बिहार : एनटीपीसी के हवाले बरौनी, कांटी व नवीनगर प्लांट, सस्ती होगी बिजली

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
एमओयू. प्रतिवर्ष 875.06 करोड़ की बचत की है संभावना
पटना : बरौनी थर्मल पावर, नवीनगर पावर जेनरेटिंग कंपनी प्रालि और कांटी बिजली उत्पादन निगम लिमिटेड मंगलवार को 30 साल की लीज पर एनटीपीसी के हवाले कर दिये गये.
इस संबंध में राज्य सरकार और एनटीपीसी के बीच एमओयू पर हस्ताक्षर किये गये. इससे आने वाले समय में राज्य में बिजली सस्ती होगी. इस एमओयू से राज्य को प्रतिवर्ष 875.06 करोड़ रुपये की बचत की संभावना है. बिहार राज्य पावर होल्डिंग कंपनी लिमिटेड के अध्यक्ष सह सीएमडी प्रत्यय अमृत ने तीनों बिजली उत्पादन कंपनियों का हस्तांतरण एनटीपीसी को किये जाने के बारे में विस्तार से जानकारी दी.
उन्होंने बताया कि एनटीपीसी को कोयला आधारित थर्मल पावर कंपनियों के संचालन में दक्षता हासिल है. इस क्षेत्र में यह देश की सबसे बड़ी कंपनी है. इसे सस्ती दर पर बढ़िया कोयला उपलब्ध होने की सुविधा मिली हुई है. इसे बाजार से कम ब्याज दर पर ऋण उपलब्ध है. इसलिए एनटीपीसी द्वारा बिजली उत्पादन में लागत कम आयेगी जिससे कि यह सस्ती होगी.
सेवा शर्तें रहेंगी बरकरार
प्रत्यय अमृत ने कहा कि यह एमओयू एक जून 2018 से प्रभावी होने की संभावना है. एनटीपीसी को हस्तांतरण के बाद इन तीनों कंपनियों के कर्मचारियों की सेवा शर्तें पहले जैसी बरकरार रहेंगी. इनके सभी कर्मचारियों को राज्य सरकार की ट्रांसमिशन और डिस्ट्रीब्यूशन कंपनियों में लगाया जायेगा. राज्य सरकार की अन्य पावर जेनरेशन कंपनी भी अपना काम करती रहेगी. खासकर सोलर और हाइड्रो प्रोजेक्ट देखेगी.
136.30 करोड़ की बचत : नवीनगर पावर जेनरेटिंग कंपनी लिमिटेड का इस समय अनुमानित टैरिफ 3.98 रुपये प्रति यूनिट आकलन किया गया है. अब यह 3.84 रुपये प्रति यूनिट होगा. इससे प्रतिवर्ष कुल 136.30 करोड़ रुपये की बचत होने की संभावना है.
कांटी से 54.69 करोड़ रुपये की बचत
कांटी बिजली उत्पादन निगम लिमिटेड के स्टेज-1 का इस समय अनुमानित टैरिफ 4.86 रुपये प्रति यूनिट और स्टेज-2 का 6.36 रुपये प्रति यूनिट आकलित किया गया है. हस्तांतरण के बाद स्टेज-1 का टैरिफ 4.79 रुपये प्रति यूनिट और स्टेज-2 का 6.13 रुपये प्रति यूनिट होने की संभावना है. इससे प्रतिवर्ष 54.69 करोड़ रुपये की बचत हो सकती है.
बरौनी से राज्य को होगी 684.07 करोड़ की बचत : इस समय बरौनी थर्मल पावर के स्टेज-1 का अनुमानित टैरिफ 5.32 रुपये प्रति यूनिट और स्टेज-2 का 6.30 रुपये प्रति यूनिट आकलन किया गया है. एनटीपीसी को हस्तांतरण के बाद स्टेज-1 का 5.11 रुपये प्रति यूनिट और स्टेज-2 का 4.37 रुपये प्रति यूनिट होगा. इससे राज्य को प्रतिवर्ष कुल 684.07 करोड़ रुपये बचत की संभावना है.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें