1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar planning schedule released for secondary and higher secondary stet 2011 candidates can apply

बिहार में माध्यमिक और उच्च माध्यमिक के लिए नियोजन शेड्यूल जारी, STET 2011 के अभ्यर्थी कर सकेंगे आवेदन

शिक्षा विभाग ने एक बार फिर माध्यमिक और उच्च माध्यमिक शिक्षकों के छठे चरण का नियोजन शेड्यूल जारी कर दिया है. पटना हाइकोर्ट के आदेश के आलोक में यह शेड्यूल जारी किया गया.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
शिक्षा विभाग
शिक्षा विभाग
फाइल

शिक्षा विभाग ने एक बार फिर माध्यमिक और उच्च माध्यमिक शिक्षकों के छठे चरण का नियोजन शेड्यूल जारी कर दिया है. पटना हाइकोर्ट के आदेश के आलोक में यह शेड्यूल जारी किया गया. जानकारी के मुताबिक माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (एसटीइटी), 2011 उत्तीर्ण अप्रशिक्षित अभ्यर्थी सभी पदों के लिए आवेदन कर सकेंगे, जिन्होंने वर्ष 2017-19 सत्र में 29 जून, 2019 तक बीएड की परीक्षा उत्तीर्ण कर ली हो, जो अभ्यर्थी पहले आवेदन कर चुके है. वह दोबारा आवेदन नहीं करेंगे.

2011 के अभियार्थी कर सकेंगे आवेदन

दिशा-निर्देश के मुताबिक किसी भी परिस्थिति में 2017-19 बीएड सत्र में उत्तीर्ण अभ्यर्थी के अतिरिक्त कोई भी अभ्यर्थी, जिन्होंने 2017-19 सत्र के पूर्व बीएड उत्तीर्ण किया हो, वो आवेदन नहीं करेंगे. यदि इस प्रकार का कोई आवेदन प्राप्त हुआ तो इस पर विचार नहीं होगा. वर्ष 2011 में एसटीइटी उत्तीर्ण अभ्यर्थी जिनका परीक्षाफल वर्ष 2013 में प्रकाशित हुआ हो और उन्होंने बीएड की परीक्षा 26 जून 2019 तक उत्तीर्ण कर ली हो वो भी अभ्यर्थी आवेदन कर सकते हैं.

नियोजन के लिए विषयवार अभ्यर्थी उपस्थित हुए थे

विदित हो कि कुछ माह पूर्व जिला परिषद माध्यमिक व उच्च माध्यमिक विद्यालय में विषय वार रिक्त पदों पर शिक्षक नियोजन के लिए काउंसेलिंग कर प्रमाण पत्र मिलान व जांच की प्रक्रिया पूरी की गयी थी. इस में माध्यमिक विद्यालय में नियोजन के लिए विषय वार 1065 व उच्च माध्यमिक के लिए विषय वार 61 अभ्यर्थी उपस्थित हुए थे. लेकिन अचानक से ग्रहण लग गया और नियोजन प्रक्रिया अगले आदेश तक स्थगित कर दी गयी.

नियोजन पत्र बांटे जाने की कवायद बाकी

इससे पहले नेशनल फेडरेशन ऑफ ब्लाइंड बनाम राज्य सरकार एवं अन्य के मामले में दायर याचिका के कारण भी इस नियोजन प्रक्रिया को स्थगित किया गया था. यह नियोजन प्रक्रिया एक जुलाई, 2019 को शुरू हुई थी. तब से करीब दस बार नियोजन प्रक्रिया रुकी और आगे बढ़ी इस नियोजन प्रक्रिया में अब केवल नियोजन पत्र बांटे जाने की कवायद बाकी रह गयी है़.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें