1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. coronavirus lockdown 30 bihar latest news updates 11 new coronavirus positives including eight bmp bihar military police jawans found in patna covid 19 infected total number 724 in bihar state

Coronavirus Bihar Latest Updates : पटना में Covid-19 की बढ़ी रफ्तार, 8 BMP जवान समेत 11 नये कोरोना पॉजिटिव मिले

By Samir Kumar
Updated Date
FILE PIC
FILE PIC

पटना : बिहार के पटना जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है. सोमवार को बिहार सैन्य पुलिस (बीएमपी) के आठ जवान कोरोना से संक्रमित पाये गये हैं. सभी पटना के खाजपुरा स्थित बीएमपी-14 में रहते थे. यहां रह रहे 60 साल के रिटायर्ड पुलिसकर्मी कोरोना के रोगी मिले थे, जिसके बाद उनके संपर्क में आये जवानों का सैंपल जांच के लिए भेजा गया था. इससे पहले अाज पटना के अथमलगोला में दो और बेलछी में कोरोना के एक मरीज मिले हैं. इस तरह सोमवार को पटना में कोरोना के 11 नये मरीज मिले और यहां कुल संक्रमितों की संख्या 72 हो गयी है.

कुछ दिनों पहले यह संभावना जतायी जा रही थी कि पटना जिला ग्रीन जोन में आये या न आये, लेकिन ऑरेंज जोन में अवश्य आ जायेगी. दरअसल, सोमवार को बीएमपी के आठ जवानों के फिर कोरोना संक्रमित होने और पटना जिला के आलमगंज, बाढ़, बेलछी आदि में ग्यारह कोरोना संक्रमित की पहचान एवं एक मरीज की मौत हो जाने के बाद ऑरेंज जोन होने की संभावना क्षीण पड़ गयी है.

चर्चा यह भी है कि अगर यही हालात रहे तो 17 मई के बाद भी पटना में लॉकडाउन की अवधि बढ़ायी जा सकती है और यह रेड जोन में ही शामिल रहेगा़ ऑरेंज जोन होने पर पटना जिले के लोगों को कई सहूलियतें और मिलने की संभावना थी. गौर हो कि ऑरेंज जोन में वही जिले शामिल होते हैं, जहां 15 से कम कोरोना संक्रमित के मामले होते हैं. अगर, स्थिति सामान्य रही तो जिलाधिकारी रेड जोन से ऑरेंज जोन या ग्रीन जोन में परिवर्तन की भी अनुशंसा कर सकते हैं. लेकिन पटना जिला के समीक्षा के दौरान फिलहाल किसी प्रकार की अनुशंसा नहीं की गयी है. इसके साथ ही जिले के कंटेनमेंट जोन को भी जिलाधिकारी हटा सकते हैं.

खाजपुरा, बीएमपी में संपर्क से फैला कोरोना

पटना जिला में बीएमपी व खाजपुरा ही एक ऐसा इलाका है, जहां एक किसी एक इंसान से संपर्क होने पर दूसरों में भी कोरोना का संक्रमण फैला. खाजपुरा में महिला व एक सीएमएस कैश एजेंसी के कर्मियों के संपर्क में आने के बाद करीब 20 लोग संक्रमित हो गये. अधिकांश इलाके में कोरोना संक्रमित तो मिला, लेकिन उनके संपर्क में आये लोगों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आयी. इसमें पटेल नगर, न्यू पाटलिपुत्र, खेमनीचक शिवनगर, जगदेव पथ धनौत, मीठाकुआं रोड, सुल्तानगंज, आशियाना नगर वित्त कॉलोनी, शेखपुरा मछली गली, शेखपुरा दूर्गा आश्रम गली आदि शामिल हैं.

इन इलाकों को प्रशासन ने एहतियात के तौर पर कंटेनमेंट जोन बना दिया है और बैरिकेडिंग कर मजिस्ट्रेट व पुलिस बल की तैनाती कर दी. किसी अन्य के संपर्क में आने पर होने वाले कारोना संक्रमितों का मामला सामने नहीं आने के बाद यह माना जा रहा था कि पटना जिला रेड जोन से ऑरेंज जोन में तब्दील हो सकता है. लेकिन, अब स्थिति फिर से बदल चुकी है.

एक नजर : पटना में दस-दस दिनों की स्थिति

20 मार्च से लेकर 29 मार्च- 05 केस

30 मार्च से लेकर 8 अप्रैल- 00 केस

9 अप्रैल से 18 अप्रैल- 02 केस

19 अप्रैल से 28 अप्रैल- 34 केस

29 अप्रैल से लेकर सात मई- 06 केस

आठ मई से अभी तक- 14 केस, एक की मौत

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें