1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. boy died in firing when police seized dj of mukhiya candidate in bihar panchayat chunav patna news skt

मुखिया उम्मीदवार के डीजे को जब्त करने पर पुलिस-ग्रामीणों में झड़प, फायरिंग में युवक की मौत

बिहार पंचायत चुनाव के लिए प्रचार-प्रसार में जुटे एक मुखिया उम्मीदवार के डीजे को जब्त किया गया तो पुलिस और ग्रामीणों के बीच जमकर बवाल मचा. कई राउंड गोलियां चली और एक की मौत भी हो गयी.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
मुखिया उम्मीदवार के डीजे को जब्त करने पर पुलिस-ग्रामीणों में झड़प
मुखिया उम्मीदवार के डीजे को जब्त करने पर पुलिस-ग्रामीणों में झड़प
प्रभात खबर

पटना : धनरूआ के मोरियावां गांव में शुक्रवार की शाम एक मुखिया प्रत्याशी के प्रचार वाहन पर लगे डीजे को जब्त करने के बाद पुलिस और ग्रामीणों के बीच भिड़ंत हो गयी. इस दौरान पथराव हुआ. प्रत्यक्षदर्शियों का दावा है कि इस दौरान करीब 50 राउंड गोलियां भी चलीं. चार लोगों को गोली लगी. इनमें धूलखेली चौधरी के 25 वर्षीय बेटे रोहित कुमार की मौत अस्पताल जाने के दौरान हो गयी, जबकि विजेंद्र कुमार (32 साल), मिलन कुमार (22 साल) व नीरज कुमार गंभीर रूप से घायल हो गये.

पुलिस की गोली से घायल होने का आरोप

ग्रामीणों का आरोप है कि इन चारों को पुलिस की गोली लगी है. दूसरी ओर, ग्रामीणों के पथराव में मसौढ़ी के इंस्पेक्टर राम कुमार, धनरूआ थानाध्यक्ष राजू कुमार समेत एक दर्जन से अधिक पुलिसकर्मी घायल हो गये. सूचना मिलने पर सिटी एसपी (पूर्वी) जीतेंद्र कुमार बड़ी संख्या में पुलिस बल साथ पहुंचे और स्थिति नियंत्रित की. हालांकि, इलाके में अब भी तनाव है. पूरे इलाके को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है. 35 पुलिस पदाधिकारी और करीब 500 जवानों को तैनात किया गया है.

पुलिस ने डीजे बंद कराया, तो उग्र हुए मुखिया समर्थक

चुनाव प्रचार के आखिरी दिन शुक्रवार की शाम मोरियावां मुशहरी में पुलिस गश्ती के लिए निकली थी. इसी बीच पुलिस को मोरियावां गांव में मुखिया सुरेंद्र साव की प्रचार गाड़ी उनके घर के पास मिल गयी. गाड़ी पर डीजे बज रहा था और समर्थक डांस कर रहे थे. पुलिस ने प्रचार की समय अवधि खत्म होने का हवाला देते हुए डीजे को जब्त कर लिया. इसको लेकर ग्रामीणों और पुलिस के बीच विवाद हो गया. इसी दौरान मुखिया प्रत्याशी सुरेंद्र साव का बेटा रोहित आ गया और फिर दोनों पक्षों के बीच मारपीट होने लगी.

सात थानों की पुलिस गांव पहुंची

ग्रामीणों को भारी पड़ता देख पुलिस को वहां से लौटना पड़ा. हालांकि, थोड़ी ही देर बाद सात थानों की पुलिस के साथ ही बड़ी संख्या में पुलिस बल गांव पहुंच गयी. पुलिस को देख ग्रामीण और उग्र हो गये. उन्होंने पुलिस को घेर लिया और पथराव करने लगे. इसी बीच फायरिंग भी होने लगी. करीब एक घंटा तक पूरा इलाका रणक्षेत्र बना रहा. लोगों ने पुलिस को चारों तरफ से घेर लिया. पुलिस ने भी बचाव में गोलियां चलायीं.

करायी जा रही जांच : आइजी

रेंज आइजी संजय सिंह ने बताया कि पुलिस द्वारा प्रचार वाहन से लाउडस्पीकर (डीजे) को जब्त करने के बाद ग्रामीणों से भिड़ंत हुई है. एक की मौत की सूचना है. मामले में जांच करायी जा रही है.

डीएम ने बनायी जांच टीम

डीएम डॉ चंद्रशेखर सिंह ने पूरे मामले की जांच कर मसौढ़ी के एसडीओ व और डीएसपी को जल्द रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया है. डीएम ने कहा कि जो भी दोषी होगा, उस पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी.

Published By: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें