1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar latest news update bihar cm nitish kumar says every house tap water scheme 80 percent work complete sap

बिहार में हर घर नल का जल योजना का 80 प्रतिशत कार्य हुआ पूरा : सीएम नीतीश

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मंगलवार को आवासन तथा शहरी कार्य मंत्रालय तथा जल शक्ति मंत्रालय के तहत विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास किया.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मंगलवार को आवासन तथा शहरी कार्य मंत्रालय तथा जल शक्ति मंत्रालय के तहत विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास किया.
Prabhat Khabar

पटना : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मंगलवार को आवासन तथा शहरी कार्य मंत्रालय तथा जल शक्ति मंत्रालय के तहत विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास किया. कार्यक्रम में राज्यपाल फागू चौहान के साथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शामिल हुए. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज नमामि गंगे परियोजना और अमृत मिशन के अंतर्गत बिहार में 7 परियोजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास किया इसके अंतर्गत पटना में 43 एमएडी क्षमता का बेऊर सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट एवं 37 एमएलडी क्षमता का करमलीचक सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट, छपरा जलापूर्ति योजना (फेज -1) तथा सीवान जलापूर्ति योजना (फेज-1) का उद्घाटन कार्य शामिल है. इसके अलावा प्रधानमंत्री ने मुंगेर जलापूर्ति योजना, जमालपुर जलापूर्ति योजना तथा मुजफ्फरपुर नदी तट विकास योजना का शिलान्यास भी किया.

इस अवसर पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने संबोधन में कहा कि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने आज बिहार के हित में नमामि गंगे एवं अमृत मिशन के अंतर्गत कई योजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास किया है. इसके माध्यम लोगों को शुद्ध पेयजल मिलेगा, यह बड़ी बात है. उन्होंने कहा कि मेरा जन्म गंगा नदी के किनारे बख्तियारपुर में हुआ है. जब मैं स्कूल में पढ़ता था तो रविवार के दिन गंगा नदी में स्नान करने जाता था और वहां से स्नान करने के बाद बाल्टी में गंगा जल भरकर घर पीने के लिए लाता था. उस समय गंगा नदी का पानी काफी शुद्ध था.

आबादी बढ़ने के साथ-साथ एवं अन्य कारणों से गंगा नदी का पानी स्वच्छ नहीं रहा. गंगा नदी सहित अन्य नदियों को फिर से स्वच्छ रखने के लिए कार्य किया जा रहा है. गंगा नदी के किनारे बसे शहरों में नमामि गंगे परियोजना के अंतर्गत नालों के पानी को सिवरेज ट्रीटमेंट के माध्यम से शुद्ध कर गंगा नदी में जाने दिया जाएगा, जिससे गंगा का पानी स्वच्छ बना रहेगा. सीएम ने कहा कि पटना शहर के नाले के पानी को भी एसटीपी के माध्यम से शुद्ध करने की योजना पर काम चल रहा है. जल संसाधन विभाग को इसके लिए तेजी से काम करने को कहा गया है. इस पानी का सदुपयोग खेती जैसे अन्य कार्यों के लिए किया जाएगा.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री जी आपके द्वारा बेउर और करमलीचक में 14 अक्टूबर 2017 को सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का शिलान्यास किया गया था और तीन वर्ष से कम समय में आपके हाथों से इसका उद्घाटन भी हो रहा है, इसके लिए हम आपको बधाई देते हैं. उन्होंने कहा कि अमृत योजना के अंतर्गत स्वच्छ पेयजल हेतु सीवान, छपरा में जलापूर्ति योजनाओं का आज उद्घाटन हुआ है, इससे वहां के नागरिकों को शुद्ध पेयजल मिल सकेगा मुंगेर और जमालपुर में जलापूर्ति योजना का भी शिलान्यास हुआ है. इन योजनाओं के पूर्ण होने से वहां के लोगों को भी स्वच्छ पेयजल का लाभ मिलेगा.

सीएम नीतीश ने कहा कि हर घर नल का जल का कार्य बिहार में लगभग 80 प्रतिशत पूर्ण हो चुका है. ग्रामीण इलाकों में लगभग 81 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है. बाकी बचे कार्य जल्द ही पूर्ण हो जाएंगे. शुद्ध पेयजल की आपूर्ति लोगों को पीने के लिए एवं खाना बनाने एवं अन्य जरुरी काम के लिए किया जा रहा है. स्वच्छ पानी का लोग सदुपयोग करें, इससे भू-जल स्तर मेंटेन रहेगा उन्होंने कहा कि मेरा आग्रह है कि पर्यावरण के दृष्टिकोण से भी इस बात पर ध्यान देना होगा कि लोग पानी का सदुपयोग करें, इसका किसी भी हालत में दुरूपयोग न करें.

मुख्यमंत्री ने कहा कि पर्यावरण संरक्षण संबंधी कई कार्य किए जा रहे हैं, इसमें आपका भी सहयोग मिल रहा है. केंद्र की योजनाओं के क्रियान्वित होने से बिहार को भी लाभ हो रहा है. उन्होंने कहा कि मुजफ्फरपुर में नदी तट विकास योजना के अंतर्गत बुढ़ी गंडक के घाट का सौंदर्यीकरण किया जा रहा है. इससे नदी जल स्वच्छता के साथ-साथ पर्यटन के लिए भी उपयोगी होगा बाहर से लोग यहां घाटों पर आकर सौंदर्यीकरण का आनंद उठा सकेंगे.

नीतीश कुमार ने कहा कि पटना के कई घाटों का सौंदर्यीकरण किया गया है. उन्होंने कहा कि जब हम बिहार कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, पटना में पढ़ते थे, तो गंगा किनारे आकर अक्सर बैठा करते थे. यहां बैठना मुझे बहुत अच्छा लगता था. यहीं पर गांधी घाट है. जब यहां काम करने का मौका मिला तो गंगा किनारे के कई घाटों को ठीक कराया. पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए यहां कई अन्य योजनाओं पर काम किए जा रहे हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि पर्यावरण के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए हाल ही में जल-जीवन-हरियाली अभियान के समर्थन में 5 करोड़ 16 लाख से अधिक लोगों ने 18 हजार किमी से अधिक लंबी मानव श्रृंखला बनायी थी. बिहार में जो काम हो रहा है उसके प्रति लोगों में जागृति है. मुख्यमंत्री ने कहा कि आपके द्वारा बिहार में कई योजनाएं क्रियान्वित की जा रही हैं और आज भी कई योजनाओं की शुरुआत की गयी है. पर्यावरण से लेकर अन्य योजनाओं के लिए आपके द्वारा जो काम किये जा रहे हैं वे काफी महत्वपूर्ण हैं. हमलोग आश्वस्त करेंगे कि बिहार में जो काम शुरु हुआ है, उन योजनाओं को ससमय यहां क्रियान्वित किया जाए. अमृत योजना के तहत जो काम है उसको भी तेजी से किया जाएगा आपके द्वारा जो सुविधाएं प्रदान की गयी हैं उनके लिए हृदय से धन्यवाद देता हूं.

Upload By Samir Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें