24.7 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

अगले सप्ताह तक नये भवन में शिफ्ट होंगे कर्मी

जिलाधिकारी ने अस्पताल समेत सरकारी भवनों का किया औचक निरीक्षण, दिये निर्देश

जिलाधिकारी ने अस्पताल समेत सरकारी भवनों का किया औचक निरीक्षण, दिये निर्देश रजौली़ मुख्यालय स्थित 75 शैय्या अनुमंडलीय अस्पताल, प्रखंड कार्यालय एवं अनुमंडल कार्यालय के अधिनस्थ सरकारी कार्यालय भवनों का औचक निरीक्षण जिलाधिकारी नवादा प्रशांत कुमार सीएच ने किया. इस दौरान संबंधित पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी डीएम ने दिये. डीएम ने कहा कि प्रखण्ड परिसर स्थित अंचल कार्यालय, मनरेगा कार्यालय, इ-कृषि भवन, सामुदायिक पुस्तकालय, नगर पंचायत कार्यालय, सीडीपीओ कार्यालय, पीएचइडी कार्यालय एवं फायर सब-स्टेशन भवन का भी निरीक्षण किया गया. हालांकि, शुक्रवार को छुट्टी रहने के कारण सभी कार्यालय बंद थे. औचक निरीक्षण के दौरान एसडीओ आदित्य कुमार पीयूष, डीसीएलआर प्रमोद कुमार, बीडीओ अनिल मिस्त्री, सीओ मो गुफरान मजहरी, बीपीआरओ राजन कुमार व एमओ राजेश कुमार के अलावे अन्य पदाधिकारीगण मौजूद रहे. जिलाधिकारी ने कहा कि जिला अंतर्गत क्षेत्र भ्रमण के उद्देश्य से रजौली के अनुमंडलीय अस्पताल, प्रखंड कार्यालय परिसर स्थित अन्य कार्यालयों का भी निरीक्षण किया गया. मरम्मत की जरूरत वाले भवनों की कराएं मरम्मत जिलाधिकारी ने कहा कि सरकारी भवनों में जहां मरम्मत की जरूरत है, वहां मरम्मत कराने को भी निर्देशित किया गया है. नगर पंचायत कार्यालय के लिए जमीन के आवंटन के लिए निर्देश दिया गया है. साथ ही फायर सब स्टेशन का नया भवन बीते एक वर्ष से बनकर तैयार रहने की बात बतायी गयी है. इसको लेकर फायर स्टेशन के वरीय पदाधिकारी से बात की गयी है. जिलाधिकारी ने कहा कि संवेदक की ओर से भवन को हैंड ओवर कर दिये जाने की स्थिति में अगले सप्ताह तक अग्निशमनकर्मी अपने नये भवन में शिफ्ट हो जायेंगे. कैनाल की स्थित का लिया जायजा वहीं सीडीपीओ कार्यालय के समीप एक चापाकल की व्यवस्था करने का भी मामला संज्ञान में आया है. इसके अलावे हरदिया पंचायत के फुलवरिया जलाशय में जलस्तर एवं कैनाल के बारे में सिंचाई विभाग के कार्यपालक अभियंता से महत्वपूर्ण जानकारी ली गयी है. जिलाधिकारी ने कहा कि फुलवरिया जलाशय से बहुद्देश्यीय जल परियोजना से 10 पंचायतों के कुल 90 गांवों को पेयजल भी उपलब्ध कराया जा रहा है. जिलाधिकारी ने कहा कि फुलवरिया जलाशय का जलस्तर नीचे चला गया है, जिसको लेकर विभागीय बातचीत की जायेगी. साथ किसानों के खेतों में पटवन के लिए डैम से निकले कैनाल का भी भौतिक स्थिति का जायजा लिया गया.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें