BPSC PT : आज से डाउनलोड कर सकेंगे परीक्षा प्रवेश पत्र, जलजमाव को लेकर अभ्यर्थियों ने परीक्षा तिथि बढ़ाने का किया अनुरोध

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

पटना : बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) की 65वीं प्रारंभिक परीक्षा के लिए प्रवेश पत्र (एडमिट कार्ड) आज पांच अक्तूबर से आयोग की वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सकेगा. संयुक्त सचिव सह परीक्षा नियंत्रक अमरेंद्र कुमार के मुताबिक, 15 अक्टूबर को सूबे के 35 जिलों के 718 परीक्षा केंद्रों पर होनेवाली प्रारंभिक परीक्षा के लिए प्रवेश पत्र पांच अक्टूबर को बीपीएससी की वेबसाइट या बिहार सरकार के वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सकेगा. अभ्यर्थियों को प्रवेश पत्र डाक से नहीं भेजा जायेगा. यह प्रवेश पत्र 13 अक्तूबर तक ही डाउनलोड किया जा सकता है.

परीक्षा नियंत्रक के मुताबिक, अभ्यर्थियों को प्रवेश पत्र के साथ फोटोयुक्त पहचान पत्र लाना अनिवार्य होगा. इनमें राज्य सरकार या केंद्र सरकार द्वारा जारी पहचानपत्र जैसे पैन कार्ड, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आइडी कार्ड आदि में से एक लाना होगा. अभ्यर्थियों को इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के साथ परीक्षा केंद्रों के अंदर प्रवेश नहीं मिलेगा. अभ्यर्थी यदि किसी तरह का मोबाइल, ब्लूटूथ, वाईफाई, इलेक्ट्रॉनिक पेन, स्मार्ट वाच आदि लेकर आते हैं, तो उन्हें प्रवेश नहीं मिलेगा. यदि प्रतिबंधित गजट के साथ पकड़े जाते हैं, तो उनका आवेदन रद्द कर दिया जायेगा. साथ ही अभ्यर्थी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जायेगी. अभ्यर्थियों को परीक्षा केंद्रों पर निर्धारित समय से एक घंटा पहले उपस्थिति दर्ज करानी होगी. अभ्यर्थियों को आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध घोषणा पत्र को हिंदी या अंगरेजी में हस्ताक्षर तथा राजपत्रित पदाधिकारियों से अभिप्रमाणित रंगीन फोटो चिपकाना होगा. साथ ही अभिप्रमाणित दो रंगीन फोटो लाना होगा. इनमें से एक फोटो आयोग की वेबसाइट से डाउनलोड किये गये प्रवेश पत्र में एक और कार्यालय प्रति में एक रंगीन फोटो चिपकाना होगा. घोषणा पत्र और ई-प्रवेश पत्र के हस्ताक्षर और फोटो मिलान के बाद ही परीक्षा केंद्र में प्रवेश की अनुमति मिलेगी.

अभ्यर्थियों ने किया बीपीएससी पीटी की तिथि बढ़ाने का अनुरोध

इधर, बीपीएससी की 15 अक्तूबर को प्रस्तावित 65वीं पीटी परीक्षा की तिथि बढ़ाने की मांग को लेकर अभ्यर्थी सोशल मीडिया पर पोस्ट कर मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री से अनुरोध किया है. पटना में बीपीएससी की तैयारी करनेवाली छात्रा प्रियंका बिंदुलजी ने बताया कि वे पिछले आठ दिनों से बारिश के बाद जलजमाव में फंसी थी. इस कारण उनकी तैयारी प्रभावित हुई है. पटना यूनिवर्सिटी के छात्र दीपांकर गौरव ने बीपीएससी के चेयरमैन को मामले में पत्र लिख कर बीपीएससी पीटी की तिथि विस्तारित करने का अनुरोध किया है. पत्र में उन्होंने लिखा है कि बिहार के 18 जिले बाढ़ की चपेट में है. ऐसी स्थिति में छात्रों की तैयारी बुरी तरह प्रभावित हुई है. इस कारण तिथि बढ़ायी जाये, ताकि परीक्षार्थियों को राहत मिल सके. जहानाबाद के छात्र कुणाल कुमार ने बताया कि वे पटना रहकर बीपीएससी की तैयारी करते है. लेकिन, पिछले दिनों से बाढ़ के बाद उनकी भी तैयारी बुरी तरह प्रभावित हुई है, उन्होंने मुख्यमंत्री, बीपीएससी के चेयरमैन को ट्वीट कर पीटी की तारीख विस्तारित करने का अनुरोध किया है.

अभ्यर्थियों को मिला छात्र संघों का साथ

एएन कॉलेज छात्र संघ के उपाध्यक्ष सह छात्र जेडीयू के प्रदेश महासचिव कन्हैया कुमार कौशिक ने भी बीपीएससी अभ्यर्थियों के पक्ष में आते हुए प्रारंभिक परीक्षा की तिथि 15 अक्तूबर को स्थगित कर आगे करने की मांग की है. उन्होंने कहा कि राज्य के कई जिले बाढ़ प्रभावित हैं. ऐसे में परीक्षा देने के लिए अभ्यर्थी मानसिक रूप से तैयार नहीं है. इसलिए तिथि बढ़ाना अत्यंत आवश्यक है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें