26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement
Live Blog

PM Modi in Bihar Live: पीएम मोदी ने नालंदा को बताया सम्मान का सूचक, यूनिवर्सिटी के नए कैंपस का किया लोकार्पण

PM Modi in Bihar Live: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज बिहार के राजगीर पहुंचकर नालंदा विश्वविद्यालय के नए कैंपस का उद्घाटन किया. पीएम मोदी ने प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय के पास नए परिसर का उद्घाटन किया. इससे पहले पीएम मोदी ने यूनिवर्सिटी की धरोहर देखी. इस कार्यक्रम में विदेश मंत्री एस जयशंकर और आसियान देशों के प्रतिनिधियों समेत 17 देशों के राजदूत भी शामिल हुए. विदेश मंत्री एस जयशंकर का स्वागत जिला मजिस्ट्रेट डॉ. त्यागराजन ने किया.बिहार के राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी प्रधानमंत्री के साथ कार्यक्रम में शामिल रहे.

लाइव अपडेट

PM Modi in Bihar Live: कई देशों के छात्र आ रहे हैं पढ़ने: मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हम सभी जानते हैं कि नालंदा कभी भारत की परंपरा और पहचान का जीवंत केंद्र हुआ करता था... शिक्षा को लेकर यही भारत की सोच रही है... शिक्षा ही हमें गढ़ती है, विचार देती है और उसे आकार देती है. प्राचीन नालंदा में बच्चों का प्रवेश उनकी पहचान, उनकी राष्ट्रीयता को देख कर नहीं होता था. हर देश हर वर्ग के युवा हैं यहां पर. नालंदा विश्वविद्यालय के इस नए परिसर में हमें उसी प्राचीन व्यवस्था को फिर से आधुनिक रूप में मजबूती देनी है और मुझे ये देख कर खुशी है कि दुनिया के कई देशों से आज यहां कई विद्यार्थी आने लगे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हम सभी जानते हैं कि नालंदा कभी भारत की परंपरा और पहचान का जीवंत केंद्र हुआ करता था. शिक्षा को लेकर यही भारत की सोच रही है... शिक्षा ही हमें गढ़ती है, विचार देती है और उसे आकार देती है.

PM Modi in Bihar Live: नया कैंपस, विश्व को भारत के सामर्थ्य का परिचय देगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि मैं बिहार के लोगों को भी बधाई देता हूं. बिहार अपने गौरव को वापस लाने के लिए जिस तरह विकास की राह पर आगे बढ़ रहा है, नालंदा का ये परिसर उसी की एक प्रेरणा है. नालंदा केवल भारत के ही अतीत का पुनर्जागरण नहीं है. इसमें विश्व के, एशिया के कितने ही देशों की विरासत जुड़ी हुई है. नालंदा यूनिवर्सिटी के पुनर्निर्माण में हमारे साथी देशों की भागीदारी भी रही है. मैं इस अवसर पर भारत के सभी मित्र देशों का अभिनंदन करता हूं. अपने प्राचीन अवशेषों के समीप नालंदा का नवजागरण. ये नया कैंपस, विश्व को भारत के सामर्थ्य का परिचय देगा.जो राष्ट्र, मजबूत मानवीय मूल्यों पर खड़े होते हैं... वो राष्ट्र इतिहास को पुनर्जीवित करके बेहतर भविष्य की नींव रखना जानते हैं.

PM Modi in Bihar Live: कई देशों के छात्र आ रहे हैं पढ़ने: मोदीप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हम सभी जानते हैं कि नालंदा कभी भारत की परंपरा और पहचान का जीवंत केंद्र हुआ करता था... शिक्षा को लेकर यही भारत की सोच रही है... शिक्षा ही हमें गढ़ती है, विचार देती है और उसे आकार देती है. प्राचीन नालंदा में बच्चों का प्रवेश उनकी पहचान, उनकी राष्ट्रीयता को देख कर नहीं होता था. हर देश हर वर्ग के युवा हैं यहां पर. नालंदा विश्वविद्यालय के इस नए परिसर में हमें उसी प्राचीन व्यवस्था को फिर से आधुनिक रूप में मजबूती देनी है और मुझे ये देख कर खुशी है कि दुनिया के कई देशों से आज यहां कई विद्यार्थी आने लगे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हम सभी जानते हैं कि नालंदा कभी भारत की परंपरा और पहचान का जीवंत केंद्र हुआ करता था. शिक्षा को लेकर यही भारत की सोच रही है... शिक्षा ही हमें गढ़ती है, विचार देती है और उसे आकार देती है.

PM Modi in Bihar Live: आग की लपटें किताबों को जला सकती हैं, ज्ञान को नष्ट नहीं कर सकती : मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन के दौरान कहा कि नालंदा का नवजागरण भारत के विकास का शुभ संकेत है. मोदी ने कहा कि नालंदा केवल भारत के अतीत का पुनरजागरण नहीं है, बल्कि यह एशिया या विश्व के कई देशों का पुनरजागरण है. मैं उन तमाम देशों को बधाई देता हूं. मोदी ने कहा कि नालंदा केवल एक नाम नहीं है. नालंदा पहचान है, गर्व है, गाथा है और मूल्य है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि नालंदा का नवजागरण भारत के विकास का शुभ संकेत है.इससे पहले नालंदा यूनिवर्सिटी के नए कैंपस का उद्घाटन करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि तीसरी बार प्रधानमंत्री का कार्यकाल संभालने के 10 दिनों के अंदर बिहार के नालंदा पहुंचा हूं. नालंदा आना मेरा सौभाग्य है. नालंदा एक नाम नहीं पहचान है. आग लपटों में भले ही किताबें जल गयी हो लेकिन ज्ञान नहीं मिटाया जा सकता है. नालंदा का यह नया कैंपस विश्व को भारत के सामर्थ्य का परिचय देगा.

PM Modi in Bihar Live: आग की लपटें किताबों को जला सकती हैं, ज्ञान को नष्ट नहीं कर सकती : मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि नालंदा का नवजागरण भारत के विकास का शुभ संकेत है. मोदी ने कहा कि नालंदा केवल भारत के अतीत का पुनरजागरण नहीं है, बल्कि यह एशिया या विश्व के कई देशों का पुनरजागरण है. मैं उन तमाम देशों को बधाई देता हूं. इससे पहले नालंदा यूनिवर्सिटी के नए कैंपस का उद्घाटन करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि तीसरी बार प्रधानमंत्री का कार्यकाल संभालने के 10 दिनों के अंदर बिहार के नालंदा पहुंचा हूं. नालंदा आना मेरा सौभाग्य है. नालंदा एक नाम नहीं पहचान है. आग लपटों में भले ही किताबें जल गयी हो लेकिन ज्ञान नहीं मिटाया जा सकता है. नालंदा का यह नया कैंपस विश्व को भारत के सामर्थ्य का परिचय देगा.

PM Modi in Bihar Live: पीएम मोदी का नालंदा आना बेहद खुशी की बात : नीतीश कुमार

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री का स्वागत किया. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के हाथों नालंदा यूनिवर्सिटी का उद्घाटन होना बहुत खुशी की बात है. वो इस अवसर पर उनका स्वागत और अभिनंदन करते हैं. नीतीश कुमार ने कहा कि पीएम मोदी पहली बार नालंदा आये हैं और उन्होंने विश्वविद्यालय के पुराने परिसर को भी देखा है. यह बड़ी खुशी की बात है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नये परिसर की परिकल्पना से लेकर इसके उद्घाटन तक के सफर को विस्तार से बताने का काम किया. उन्होंने कहा कि शिक्षा का यह सबसे पुराना केंद्र हैं. यह खुशी की बात है कि प्रधानमंत्री जी आप यहां आ गये.

नीतीश कुमार ने कहा कि पहले नालंदा विश्वविद्यालय का कैंपस कितना बड़ा था. अभी तक पुराने विश्वविद्यालय के कुछ हिस्सों की ही खुदाई हुई है. इस क्षेत्र के आसपास के 20-25 किलोमीटर के दायरे में आने वाले गांव भी इस विश्वविद्यालय से जुड़े रहे. नालंदा विश्वविद्यालय की पहचान ज्ञान के केंद्र के रूप में रही है. पुराने विश्वविद्यालय में करीब 10 हजार छात्र पढ़ते थे जबकि दो हजार शिक्षक बच्चों को पढ़ाते थे। देश ही नहीं दुनिया के अनेक जगहों के लोग यहां आकर पढ़ाई करते थे लेकिन दुर्भाग्यवश यह विश्वविद्यालय नष्ट हो गया था.

सीएम ने कहा कि साल 2005 से हम लोगों को काम करने का मौका मिला और तब से हमने बिहार के विकास का काम शुरू किया. 2006 में तत्कालीन राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम बिहार आए थे और विधानमंडल में अपने संबोधन के दौरान उन्होंने विश्वविद्यालय को फिर से स्थापित करने की बात कही थी. जिसके बाद सरकार ने विश्वविद्यालय को फिर से स्थापित करने की पहल शुरू की. केंद्र सरकार से हमने अनुरोध किया था लेकिन उस वक्त केंद्र में जो सरकार थी वह जल्दी कुछ सुन नहीं रही थी. जिसके बाद राज्य सरकार ने इसको लेकर नया कानून बनाया. राज्य सरकार ने नालंदा विश्वविद्यालय के लिए 455 एकड़ भूमि का अधिग्रहण किया था. 2008 में जब काम शुरू हुआ तो कलाम साहब उसे देखने के लिए फिर से आए थे.

सीएम नीतीश ने कहा कि 2010 में हमारे अनुरोध पर नालंदा विश्वविद्यालय के लिए लोकसभा में बिल पारित किया गया. उस समय तो सरकार दूसरे की थी लेकिन हमलोग इतना कहते रहे तब जाकर लोकसभा में उसे लाया गया. इसके बाद बिहार सरकार ने भूमि समेत अन्य चीजों को केंद्र सरकार को सौंप दिया था. इसके बाद विश्वविद्यालक का काम धीरे-धीरे होता रहा और साल 2014 से पढ़ाई शुरू हो गई. केंद्र में 2014 में एनडीए की सरकार बनी तो काम में और तेजी आई. 2016 में तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने विश्वविद्यालय के भवनों का शिलान्यास किया था.

PM Modi in Bihar Live: आग की लपटें किताबों को जला सकती हैं, ज्ञान को नष्ट नहीं कर सकती : मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि नालंदा का नवजागरण भारत के विकास का शुभ संकेत है. मोदी ने कहा कि नालंदा केवल भारत के अतीत का पुनरजागरण नहीं है, बल्कि यह एशिया या विश्व के कई देशों का पुनरजागरण है. मैं उन तमाम देशों को बधाई देता हूं. मोदी ने कहा कि नालंदा केवल एक नाम नहीं है. नालंदा सम्मान है, गर्व है, गाथा है और मूल्य है. इससे पहले मोदी ने कहा कि मेरे तीसरे कार्यकाल के शपथ ग्रहण के महज 10 दिनों के अंदर नालंदा आना मेरे लिए सौभाग्य की बात है.

PM Modi in Bihar Live: आग की लपटें किताबों को जला सकती हैं, ज्ञान को नष्ट नहीं कर सकती : मोदीपीएम नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन के दौरान कहा कि नालंदा का नवजागरण भारत के विकास का शुभ संकेत है. मोदी ने कहा कि नालंदा केवल भारत के अतीत का पुनरजागरण नहीं है, बल्कि यह एशिया या विश्व के कई देशों का पुनरजागरण है. मैं उन तमाम देशों को बधाई देता हूं. मोदी ने कहा कि नालंदा केवल एक नाम नहीं है. नालंदा पहचान है, गर्व है, गाथा है और मूल्य है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि नालंदा का नवजागरण भारत के विकास का शुभ संकेत है.इससे पहले नालंदा यूनिवर्सिटी के नए कैंपस का उद्घाटन करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि तीसरी बार प्रधानमंत्री का कार्यकाल संभालने के 10 दिनों के अंदर बिहार के नालंदा पहुंचा हूं. नालंदा आना मेरा सौभाग्य है. नालंदा एक नाम नहीं पहचान है. आग लपटों में भले ही किताबें जल गयी हो लेकिन ज्ञान नहीं मिटाया जा सकता है. नालंदा का यह नया कैंपस विश्व को भारत के सामर्थ्य का परिचय देगा.

PM Modi in Bihar Live: नालंदा यूनिवर्सिटी कैंपस का उद्घाटन

नालंदा विश्वविद्यालय के उद्घाटन से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक्स पर एक पोस्ट में लिखा, "यह हमारे शिक्षा क्षेत्र के लिए बहुत खास दिन है. नालंदा का हमारे गौरवशाली हिस्से से गहरा नाता है. यह विश्वविद्यालय निश्चित रूप से युवाओं की शैक्षिक आवश्यकताओं को पूरा करने में एक लंबा रास्ता तय करेगा." नालंदा यूनिवर्सिटी के नए कैंपस के उद्घाटन के बाद पीएम मोदी ने वहां पर एक पौधा भी लगाया. बता दें कि नालंदा यूनिवर्सिटी का इतिहास 1600 साल पुराना है.

PM Modi in Bihar Live: पीएम मोदी का नालंदा आना बेहद खुशी की बात : नीतीश कुमार

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री का स्वागत किया. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के हाथों नालंदा यूनिवर्सिटी का उद्घाटन होना बहुत खुशी की बात है. वो इस अवसर पर उनका स्वागत और अभिनंदन करते हैं. नीतीश कुमार ने कहा कि पीएम मोदी पहली बार नालंदा आये हैं और उन्होंने विश्वविद्यालय के पुराने परिसर को भी देखा है. यह बड़ी खुशी की बात है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नये परिसर की परिकल्पना से लेकर इसके उद्घाटन तक के सफर को विस्तार से बताने का काम किया. उन्होंने कहा कि शिक्षा का यह सबसे पुराना केंद्र हैं. यह खुशी की बात है कि प्रधानमंत्री जी आप यहां आ गये.

PM Modi in Bihar Live: पीएम मोदी का नालंदा आना बेहद खुशी की बात : नीतीश कुमारमुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री का स्वागत किया. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के हाथों नालंदा यूनिवर्सिटी का उद्घाटन होना बहुत खुशी की बात है. वो इस अवसर पर उनका स्वागत और अभिनंदन करते हैं. नीतीश कुमार ने कहा कि पीएम मोदी पहली बार नालंदा आये हैं और उन्होंने विश्वविद्यालय के पुराने परिसर को भी देखा है. यह बड़ी खुशी की बात है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नये परिसर की परिकल्पना से लेकर इसके उद्घाटन तक के सफर को विस्तार से बताने का काम किया. उन्होंने कहा कि शिक्षा का यह सबसे पुराना केंद्र हैं. यह खुशी की बात है कि प्रधानमंत्री जी आप यहां आ गये. नीतीश कुमार ने कहा कि पहले नालंदा विश्वविद्यालय का कैंपस कितना बड़ा था. अभी तक पुराने विश्वविद्यालय के कुछ हिस्सों की ही खुदाई हुई है. इस क्षेत्र के आसपास के 20-25 किलोमीटर के दायरे में आने वाले गांव भी इस विश्वविद्यालय से जुड़े रहे. नालंदा विश्वविद्यालय की पहचान ज्ञान के केंद्र के रूप में रही है. पुराने विश्वविद्यालय में करीब 10 हजार छात्र पढ़ते थे जबकि दो हजार शिक्षक बच्चों को पढ़ाते थे। देश ही नहीं दुनिया के अनेक जगहों के लोग यहां आकर पढ़ाई करते थे लेकिन दुर्भाग्यवश यह विश्वविद्यालय नष्ट हो गया था.सीएम ने कहा कि साल 2005 से हम लोगों को काम करने का मौका मिला और तब से हमने बिहार के विकास का काम शुरू किया. 2006 में तत्कालीन राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम बिहार आए थे और विधानमंडल में अपने संबोधन के दौरान उन्होंने विश्वविद्यालय को फिर से स्थापित करने की बात कही थी. जिसके बाद सरकार ने विश्वविद्यालय को फिर से स्थापित करने की पहल शुरू की. केंद्र सरकार से हमने अनुरोध किया था लेकिन उस वक्त केंद्र में जो सरकार थी वह जल्दी कुछ सुन नहीं रही थी. जिसके बाद राज्य सरकार ने इसको लेकर नया कानून बनाया. राज्य सरकार ने नालंदा विश्वविद्यालय के लिए 455 एकड़ भूमि का अधिग्रहण किया था. 2008 में जब काम शुरू हुआ तो कलाम साहब उसे देखने के लिए फिर से आए थे.सीएम नीतीश ने कहा कि 2010 में हमारे अनुरोध पर नालंदा विश्वविद्यालय के लिए लोकसभा में बिल पारित किया गया. उस समय तो सरकार दूसरे की थी लेकिन हमलोग इतना कहते रहे तब जाकर लोकसभा में उसे लाया गया. इसके बाद बिहार सरकार ने भूमि समेत अन्य चीजों को केंद्र सरकार को सौंप दिया था. इसके बाद विश्वविद्यालक का काम धीरे-धीरे होता रहा और साल 2014 से पढ़ाई शुरू हो गई. केंद्र में 2014 में एनडीए की सरकार बनी तो काम में और तेजी आई. 2016 में तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने विश्वविद्यालय के भवनों का शिलान्यास किया था.

नालंदा विवि के नवनिर्मित भवन का उद्घाटन करते पीएम मोदी। साथ में विदेश मंत्री एस जयशंकर ,राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर व सीएम नीतीश कुमार मौजूद हैं. पीएम मोदी को प्रतीक चिन्ह भेंट करते कुलपति अभय कुमार सिंह.

PM Modi in Bihar Live: पानी और बिजली को लेकर आत्मनिर्भर है नया परिसर

नालंदा यूनिवर्सिटी में दो अकेडमिक ब्लॉक हैं, जिनमें 40 क्लासरूम हैं. यहां पर कुल 1900 बच्चों के बैठने की व्यवस्था है. यूनिवर्सिटी में दो ऑडिटोरयम भी हैं जिसमें 300 सीटे हैं. इसके अलावा इंटरनेशनल सेंटर और एम्फीथिएटर भी बनाया गया है, जहां 2 हजार लोगों के बैठने की क्षमता है. यही नहीं, छात्रों के लिए फैकल्टी क्लब और स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स सहित कई अन्य सुविधाए भी हैं. नालंदा यूनिवर्सिटी का कैंपस 'NET ZERO' कैंपस हैं, इसका मतलब है कि यहां पर्यावरण अनुकूल के एक्टिविटी और शिक्षा होती है. कैंपस में पानी को रि-साइकल करने के लिए प्लांट लगाया गया है, 100 एकड़ की वॉटर बॉडीज के साथ-साथ कई सुविधाएं पर्यावरण के अनुकूल हैं.

PM Modi in Bihar Live: पीएम मोदी ने प्रकट की कई जिज्ञासा

प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय के भग्नावशेष का अवलोकन करने के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुराने विश्वविद्यालय को लेकर कई जिज्ञासा प्रकट किये. प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय के इतिहास और भूगोल की जानकारी भारतीय पुरातत्व विभाग के डायरेक्टर एस भट्टाचार्य प्रधानमंत्री को दी. गाइड उन्होंने प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय के खंडहर के बारे में बारिकी से जानकारी दे रहे हैं. पीएम मोदी पूरे परिसर का अवलोकन कर रहे हैं.

PM Modi in Bihar Live: पीएम मोदी के साथ राज्यपाल और मुख्यमंत्री भी मौजूद

नालंदा विश्वविद्यालय के उद्घाटन समारोह में प्रधानमंत्री के अलावा विदेश मंत्री एस जयशंकर, बिहार के राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एवं कई देशों के राजदूत,केंद्र व राज्य सरकारों के मंत्री और अन्य कई मौजूद हैं.

PM Modi in Bihar Live: पीएम मोदी ने प्रकट की कई जिज्ञासा

प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय के भग्नावशेष का अवलोकन करने के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुराने विश्वविद्यालय को लेकर कई जिज्ञासा प्रकट किये. प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय के इतिहास और भूगोल की जानकारी भारतीय पुरातत्व विभाग के डायरेक्टर एस भट्टाचार्य प्रधानमंत्री को दी.

PM Modi in Bihar Live: पीएम मोदी ने प्रकट की कई जिज्ञासा प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय के भग्नावशेष का अवलोकन करने के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुराने विश्वविद्यालय को लेकर कई जिज्ञासा प्रकट किये. प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय के इतिहास और भूगोल की जानकारी भारतीय पुरातत्व विभाग के डायरेक्टर एस भट्टाचार्य प्रधानमंत्री को दी. गाइड उन्होंने प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय के खंडहर के बारे में बारिकी से जानकारी दे रहे हैं. पीएम मोदी पूरे परिसर का अवलोकन कर रहे हैं.

PM Modi in Bihar Live: 2010 में हुई थी स्थापना

नालंदा विश्वविद्यालय की स्थापना 2010 में संसद द्वारा की गई थी. नालंदा विश्वविद्यालय को 2014 में भाजपा सरकार आनेके बाद बड़ा प्रोत्साहन मिला, जब इसने 14 छात्रों के साथ एक अस्थायी कैंपस सेकाम करना शुरू किया. विश्वविद्यालय का निर्माण कार्य 2017 में शुरू हुआ था. सरकार ने ऐसा संस्थान बनाने पर ध्यान केंद्रित किया जो आधुनिक दुनिया में प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय की प्रतिष्ठा को याद दिलाता हो. 5वीं शताब्दी में स्थापित नालंदा यूनिवर्सिटी दुनिया भर से छात्रों को आकर्षित करता था. 12वीं शताब्दी में आक्रमणकारियों द्वारा जलाने से पहले यह प्राचीन विश्वविद्यालय 800 वर्षों तक फलता-फूलता रहा.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें