1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. munger
  5. sanjeev killed in illicit relationship with bhabhi in munger ksl

Munger: संजीव के लिए काल बना ममेरी भाभी से अवैध संबंध, शादी से पहले गंवानी पड़ी जान

जिले के धरहरा प्रखंड के लापता युवक संजीव का शव पंहुचते ही कोहराम मच गया. बताया जाता है कि उसकी शादी तय हो गयी थी. लेकिन, ममेरी भाभी के साथ अवैध संबंध के कारण उसकी हत्या कर दी गयी.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Munger: सांकेतिक तस्वीर
Munger: सांकेतिक तस्वीर
फाइल फोटो

Munger: जिले के धरहरा प्रखंड की सारोबाग पंचायत के बड़ी गोविंदपुर गांव निवासी लापता 22 वर्षीय युवक संजीव कुमार उर्फ छोटू का शव सोमवार की दोपहर बांका से सारोबाग स्थित घर पहुंचा. शव पंहुचते ही परिजनों में कोहराम मच गया. मामले में पुलिस ने एक महिला को भी गिरफ्तार किया है. घटना को लेकर धरहरा प्रखंड में चर्चा का बाजार गर्म है.

महिला से अवैध संबंध में संजीव की गई जान

बताया जाता है कि मृतक संजीव उर्फ छोटू का आरोपित नीतू से पूर्व से अवैध संबंध था. वह महिला से पैसों का लेन-देन भी करता था. उक्त महिला मृतक की दूर के रिश्ते में भाभी लगती है. इधर, मृतक का माताडीह पहाड़पुर गांव में विवाह होना तय हो गया था. जिसके बाद वह अपनी शादी की तैयारी कर रहा था और आरोपित महिला को दिये पैसे उससे वापस मांग रहा था. इस दौरान 20 अप्रैल को महिला ने उसके मोबाइल पर कॉल किया और पैसा लौटाने की बात कह अकेले मिलने बांका के फतेहपुर किशनपुर अपने गांव में बुलायी. संजीव जब वहां गया, तो महिला और उसके पति ने उसकी हत्या कर शव को नदी में फेंक दिया.

गमछी से गला दबा कर की गयी हत्या

मृतक के भाई मनीष यादव ने बताया कि 20 अप्रैल को मृतक बांका जिले के रजौन थाना क्षेत्र अंतर्गत फतेहपुर किशनपुर जाने की बात कह कर घर से निकला था. वहां पंहुचने पर उसी रात संजीव यादव की हत्या कर दी गयी. हत्या के बाद शव को रजौन अमरपुर बॉर्डर के चानन नदी में फेंक कर सभी फरार हो गये. विगत 23 अप्रैल को रजौन थाना पुलिस ने चानन नदी से एक शव को बरामद किया. इसकी सूचना धरहरा थाना पुलिस को दी. इसके बाद स्थानीय पुलिस मृतक के परिजनों को लेकर पहचान के लिए बांका पंहुची. यहां सड़े-गले अवस्था में शव की पहचान करने में परिजनों के रोंगटे खड़े हो गये. पहचान के बाद जब घर वालों को हत्या की जानकारी दी गयी, तो विवाह का माहौल मातम में तब्दील हो गया.

तीन भाईयों में संजीव था छोटा

मृतक तीन भाइयों में सबसे छोटा था और ऑटो चालक का काम करता था. अवैध संबंध और पैसों के लेन-देन में संजीव की हत्या की साजिश उसकी ममेरी भाभी और भाई ने रची. बेटे की मौत के बाद पिता नरेश यादव और माता शुशीला देवी का रो-रो कर बुरा हाल है. इधर, रजौन थानाध्यक्ष मनोज कुमार के बयान पर अज्ञात के खिलाफ हत्या की प्राथमिकी दर्ज की गयी. साथ ही इस मामले में पुलिस ने फतेहपुर निवासी नीतू को गिरफ्तार कर लिया.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें