सरकार के हर कार्य को जनता तक पहुंचाएं कार्यकर्ता

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

बीहट : जदयू के सबल पंचायत सक्रिय बूथ अभियान के तहत मटिहानी विधानसभा क्षेत्र के बूथ अध्यक्ष, सचिव एवं पंचायत अध्यक्षों का सम्मेलन बरौनी प्रखंड के केशावे स्थित स्मृतिशेष डेजी सिंह सभागार में शुक्रवार को हुआ. अध्यक्षता विधानसभा प्रभारी दिनेश तांती ने की. सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए संग़ठन के क्षेत्रीय प्रभारी डाॅ अमरदीप ने कहा कि संगठन में न कोई बड़ा होता हैं न ही छोटा. संगठन के पद पर रह कर हम सब को अपने दायित्व और कर्तव्य का निर्वहण जिम्मेदारी के साथ करनी चाहिए.

पार्टी से बड़ा कोई नहीं होता हैं. उन्होंने कहा कि जल्द ही बूथ स्तर पर 15 सदस्यीय कमेटी का गठन कर लें, जिसमें पचास प्रतिशत महिलाओं की भागीदारी भी सुनिश्चित करें. जिला संगठन प्रभारी दुर्गेश राय ने कहा कि कार्यकर्ता ही हमारी पूंजी हैं. इसी पूंजी के बल पर आगामी विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे.
मटिहानी विधायक नरेंद्र सिंह उर्फ बोगो सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लोक कल्याणकारी राज्य की स्थापना के लिए बुनियादी कदम उठाते हैं.जिसकी वजह से बिहार प्रगति के रास्ते पर बढ़ चला है. कार्यक्रम का संचालन जिला जदयू अध्यक्ष भूमिपाल राय ने करते हुए कहा कि.हर बूथ हमें जीतना है और इसके लिए हम बिहार सरकार के हर कार्य को जनता तक पहुंचाने का काम करें.
वहीं मौके पर विधानसभा प्रभारी रवींद्र निराला, नगर अध्यक्ष मुकेश जैन, बरौनी प्रखंड अध्यक्ष शंभु सिंह, संजीव कुमार, पांडव कुमार, प्रखंड प्रभारी रामराज महतो, मुक्तिनाथ, शाम्हो अध्यक्ष धर्मराज कुमार, अति पिछड़ा वर्ग महेश राय, मटिहानी विधायक प्रतिनिधि मो आजाद, विपिन कुमार, मुन्नी कुमारी, संतोष राय सहित अन्य ने भी सांगठनिक सम्मेलन को संबोधित किया.
नागरिकता बिल को लेकर फैलाया जा रहा है भ्रम: प्रेम कुमार
बेगूसराय: नागरिकता संशोधन बिल लोकसभा एवं राज्यसभा से पास हुआ. यह बिल विभिन्न देशों में प्रताड़ित हो रहे लोगों को नागरिता देने के लिए है. कांग्रेस पार्टी समेत अन्य विपक्षी पार्टियों द्वारा इसके खिलाफ आंदोलन, प्रदर्शन एवं आमलोगों को बरगलाकर प्रदर्शन करवा रहे हैं.
उक्त बातें शुक्रवार को बाघा अवस्थित जिला भाजपा कार्यालय में सूबे के कृषि मंत्री प्रेम कुमार ने कहीं. उन्होंने कहा कि इस बिल से किसी की नागरिकता समाप्त होने वाली नहीं है. इस बिल के बारे में लोगों को समझने की आवश्यकता है.आमलोगों को नागरिकता संशोधन बिल की वास्तविकता के बारे में जानकारी देने के उद्देश्य से हम यहां आये हैं.
यह कार्यक्रम सूबे में कुल एक हजार स्थानों पर आयोजित कर लोगों को इस बिल की वास्तविकता के बारे में बतायी जायेगी. उन्होंने बताया कि इंदिरा जी ने वर्ष 1971 में बांग्लादेश के शरणार्थियों को स्वीकारा उस वक्त श्रीलंका के शरणार्थियों को क्यों नहीं स्वीकारा था. समस्याओं को उचित समय पर ही सुलझाया जा सकता है. कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी पार्टी इसे राजनीतिक रंग दे रही है.भाजपा पार्टी देश में अच्छे-अच्छे कार्य कर और सशक्त हो रही है.
इस वजह से विपक्षी पार्टी इस बिल को बिना समझे- बुझे इसका कुप्रचार कर रहे हैं कि भारत से मुसलमानों की नागरिकता समाप्त कर दी जायेगी. प्रेसवार्ता में भाजपा जिलाध्यक्ष राजकिशोर सिंह, निवर्तमान जिलाध्यक्ष संजय सिंह, सुमीत सन्नी समेत अन्य मौजूद थे.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें