1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. black fungus in bihar news today 14 new cases found of black fungus infection death stopped in pmch and igims hospital patna news skt

Black Fungus Updates: पटना के PMCH और IGIMS में ब्लैक फंगस के 14 नये मरीज भर्ती, एक भी मौत नहीं

शनिवार को पटना के पीएमसीएच व आइजीआइएमएस में राहत भरी खबर रही. क्योंकि दोनों ही अस्पताल में ब्लैक फंगस से एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है. हालांकि 24 घंटे के अंदर पीएमसीएच, आइजीआइएमएस व एम्स में कुल 14 नये ब्लैक फंगस के मरीजों को भर्ती किया गया है. इसमें सबसे अधिक आठ एम्स में चार आइजीआइएमएस व दो मरीज पीएमसीएच में भर्ती किये गये हैं.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
Black Fungus(सांकेतिक फोटो)
Black Fungus(सांकेतिक फोटो)
prabhat khabar

शनिवार को पटना के पीएमसीएच व आइजीआइएमएस में राहत भरी खबर रही. क्योंकि दोनों ही अस्पताल में ब्लैक फंगस से एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है. हालांकि 24 घंटे के अंदर पीएमसीएच, आइजीआइएमएस व एम्स में कुल 14 नये ब्लैक फंगस के मरीजों को भर्ती किया गया है. इसमें सबसे अधिक आठ एम्स में चार आइजीआइएमएस व दो मरीज पीएमसीएच में भर्ती किये गये हैं.

पटना के तीनों अस्पताल मिलाकर 11 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया. आइजीआइएमएस के अधीक्षक डॉ मनीष मंडल ने कहा कि वर्तमान में कुल 97 मरीज ब्लैक फंगस वार्ड में भर्ती किये गये हैं. इनमें 10 मरीज कोरोना पॉजिटिव व बाकी 87 मरीज निगेटिव हैं. वहीं, पीएमसीएच में 21 मरीजों का इलाज फंगस वार्ड में चल रहा है.

शनिवार को मेरठ के 26 साल के अंकित जैन को ब्लैक फंगस होने के बाद परिजनों ने आइजीआइएमएस से संपर्क साधा है और यहां आने की अनुमति मांग रहे हैं. परिजनों का कहना है कि अगर संस्थान भर्ती कर ले, तो वह एयर एंबुलेंस से पटना आ जायेंगे. दरअसल, अंकित को पहले आंख व नाक में फंगस ने अटैक किया था. इसके बाद मेरठ में परिजनों ने अस्पताल में भर्ती कराया, जहां के डॉक्टरों ने दो बार सर्जरी कर आंख व नाक से फंगस को बाहर निकाला.

सर्जरी के बाद ब्रेन में फंगस ने अटैक कर दिया. इससे उसकी हालत खराब होती गयी और डॉक्टरों ने भी हाथ खड़े कर दिये. ऐसे में परिजनों ने आइजीआइएमएस से संपर्क किया और मरीज की पूरी जांच रिपोर्ट सहित फोटो आदि भेजा. इसमें ब्रेन में ब्लैक फंगस की पुष्टि की गयी है.

आइजीआइएमएस के मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ मनीष मंडल ने बताया कि यहां ब्लैक फंगस में प्रयोग होने वाला इंजेक्शन एंफोटेरेसिन-बी नहीं मिलने से लोगों को पहले से ही परेशानी हो रही है. इंजेक्शन की कमी को देखते हुए फिलहाल मरीज को आने से मना किया गया है.

Posted By: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें