1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. ca cs exams on paper leak notice patna police picks up two mafia from home phone confiscated asj

सीए और सीएस परीक्षा: पेपर लीक की सूचना पर पटना पुलिस ने दो माफिया को घर से उठाया, फोन जब्त

एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि छापेमारी की गयी है. पेपर लीक की सूचना मिली थी, इसी आधार पर छापेमारी कर दो लोगों को हिरासत में लिया गया है. हिरासत में लिये गये दोनों आरोपितों से पूछताछ की जा रही है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सूचना पर पहुंची पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है.
सूचना पर पहुंची पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है.
Prabhat khabar

पटना. एसकेपुरी थाना क्षेत्र के वेस्ट बोरिंग कैनाल रोड के आनंदपुरी इलाके में रविवार को तीन थानों की पुलिस ने छापेमारी की है. मिली जानकारी के अनुसार सीए व सीएस की फाइनल परीक्षा का पेपर लीक होने की सूचना मिली थी, जिसके बाद यह कार्रवाई की गयी. इस संबंध एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि छापेमारी की गयी है. पेपर लीक की सूचना मिली थी, इसी आधार पर छापेमारी कर दो लोगों को हिरासत में लिया गया है. हिरासत में लिये गये दोनों आरोपितों से पूछताछ की जा रही है.

पुलिस सूत्रों के अनुसार छापेमारी में एसकेपुरी, बुद्धा काॅलाेनी व काेतवाली थाने के साथ ही सेल की टीम ने दबिश देकर परीक्षा माफिया के एक भाई अाैर एक अन्य काे उठाया. दाेनाें काे पहले काेतवाली थाना ले गयी. वहां से सेल में पूछताछ के लिए ले जाया गया. पुलिस को यह भी जानकारी मिली थी कि माफिया नीट, जेइ, सीए-सीएस आदि परीक्षाओं में फर्जीवाड़ा करते हैं. जानकारी के अनुसार एग्जाम कंडक्ट कराने वाले ने यह सूचना दी थी.

पीजी इंट्रेंस एग्जाम में पेपर लीक कराने का आरोप

पुलिस सूत्रों के अनुसार जिस माफिया के बारे में पुलिस को सूचना मिली थी उस पर पहले भी नीट के पीजी इंट्रेंस परीक्षा (2016-17) में पेपर लीक कराने का आरोप है. इस मामले में दिल्ली के दरियागंज थाने में प्राथमिकी भी दर्ज है. इस मामले में एक ऑडियो भी वायरल हुआ है, जिसमें माफिया का आवाज बताया जा रहा है. लेकिन इस बारे में पुलिस ने पुष्टि नहीं की है.

पुलिस को है राष्ट्रीय स्तर पर एग्जाम में फर्जीवाड़ा करने वाले की तलाश

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार राष्ट्रीय स्तर पर एग्जाम में फर्जीवाड़ा करनेवाले गिरोह के सरगना की तलाश में सेल की टीम ने रेड किया है. कोरोना को लेकर अधिकांश एग्जाम ऑनलाइन हो रहे हैं. सूत्रों की मानें तो पहले के भी पेपर लीक मामले में इसी गिरोह का हाथ था. जांच टीम अब माफिया के बैंक अकाउंट की जांच कर रही है.

जो जानकारी पुलिस को हाथ लगी है, उसमें परीक्षा में फर्जीवाड़ा करने वाले माफिया का एक बड़ा रैकेट इंजीनियरिंग, बैंकिंग व एग्जाम में फर्जीवाड़ा करने में शामिल रहता है और पेपर लीक कर मोटी रकम लेता है. फर्जीवाड़ा के अवैध कमाई से सरगना ने दिल्ली, मुंबई, पटना, कोलकाता सहित कई शहरों में करोड़ों की संपत्ति भी बना चुका है.

तीन घंटे पूछताछ, मोबाइल व लैपटॉप जब्त

मिली जानकारी के अनुसार पुलिस ने माफिया के घर से तीन लैपटॉप, कई मोबाइल व जरूरी कागजात भी जब्त किये हैं. लेकिन पुलिस जब घंटों लैपटॉप व मोबाइल की जांच की तो कुछ भी नहीं मिला. पुलिस सूत्रों के अनुसार हिरासत में लिये गये दोनों आरोपितों के बारे में अन्य राज्यों व जिलों से सूचना मंगवायी जा रही है.

वहीं सेल की टीम भी पूछताछ कर रही है. पुलिस को सूचना मिली थी कि 10 अगस्त का सीए का अाॅनलाइन एग्जाम हाेना है. इसमें 16 पेपर हाेते हैं. सभी पेपर काे डाउनलाेड कर लिया गया है. लेकिन छापेमारी के बाद व जांच के दौरान ऐसी कोई भी बात सामने नहीं आयी है.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें