1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. muzaffarpur
  5. coronavirus in bihar latest news update husband dies after hearing news of corona infection in muzaffarpur

Coronavirus in Bihar: पत्नी को कोरोना संक्रमण की खबर सुन पति की मौत, श्मशान में सात घंटे पड़ा रहा शव

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
 पत्नी को कोरोना संक्रमण की खबर सुन पति की मौत
पत्नी को कोरोना संक्रमण की खबर सुन पति की मौत
प्रभात खबर

मुजफ्फरपुर : सरैया थाना क्षेत्र के गोरीगामाडीह पंचायत के आनंदपुर गंगौलिया गांव में कोरोना काल में शनिवार को मानवता को शर्मशार करने वाली घटना हुई. पत्नी कोरोना पॉजिटिव आयी, तो पति की हर्ट अटैक से मौत हो गयी. पति की रिपोर्ट निगेटिव थी, लेकिन उनके शव का दाह संस्कार भी नहीं हाे सका. सात घंटे के इंतजार के बाद जैसे तैसे शव को दफनाया गया. गांव का कोई व्यक्ति देखने तक भी नहीं आया. मुखाग्नि के नाम पर मृतक के भाई ने बांस के लंबे डंडे से विधि की. उसके बाद शव को दफना दिया गया. यहीं नहीं, परिजनों ने मृतक की पत्नी को गांव के घर में घुसने नहीं दिया. अधिकारियों के सहयोग से पत्नी को तुर्की स्थित कोविड अस्पताल भेजा गया. मृतक के पुत्र के जयपुर रहने के कारण दोनों दामाद भी इस पूरी प्रक्रिया से दूर रहे.

बताया जाता है कि आनंदपुर गंगौलिया 60 साल के एक वृद्ध को सात दिनों से सर्दी खांसी, बुखार व सांस लेने में दिक्कत हो रही थी. सरैया सीएचसी में पति -पत्नी ने बुधवार को कोरोना का जांच कराया. जांच में पत्नी पॉजिटिव निकली. पति की रिपोर्ट निगेटिव आयी. स्वास्थ्य में सुधार नहीं होने पर शनिवार की सुबह सरकारी एंबुलेंस से पत्नी को एसकेएमसीएच भेजा गया. इलाज शुरू होने से पहले ही पति की हर्ट अटैक से मौत हो गयी. चिकित्सकों ने पुनः जांच में कोरोना निगेटिव बताते हुए शव को एंबुलेंस से घर भेज दिया.

पत्नी के कोरोना पॉजिटिव होने को लेकर कुछ गांव वाले शव का दाह संस्कार करने से मना कर दिया. नदी में शव को फेंक देने की बात कहने लगे. इसी क्रम में शव एंबुलेंस में लगभग सात घंटे तक पड़ा रहा. मृतक के साले के बहुत मिन्नत करने के बाद भी कोई शव को गाड़ी से उतारने के लिए कोई तैयार नहीं हुआ. इसके बाद रात में दूसरे गांव से एक व्यक्ति के पहुंचने पर शव को नीचे उतारा गया. बीडीओ सरैया डॉ बीएन सिंह की पहल पर मुखिया ने एक जेसीबी से गहरा गड्ढा खोदावाया.

अंततः मृत व्यक्ति के साले व दूसरे व्यक्ति ने पोखरैरा निवासी रालोसपा नेता प्रकाश कुमार, स्थानीय डीलर पुत्र लड्डू ठाकुर व तीन अन्य की उपस्थिति में काफी प्रयास के बाद शव को गड्ढे में डाला. गांव के किसी व्यक्ति ने कुदाल नहीं दिया,तो लोगों ने हाथ से ही गड्ढे में मिट्टी डाली. शनिवार की देर रात काफी तेज वर्षा होने के कारण शव का कुछ भाग दिखने लगा. इससे स्थानीय लोग आक्रोशित हो गये और सरैया तुर्की पथ में आनंदपुर गंगौलिया में श्मशान घाट के समीप सड़क जाम कर दिया. विधायक अशोक कुमार सिंह के अनुज मुन्ना सिंह, उपप्रमुख तारकेश्वर चौधरी, पंसस रमेश सिंह, बिन्नू ठाकुर के सहयोग से शव पर जेसीबी से मिट्टी डाला गया. उसके बाद यातायात शुरू हुआ.

Posted By : Rajat Kuamar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें