1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. muzaffarpur
  5. bihar flood 2021 news bagmati water level upheaval as 500 families take shelter in dam food and water crisis during bihar me badh 2021 news skt

Bihar News: बागमती में आये उफान ने शुरु की तबाही, 500 परिवारों ने बांध पर ली शरण, खाने-पीने का मंडराया संकट

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बांध पर पहुंचे ग्रामीण
बांध पर पहुंचे ग्रामीण
प्रभात खबर

बागमती में आये उफान ने अब कटरा व औराई क्षेत्र में तबाही शुरू कर दी है. रविवार की दोपहर तक औराई प्रखंड के चैनपुर व बहुआरा गांव के करीब 500 परिवार छोटे-छोटे बच्चों व महिलाओं के साथ कटौंझा से अतरार तक बने बांध पर पहुंच गए हैं. बांध पर एक तरफ लोग अस्थायी झोपड़ी बना रहे हैं, तो बच्चे खुले आसमान के नीचे बैठकर माता-पिता को झोपड़ी बनाते देख रहे हैं. इनमें से कुछ अपनी नन्हीं हाथों से उन्हें मदद करने की कोशिश भी करते हैं. बांध पर शरण लेने वालों के सामने खाने- पीने का भी संकट है. कई परिवार नदी के पानी से घिरे मकान से सामान को सुरक्षित निकालने में लगे हैं. बागमती का जलस्तर अचानक बढ़ने से दर्जनों गांवों के लोगों की दिनचर्या प्रभावित हो गयी है.

चचरी का पुल बहा, अब नाव का ही सहारा

औराई प्रखंड के अतरार व बहुआरा में बना चचरी का पुल बह गया है. रविवार की सुबह बहुआरा के ग्रामीण खुद ही चचरी पुल की मरम्मत कर रहे थे. दोनों चचरी पुल टूट जाने से लोगों को तमाम तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. बाजार से सामान लाने या खेत से चारा लाने में अब नाव का ही सहारा है. शासन-प्रशासन की तरफ से ग्रामीणों को शाम तक किसी तरह की मदद नहीं मिली थी. सभी लोग अपने निजी संसाधनों से ही अपनी जरूरतें पूरी करने में जुटे थे.

Bihar News: बागमती में आये उफान ने शुरु की तबाही, 500 परिवारों ने बांध पर ली शरण, खाने-पीने का मंडराया संकट

बहुआरा चचरी पुल खुद बना रहे थे ग्रामीण

बहुआरा में चचरी पुल की मरम्मत को लेकर ग्रामीण खुद ही लगे थे. पुरुषों व युवकों के साथ बच्चे भी उनके काम में हाथ बंटा रहे थे. ग्रामीणों का कहना था कि चचरी पुल से उन्हें न जाने कब मुक्ति मिलेगी. कोई सरकारी या प्रशासनिक स्तर से मदद भी नहीं मिलती. यह पुल खुद से ही बनाये हैं. अब टूट गया तो मरम्मत भी खुद ही करना है.

पीपा पुल के दोनों तरफ कटाव तेज

कटरा पीपा पुल के दोनों तरफ नदी की धारा से तेजी से कटाव हो रहा है. हालांकि दोपहर में ग्रामीण खुद ही पीपा पुल की मरम्मत में जुट गये थे, ताकि किसी तरह आवागमन चालू हो सके. पुल से पैदल, साइकिल या बाइक से आवागमन शुरू हुआ, जिससे लोगों को कुछ राहत मिल सकी. पुल क्षतिग्रस्त होने के कारण तीन पहिया व चार पहिया वाहनों का आवागमन रोक दिया गया है. बागमती में आये उफान ने शुरु की तबाही तथा News in Hindi से अपडेट के लिए बने रहें।

POSTED BY: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें