने पर फिलहाल रोक लगा दी है. इसके कारण मुंगेर जिले के तारापुर विधानसभा क्षेत्र का उपचुनाव प्रभावित होगा.

यहां से निर्वाचित पूर्व शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी का निधन 19 अप्रैल को कोरोना से गया था. इधर कोरोना के कारण विधान परिषद की 24 सीटों पर भी चुनाव की संभावना समाप्त हो गयी है. इन सीटों के सदस्यों का निर्वाचन त्रिस्तरीय पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधियों द्वारा किया जाता है. बिहार में पंचायत चुनाव में विलंब होने का असर बिहार विधान परिषद की स्थानीय प्राधिकार (लोकल बॉडी) कोटे की 24 सीटों के चुनाव पर पड़ेगा.

इन सीटों के वोटर पंचायत के मुखिया, वार्ड सदस्य, पंचायत समिति के सदस्य, जिला पर्षद के सदस्य होते हैं. इसके अलावा नगर पंचायत, नगर पर्षद और नगर निगम के निर्वाचित सदस्यों के अलावा छावनी बोर्ड के सदस्य स्थानीय क्षेत्र प्राधिकार के माध्यम से निर्वाचित होनेवाले सदस्यों का चुनाव करते हैं.

पंचायती राज संस्थाओं के सदस्यों का कार्यकाल 15 जून को समाप्त हो रहा है तो विधान परिषद की 24 सीटों पर निर्वाचित सदस्यों का कार्यकाल 16 जुलाई को समाप्त हो रहा है. 20 विधान पार्षदों का कार्यकाल 16 जुलाई, 2021 को खत्म हो रहा है.

जिन विधान पार्षदों का कार्यकाल खत्म हो रहा है, उनमें राधाचरण साह, मनोरमा देवी, रीना यादव, संतोष कुमार सिंह, सलमान रागीव, राजन कुमार सिंह, सच्चिदानंद राय, टूनजी पांडेय, राजेश कुमार उर्फ बबलू गुप्ता, दिनेश प्रसाद सिंह, सुबोध कुमार, हरिनारायण चौधरी, राजेश राम, दिलीप कुमार जायसवाल, संजय प्रसाद, अशोक कुमार अग्रवाल, नूतन सिंह, सुमन कुमार, आदित्य नारायण पांडेय और रजनीश कुमार शामिल हैं. हरिनारायण चौधरी का भी हाल ही कोरोना से निधन हो चुका है.

जिन 24 निर्वाचन क्षेत्र का चुनाव बाधित हो सकता है, उनमें पटना, नालंदा, गया सह जहानाबाद सह अरवल, औरंगाबाद, नवादा, भोजपुर सह बक्सर, रोहतास सह कैमूर, सारण, सीवान, गोपालगंज, पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, मुजफ्फरपुर, वैशाली, सीतामढ़ी सह शिवहर, दरभंगा, समस्तीपुर, मुंगेर सह जमुई सह लखीसराय सह शेखपुरा, बेगूसराय सह खगड़िया, सहरसा सह मधेपुरा सह सुपौल, भागलपुर सह बांका, मधुबनी, पूर्णिया सह अररिया सह किशनगंज और कटिहार स्थानीय प्राधिकार निर्वाचन क्षेत्र की सीटें शामिल हैं. बिहार में विधानसभा और विधान परिषद के चुनाव पर लगी रोक तथा News in Hindi से अपडेट के लिए बने रहें।

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें